इतिहास में आज: सचिन ने आज पूरा किया था शतकों का महाशतक, नौ साल बाद भी कोई इस रिकॉर्ड के आसपास नहीं पहुंच सका


  • Hindi News
  • National
  • Today History: Aaj Ka Itihas 16 March Update | Sachin Tendulkar 100th International Century Record, India Polio Free Date Interesting Facts

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

34 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

आज ही के दिन 2012 में सचिन तेंदुलकर ने ऐसा रिकॉर्ड बनाया, जिसे आज तक कोई नहीं तोड़ पाया है। एशिया कप में भारत और बांग्लादेश के बीच मुकाबला था। इस मैच में सचिन ने करियर का 100वां शतक लगाया। मौजूदा प्लेयर्स में सिर्फ विराट कोहली ही इस रिकॉर्ड के थोड़े पास हैं, लेकिन उन्हें भी इसे तोड़ने के लिए 31 शतक और लगाने हैं।

सचिन करियर का 462वां वनडे मैच खेलने उतरे थे। टॉस हारने के बाद भारत ने पहले बैटिंग शुरू की। सचिन के साथ गौतम गंभीर क्रीज पर उतरे। महज 25 के स्कोर पर गंभीर आउट हो गए, लेकिन इसके बाद सचिन ने पहले विराट कोहली फिर सुरेश रैना के साथ दो अहम साझेदारियां करके भारत का स्कोर 250 के पार पहुंचा दिया, साथ ही अपना 100वां शतक भी पूरा किया। पारी के दौरान सचिन ने 147 गेंदों पर 114 रन बनाए। सचिन के शतक और कोहली, रैना के अर्धशतक की मदद से भारत ने बांग्लादेश को 290 रन का टारगेट दिया।

बांग्लादेश ने चार गेंद बाकी रहते जीत के लिए जरूरी रन बना लिए। सचिन का ये शतक भारत को जीत नहीं दिला सका। बांग्लादेश के लिए तमीम इकबाल (70), जहुरुल इस्लाम (53) और नासिर हुसैन (54) ने अर्धशतक लगाए। आखिरी ओवरों में शाकिब अल हसन ने महज 31 गेंद में 49 और मुशफिकुर रहीम ने 25 गेंद में नाबाद 46 रन बनाकर बांग्लादेश को जीत दिलाई। शाकिब मैन ऑफ दि मैच रहे।

दो दिन बाद सचिन ने करियर का आखिरी वनडे खेला

इसी सीरीज का अगला मैच भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ खेला। इस मैच में भारत को जीत मिली। 18 मार्च को खेला गया ये मैच सचिन के वनडे करियर 463वां और आखिरी मैच था। इस मैच में सचिन ने 52 रन बनाए थे। इसमें भारत ने विराट कोहली के 183 रनों की मदद से 330 रन का टारगेट चेज किया और जीत दर्ज की।

इराक ने कुर्दों पर किया था सबसे घातक केमिकल अटैक

इराक-ईरान के बीच 1980 से युद्ध चल रहा था। हजारों लोगों मारे जा चुके थे, लेकिन 16 मार्च 1988 को जो हुआ, वो इतिहास की सबसे क्रूरतम घटनाओं में शामिल हो गया। सुबह 11 बजे के आसपास इराकी सेना ने ईरान की सीमा से लगे शहर हेलबजा पर केमिकल अटैक कर दिया। सेना ने मस्टर्ड गैस को हवा में घोल दिया।

हमले में हजारों लोग पलक झपकते ही मौत के मुंह में समा गए। 5,000 से भी ज्यादा लोग मारे गए और 10,000 से भी ज्यादा जिंदगीभर के लिए किसी न किसी बीमारी का शिकार हो गए। केमिकल इतना घातक था कि अगली पीढ़ियों तक में इसका असर देखने को मिला।

हेलबजा शहर इराक-ईरान की सीमा पर है। यहां ज्यादातर कुर्द लोग रहते थे, जो इराक में सद्दाम हुसैन के शासन से नाखुश थे। जब ईरान की सेना इस इलाके में घुसी तो स्थानीय कुर्दों ने उनका स्वागत किया। ये बात तानाशाह सद्दाम को नागवार गुजरी। सद्दाम ने कुर्दों को सबक सिखाने का फैसला लिया। ये हमला उसी नफरत का नतीजा था।

जो लोग केमिकल के अटैक से बचने के लिए भागने की कोशिश कर रहे थे, उन पर इराकी सेना ने केमिकल डालकर रास्ते में मार दिया।

जो लोग केमिकल के अटैक से बचने के लिए भागने की कोशिश कर रहे थे, उन पर इराकी सेना ने केमिकल डालकर रास्ते में मार दिया।

आज ही के दिन दी गई थी पोलियो की पहली खुराक

साल 2014 का मार्च महीना भारत के लिए बड़ी उपलब्धि लेकर आया। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भारत को पोलियो-मुक्त देश घोषित कर दिया। भारत के लिए ये 19 सालों की लंबी लड़ाई का नतीजा था। इस लड़ाई का पहला अध्याय साल 1995 में आज ही के दिन लिखा गया था। 16 मार्च 1995 को भारत में पोलियो की ओरल वैक्सीन का पहला डोज दिया गया था।

भारत के पल्स पोलियो अभियान को दुनिया के सबसे सफल टीकाकरण अभियान के तौर पर गिना जाता है। टीकाकरण के प्रति जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से हर साल 16 मार्च को राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस मनाया जाता है।

मार्च 2014 में देश को पोलियो मुक्त घोषित किया गया।

मार्च 2014 में देश को पोलियो मुक्त घोषित किया गया।

देश-दुनिया में 16 मार्च की अन्य महत्वपूर्ण घटनाएं इस प्रकार हैं-

2014: क्रीमिया में यूक्रेन से अलग होने और रूस के साथ जाने के लिए जनमत संग्रह हुआ। कई देशों के विरोध के बाद भी रूस ने जनमत संग्रह के बाद क्रीमिया को अपने में मिला लिया।

2007: दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज हर्षल गिब्स ने एक ओवर में छह छक्के लगाकर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया। गिब्स ने 2007 वनडे वर्ल्ड कप के दौरान नीदरलैंड के खिलाफ खेले गए मैच में डान वैन बंज की छह गेंदों पर छह छक्के लगाए।

1968: वियतनाम युद्ध के समय अमेरिकी सेनाओं ने सैकड़ों निर्दोष लोगों को मौत के घाट उतार दिया।

1945: दूसरे विश्व युद्ध के दौरान जापानी आईलैंड ईओ जीमा पर अमेरिकी नौसेना ने कब्जा कर लिया।

1945: दूसरे विश्व युद्ध के दौरान जर्मनी के वर्जबर्ग शहर पर ब्रिटेन ने हवाई हमला किया। 20 मिनट की बमबारी में इस शहर का 90% हिस्सा तबाह हो गया था।

1926: दुनिया का पहला लिक्विड फ्यूल्ड रॉकेट लॉन्च किया गया। अमेरिकी इंजीनियर रॉबर्ड गोलार्ड ने लॉन्च किया। इसमें लिक्विड ऑक्सीजन और गैसोलीन का प्रयोग किया गया था।

1910: इफ्तिखार अली खान पटौदी का जन्म हुआ। उन्होंने इंग्लैंड और भारत के लिए क्रिकेट खेला। उनके बेटे मंसूर अली खान पटौदी भारत के सबसे युवा टेस्ट कप्तान रहे।

1799: मशहूर फोटोग्राफर एना एटकिन्स का जन्म हुआ। उन्होंने पहली ऐसी किताब पब्लिश की थी जिसमें कैमरे से ली गई फोटो का इस्तेमाल किया गया था।

1751: अमेरिका के चौथे राष्ट्रपति जेम्स मैडिसन का वर्जीनिया में जन्म हुआ।

1693: इंदौर के होल्कर राजघराने के संस्थापक मल्हारराव होल्कर का जन्म हुआ।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *