इतिहास में आज: 1977 के लोकसभा चुनाव में इंदिरा और उनके बेटे संजय की हार के साथ खत्म हुआ 21 महीने चला आपातकाल


  • Hindi News
  • National
  • Today History: Aaj Ka Itihas 21 March India World Facts Update | Twitter First Tweet And Indira Gandhi Emergency End Date

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

9 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

1977 में आज ही के दिन देश में 21 महीने से चल रहा आपातकाल खत्म हुआ था। 26 जून 1975 की सुबह इंदिरा गांधी ने रेडियो से आपातकाल लगाने का ऐलान किया। उनके इस ऐलान के कुछ घंटे पहले ही 25 और 26 जून की दरमियानी रात को इमरजेंसी के आदेश पर राष्ट्रपति फखरुद्दीन अली अहमद दस्तखत कर चुके थे। इसके साथ ही देश में आपातकाल लागू हो चुका था।

क्यों लगाया गया था आपातकाल ?
आपातकाल की जड़ें 1971 में हुए लोकसभा चुनाव से जुड़ी हुई हैं, जब इंदिरा गांधी ने रायबरेली सीट से राजनारायण को हराया था। लेकिन राजनारायण ने हार नहीं मानी और चुनाव में धांधली का आरोप लगाते हुए हाईकोर्ट में फैसले को चैलेंज किया। 12 जून, 1975 को इलाहाबाद हाईकोर्ट के जस्टिस जगमोहन लाल सिन्हा ने इंदिरा गांधी का चुनाव निरस्त कर छह साल तक चुनाव लड़ने पर प्रतिबंध लगा दिया। कोर्ट के फैसले के बाद इंदिरा गांधी पर विपक्ष ने इस्तीफे का दबाव बनाया, लेकिन उन्होंने इस्तीफा देने से इनकार कर दिया।

चुनाव में इंदिरा और संजय गांधी की हार और जनता पार्टी की सरकार
जयप्रकाश नारायण ने इंदिरा के खिलाफ मोर्चा खोल रखा था। आपातकाल के जरिए इंदिरा गांधी ने उसी विरोध को शांत करने की कोशिश की, हालांकि 19 महीने बाद 18 जनवरी 1977 को इंदिरा ने अचानक ही मार्च में लोकसभा चुनाव कराने का ऐलान कर दिया। 16 मार्च को हुए चुनाव में इंदिरा और संजय दोनों हार गए। 21 मार्च को आपातकाल खत्म हो गया। कांग्रेस महज 153 सीटों पर सिमट गई और देश में जनता पार्टी की सरकार बनी। 24 मार्च को मोरारजी देसाई ने देश के चौथे प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली।

जब शीत युद्ध के कारण 66 देशों ने ओलिंपिक का बॉयकॉट किया
आज ही के दिन 1980 में अमेरिकी राष्ट्रपति जिमी कार्टर ने ऐलान किया कि उनका देश 1980 के मॉस्को ओलिंपिक का बॉयकॉट करेगा। अमेरिका ने ये बॉयकॉट सोवियत संघ के अफगानिस्तान पर हमले के विरोध में किया। अमेरिका के समर्थन में पाकिस्तान, बांग्लादेश, अर्जेंटीना और जापान जैसे 65 और देशों ने इन खेलों में हिस्सा नहीं लिया था। शीत युद्ध के दौर में अमेरिका के इस एक्शन का रिएक्शन 1984 के ओलिंपिक में दिखा, जब सोवियत संघ ने अमेरिका के लॉस एंजिल्स में होने वाले ओलिंपिक खेलों के बॉयकॉट का ऐलान किया। सोवियत संघ के साथ कुल 14 देशों ने इस खेल में हिस्सा नहीं लिया। इसके अलावा तीन देश ईरान, अल्बानिया और लीबिया ने भी इन खेलों में हिस्सा नहीं लिया। हालांकि, ये तीनों देश सोवियत गुट का हिस्सा नहीं थे।

आज ही के दिन 1954 में पहली बार फिल्मफेयर अवॉर्ड दिए गए। बेस्ट एक्टर दिलीप कुमार, बेस्ट एक्ट्रेस मीना कुमारी, बेस्ट डायरेक्टर बिमल रॉय और बेस्ट म्यूजिक डायरेक्टर नौशाद।(बाएं से दाएं)

आज ही के दिन 1954 में पहली बार फिल्मफेयर अवॉर्ड दिए गए। बेस्ट एक्टर दिलीप कुमार, बेस्ट एक्ट्रेस मीना कुमारी, बेस्ट डायरेक्टर बिमल रॉय और बेस्ट म्यूजिक डायरेक्टर नौशाद।(बाएं से दाएं)

पहले फिल्मफेयर अवॉर्ड दिए गए
आज ही के दिन 1954 में पहली बार फिल्मफेयर अवॉर्ड दिए गए। पहली बार सिर्फ 5 कैटेगरी में अवॉर्ड दिए गए। दो बीघा जमीन को बेस्ट फिल्म, इस फिल्म के डायरेक्टर बिमल रॉय को बेस्ट डायरेक्टर का अवॉर्ड मिला था। बैजू बावरा की एक्ट्रेस मीना कुमारी बेस्ट एक्ट्रेस, इसी फिल्म के गाने ‘तू गंगा की मौज मैं जमुना की धारा…’ के लिए नौशाद को बेस्ट म्यूजिक का अवॉर्ड मिला था। दिलीप कुमार को दाग फिल्म के लिए बेस्ट एक्टर का अवॉर्ड मिला था।

21 मार्च को देश-दुनिया में इन घटनाओं के लिए भी याद किया जाता है-

2006: ट्विटर पर पहला ट्वीट हुआ। इसे ट्विटर के को-फाउंडर जैक डॉर्से ने किया था। इस ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘just setting up my twttr’ यानी ‘बस अपने ट्विटर की स्थापना कर रहा हूं’।

2000: ताइवान की संसद ने चीन के साथ सीधे तौर पर व्यापार और परिवहन पर पिछले 50 सालों से चले आ रहे प्रतिबंध को समाप्त किया।

1990: दक्षिण अफ्रीका से आजाद होकर नामीबिया एक स्वतंत्र देश बना। 106 साल तक नामीबिया पर जर्मन और दक्षिण अफ्रीकी शासन रहा।

1978: एक्ट्रेस रानी मुखर्जी का जन्म हुआ। राजा की आएगी बारात फिल्म से करियर शुरू करने वाली रानी ने गुलाम, कुछ कुछ होता है, ब्लैक, हम तुम और मर्दानी जैसी फिल्में की हैं।

1963: दुनिया की सबसे खतरनाक जेलों में शामिल अलकतरा जेल बंद कर दी गई। ये जेल सैन फ्रांसिस्को खाड़ी के अलकतरा आईलैंड पर बनी थी।

1960: दक्षिण अफ्रीका के शहर शार्पविल में गोरी पुलिस ने रंगभेद के खिलाफ शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन कर रहे काले लोगों के एक समूह पर गोलियां बरसाई। इस गोलीबारी में 69 लोगों की जान गई।

1935: फारसी भाषा वाले देश फारस का नाम आज ही के दिन बदल कर ईरान किया गया। नाम बदलने का प्रस्ताव जर्मनी में ईरान के राजदूत की तरफ से आया था।

1916: शहनाई वादक बिस्मिल्ला खान का जन्म हुआ। 2001 में उन्हें भारत के सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया गया। भारत रत्न से सम्मानित होने वाले वो तीसरे संगीतकार थे।

1857: जापान की राजधानी टोक्यो में आए विध्वंसक भूकंप में करीब एक लाख सात हजार लोगों की मौत हो गई।

1836: कलकत्ता पब्लिक लाइब्रेरी की शुरुआत हुई। ये दक्षिण एशिया की पहली मॉडर्न पब्लिक लाइब्रेरी थी।

1791: अंग्रेजों और टीपू सुल्तान के बीच हुए युद्ध के दौरान 6 हफ्ते की घेराबंदी के बाद ब्रिटिश सेना ने बेंगलुरु पर कब्जा किया।

1768: महान फ्रांसीसी गणितज्ञ जोसेफ फोर्ये का जन्म हुआ। फोर्ये ने धातु की प्लेटों में ऊष्मा प्रवाह और तापमान की गणना के लिए एक सीरीज का प्रयोग किया था। जिसे उनके नाम पर फोर्ये सीरीज कहते हैं।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *