इजराइल एंबेसी ब्लास्ट केस में अहम सबूत: CCTV फुटेज में बम रखने वाले 2 संदिग्ध दिखाई दिए, NIA ने 10 लाख रुपए का इनाम रखा



नई दिल्ली18 मिनट पहले

सूत्रों के मुताबिक, दोनों जामिया नगर से ऑटो से आए थे और विस्फोटक रखने के बाद अकबर रोड होते हुए ऑटो से चले गए।

दिल्ली में इजराइल एंबेसी के बाहर विस्फोटक रखने वाले 2 संदिग्धों का CCTV फुटेज सामने आया है। दोनों पर NIA ने 10 लाख का इनाम घोषित कर दिया है। सूत्रों के मुताबिक दोनों जामिया नगर से ऑटो से आए थे और विस्फोटक रखने के बाद अकबर रोड होते हुए ऑटो से चले गए।

धमाके में ईरान का हाथ होने का शक
धमाके वाली जगह से एक लेटर मिला था। इसमें लिखा था कि ‘ये तो ट्रेलर है’। जानकारी के मुताबिक, मौके से मिले लेटर में 2020 में मारे गए कासिम सुलेमानी और ईरान के न्यूक्लियर वैज्ञानिक मोहसिन फखरीजादेह का भी जिक्र था।

जांच एजेंसियों को इस घटना के पीछे ईरान का हाथ होने का शक है। ब्लास्ट वाली जगह पर मिले लेटर में कासिम सुलेमानी का जिक्र था। कासिम ईरान का सबसे ताकतवर कमांडर था। वह अमेरिका के हवाई हमले में मारा गया था।

ब्लास्ट की जगह से बस 2 किमी. दूर थे राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री
29 जनवरी को नई दिल्ली के डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम रोड पर जिंदल हाउस के पास इजराइल दूतावास के पास शाम करीब 5 बजे ब्लास्ट हुआ था। यह जगह विजय चौक से करीब 2 किलोमीटर दूर है। ब्लास्ट के वक्त विजय चौक पर बीटिंग रिट्रीट चल रही थी। इसमें राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, रक्षा मंत्री समेत कई VVIP मौजूद थे।

दूतावास की इमारत से करीब 150 मीटर दूर हुए इस ब्लास्ट में कोई घायल नहीं हुआ, लेकिन आसपास खड़ी कारों को नुकसान पहुंचा था।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *