अश्वगंधा से तैयार दवा पर ब्रिटेन करेगा रिसर्च: पोस्ट व लॉन्ग कोविड की दवा पर एमओयू, भारतीयों में अश्वगंधा कई परीक्षणों में रही है प्रभावी


  • Hindi News
  • National
  • MoU On Post And Long Covid Medicine, Ashwagandha Has Been Effective In Many Trials Among Indians

नई दिल्ली19 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

ब्रिटेन के शहरों में पोस्ट और लॉन्ग कोविड मरीजों पर अध्ययन होगा।

अश्वगंधा से तैयार आयुर्वेदिक दवा से पोस्ट और लॉन्ग कोविड के मरीजों को बहुत फायदा हुआ है, यह भारत में हुए अलग-अलग अध्ययनों से साबित हुआ है। भारत में सफलता मिलने के बाद अब पहली बार देश से बाहर के कोविड मरीजों पर इसका अध्ययन किया जाएगा। इसके लिए भारत और ब्रिटेन के बीच एक समझौता हुआ है।

16 महीने और 100 से ज्यादा बैठकों के बाद आयुष मंत्रालय की अखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान (एआईआईए) और ब्रिटेन के लंदन स्कूल ऑफ हाइजीन एंड ट्रॉपिकल मेडिसिन ने इस दवा का ब्रिटेन के तीन शहरों में पोस्ट कोविड मरीजों पर अध्ययन करने का निर्णय लिया है।

एआईआईए की निदेशक और परियोजना में सह-अन्वेषक डॉ तनुजा मनोज नेसारी ने बताया कि अगले 90 दिनों में ब्रिटेन के लीसेस्टर, बर्मिंघम और लंदन में दो हजार पोस्ट और लॉन्ग कोविड मरीजों पर अध्ययन होगा। एक-एक हजार के दो समूह बना कर अध्ययन किया जाएगा।

इसके बाद दोनों समूहों का अगले 90 दिनों तक तुलनात्मक अध्ययन किया जाएगा। डॉ. नेसारी ने बताया कि हाल ही में, भारत में मनुष्यों में अश्वगंधा कई परीक्षणों में प्रभावी रही है। अभी तक के अध्ययनों से यह साबित हुआ है कि अश्वगंधा कोविड-19 के दीर्घकालिक लक्षणों को कम करने के लिए संभावित चिकित्सीय विकल्प है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *