उत्तराखंड में त्रासदी: UP के 53 लोगों के लापता होने की आशंका : 3 मंत्री समेत कई अधिकारी आज पहुंचेंगे हरिद्वार, समन्वय के लिए कंट्रोल रूम बनाया गया


  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • 53 People Of UP Feared Missing: Many Officials Including 3 Ministers Will Reach Haridwar Today, Control Room Has Been Made For Coordination

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लखनऊ19 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने उत्तराखंड आपदा को लेकर मंगलवार को वहां के सीएम से बातचीत की और हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया। यूपी के तीन मंत्रियों को वहां भेजा रहा है।

  • उत्तराखण्ड के सीएम से की फोन पर बात‚ हरसम्भव मदद का दिलाया भरोसा
  • मृतक प्रदेशवासियों के आश्रितों को दो–दो लाख की मदद देगी यूपी सरकार

उत्तराखंड के चमोली जिले में हुए जल प्रलय में यूपी के लापता लोगों की तलाश के लिए सरकार की तरफ से दो कंट्रोल रूम के नंबर मंगलवार सुबह जारी किए गए। उत्तराखंड सरकार और उत्तर प्रदेश सरकार के साथ कोऑर्डिनेट करने के लिए कंट्रोल रूम हरिद्वार ( 7351506180, 9389793202) में बनाया गया है। इसके अलावा भी कई अधिकारियों के नम्बर जारी किए गए हैं, जिनसे सीधेतौर पर मदद ली जा सकती है।

वहीं आज मंगलवार शाम तक उत्तर प्रदेश सरकार के दो कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा, आयुष मंत्री धर्म सिंह सैनी और बाढ़ राहत राज्य मंत्री विजय कश्यप उत्तराखंड पहुंचेंगे। तीनों मंत्री आज हादसे वाली जगह का दौरा भी करेंगे और यूपी सरकार के द्वारा घोषित राहत आपदा राशि मृतक के परिजनों को सौंपेंगे। अभी तक कंट्रोल रूम में दर्ज की गई शिकायतों में यूपी के 53 लोगों के लापता होने की सूचना मिली है।

CM योगी ने सोमवार देर रात की अधिकारियों के साथ बैठक
सोमवार देर रात उत्तराखंड की चमोली घटना को लेकर यूपी के मुख्यमंत्री योगी ने बैठक की थी, इस बैठक में मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को महत्वपूर्ण निर्देश दिए हैं। सीएम के आदेश पर 3 मंत्रियों को उत्तराखंड भेजा जा रहा यूपी के लापता लोगों को लेकर ये लोग काम करेंगे। वहीं हरिद्वार में यूपी के अधिकारी निगरानी करेंगे। निगरानी करने के लिए कमिश्नर और आईजी सहारनपुर हरिद्वार भी पहुंचेंगे। यूपी के रहने वाले मृतकों के परिजनों को राज्य सरकार की तरफ से दो लाख रुपये की आर्थिक मदद दी जाएगी।

मुख्यमंत्री ने सोमवार को अपने सरकारी आवास पर उच्च स्तरीय बैठक के बाद उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से दूरभाष पर वार्ता कर संकट की इस घड़ी में उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से हर सम्भव सहायता का भरोसा दिलाया है। मुख्यमंत्री ने इस आपदा से प्रभावित हुए प्रदेश के परिवारों की सहायता के लिए राहत आयुक्त कार्यालय में एक कंट्रोल रूम स्थापित करने तथा उत्तराखण्ड राज्य सरकार से समन्वय के लिए प्रदेश सरकार के 2 अधिकारियों को देहरादून भेजने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि जिन जिलों के निवासी इस आपदा में लापता हैं‚ उन जिलों में जनपद स्तरीय कंट्रोल रूम बनाया जाए। उन्होंने सहारनपुर के मंडलायुक्त तथा आईजी जोन को पूरी सक्रियता के साथ खोज–बचाव तथा राहत कार्यों पर विशेष ध्यान के निर्देश दिए हैं।

“लापता व्यक्तियों के तलाश के लिए इन नम्बर पर शिकायत और पूछताछ कर सकते हैं यूपी के परिजन”

  • राज्य मुख्यालय पर राहत आयुक्त कार्यालय में राज्य स्तरीय इमरजेंसी ऑपरेशन सेण्टर क्रियाशील कर दिया गया है।
  • प्रदेश के लापता व्यक्तियों के परिजन लापता व्यक्ति का विवरण राहत हेल्पलाइन–1070 तथा व्हॉट्सएप नम्बर 9454411036 पर दर्ज करा सकते हैं तथा इस सम्बन्ध में जानकारी भी प्राप्त कर सकते हैं।
  • उत्तराखण्ड सरकार से समन्वय के लिए जनपद सहारनपुर के अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व विनोद कुमार (मोबाइल नं०-9454417646 तथा प्रोजेक्ट एक्सपर्ट फ्लड‚ राहत आयुक्त कार्यालय चन्द्रकान्त (मोबाइल नं.–9454410743) को देहरादून भेजा जा रहा है।
  • इन अधिकारियों द्वारा उत्तराखण्ड सरकार के आपदा प्रबन्धन विभाग सहित अन्य अधिकारियों से समन्वय स्थापित कर प्रदेश के लापता व्यक्तियों की खोज–बचाव व राहत आदि कार्यों के सम्बन्ध में कार्यवाही की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *