ईशान के माता-पिता और कोच का इंटरव्यू: मां ने कहा- जब बेटा खेल रहा था, तब मैं बजरंग बली की पूजा कर रही थी


  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Ishan Kishan Fifty On Debut! Ishan Mother Father And His Coach Interview To Dainik Bhaskar; India Vs England 2nd T20I

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पटना20 मिनट पहलेलेखक: राजकिशोर

  • कॉपी लिंक

बिहार के विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन ने रविवार को इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू किया। उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ 32 बॉल पर 56 रन की ताबड़तोड़ पारी खेलकर टीम इंडिया को 7 विकेट से जिताया। इस मौके पर उनकी मां सुचित्रा सिंह, पिता प्रणव कुमार पांडेय और कोच उत्तम मजूमदार ने दैनिक भास्कर से बात की। मां ने कहा, ‘मैं कितनी खुश हूं, यह बयां नहीं कर सकती। जब बेटा खेल रहा था, तब मैं घर में बजरंग बली की पूजा कर रही थी।’

ईशान का परिवार पटना के खाजपुरा में रहता है। पिता ने कहा कि जब वह बैटिंग करने के लिए क्रीज पर उतरा तो उसकी मां पूजा करने लगी थी। जबकि मैं काफी नर्वस था। ईशान की बैटिंग के दौरान बाउंड्री लगने और रन बनने पर बीच-बीच में शोर होता था।

पिता ने कहा, ‘ईशान जब डेब्यू मैच में पहली बार क्रीज पर गया होगा, तब उनका क्या हाल था यह मैं नहीं जानता, लेकिन मैं काफी नर्वस था। मैं यही सोच रहा था कि वह कैसी बैटिंग करेगा। रन बना पाएगा या नहीं। मैं भगवान को धन्यवाद देता हूं कि उसने शानदार बल्लेबाजी की और पहले मैच में ही फिफ्टी लगाई। मैं बेहद खुश हूं और उम्मीद करता हूं कि वह आगे भी इसी तरह खेलेगा।’

मैच के बाद ईशान ने घर पर किया फोन
प्रणव कुमार ने कहा कि ईशान ने मैच के बाद रविवार रात करीब 12 बजे फोन किया था। वह काफी उत्साहित था। ज्यादा बात नहीं हुई। मैंने कहा कि आपने बेहतरीन बल्लेबाजी की। जब भी मौका मिले आप इसी तरह खेलें। मैच से पहले दोपहर में भी ईशान से बात हुई थी। तब उसे भी पता नहीं था कि प्लेइंग इलेवन में मौका मिलेगा या नहीं। मैंने कहा था कि चिंता न करें, टीम में शामिल हुए हैं, तो प्लेइंग इलेवन में भी मौका मिलेगा। जब भी मौका मिले, अपना नैचुरल गेम खेलें।

कोच के दिवंगत पिता ईशान से काफी प्यार करते थे
पिता प्रणव कुमार ने कहा कि ईशान अपने कोच उत्तम मजूमदार के पिता बिमल कांती मजूमदार से काफी प्यार करते थे। बिमल जी भी ईशान से काफी प्यार करते थे। ईशान ने बचपन में मजूमदार और अजय नारायण शर्मा के पास ट्रेनिंग की। मजूमदार कुछ साल पहले नोएडा शिफ्ट हो गए थे। जब भी दिल्ली जाना होता था, तो ईशान मजूमदार सर के यहां ही रुकता था। कुछ दिन पहले बिमल जी का देहांत हो गया। ईशान ने अपनी डेब्यू फिफ्टी कोच के फादर को समर्पित की है।

ईशान किशन की मां सुचित्रा सिंह और पिता प्रणव कुमार पांडेय।

ईशान किशन की मां सुचित्रा सिंह और पिता प्रणव कुमार पांडेय।

बजरंग बली की कृपा है ईशान पर : मां
मां सुचित्रा सिंह ने कहा, ‘इंटरनेशनल क्रिकेट में बेटे के डेब्यू से मैं कितनी खुश हूं, इसे शब्दों में बयान नहीं कर सकती। जब वह बैटिंग करने गया, तो मैं घर में बजरंग बली की पूजा करने लगी थी। उनकी कृपा से ही मेरा बेटा अच्छी बल्लेबाजी कर पाता है। मुझे लगता है कि मेरे ईष्ट देव ईशान के अंदर हैं। उसे शक्ति प्रदान कर रहे हैं। मैं पूजा के समय किसी से बात नहीं करती। ईशान की बल्लेबाजी के बाद ही मैं पूजा से हटी थी। मुझे गर्व है कि ईशान ने बेहतरीन प्रदर्शन किया।’

बड़े भाई ने ईशान के लिए छोड़ी क्रिकेट
उन्होंने बताया कि ईशान का बड़ा भाई भी क्रिकेट खेलता था, लेकिन दोनों की ट्रेनिंग का खर्च उठाना संभव नहीं था। बड़ा बेटा पढ़ाई में भी काफी अच्छा था, इसलिए उसने 10वीं के बाद ईशान के लिए क्रिकेट छोड़ दी। बड़ा बेटा MBBS कर चुका है। ईशान हम लोगों से ज्यादा अपने बड़े भाई से ही बात करता है।

बाबूजी का सपना ईशान ने पूरा किया : कोच
कोच उत्तम मजूमदार ने कहा, ‘मेरे पिता बिमल कांती मजूमदार के साथ ईशान की बॉन्डिंग काफी अच्छी थी। कैंसर के कारण पिता का 4 मार्च को देहांत हो गया। इंडियन टीम में सिलेक्शन से 10 दिन पहले ईशान ने मेरे पिता से वीडियो कॉलिंग पर बातचीत की थी। तब पिता ने कहा था कि साल 2021 ईशान का है। इसी साल उनका इंडिया टीम में सिलेक्शन होगा और वे अपने प्रदर्शन से दुनिया को प्रभावित करेंगे। मेरे पिता का सपना पूरा हो रहा है। मैच के बाद रविवार रात को 1 बजे ईशान का फोन आया था। उसने कहा कि जब क्रीज पर गया तो मुझे लगा बाबूजी मेरे साथ हैं। मुझे कहीं भी यह नहीं लगा कि मैं अपना पहला मैच खेल रहा हूं।’

ईशान ने खुद को साबित किया
कोच ने कहा कि वे बिहार क्रिकेट एकेडमी में कोच थे। ईशान 5 साल की उम्र में ट्रेनिंग के लिए आए थे। वह काफी टैलेंटेड हैं। भविष्य में वह देश के टॉप क्रिकेटरों मे शामिल होंगे। मुझे उम्मीद है कि ईशान टी-20 वर्ल्ड कप भी खेलेगा। उन्होंने खुद को साबित किया है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *