एंटीलिया केस: फडणवीस ने राज्यपाल से मुलाकात की, बोले- महाराष्ट्र सरकार पुलिस के जरिए वसूली कर रही; राउत बोले- गवर्नर भी भाजपा कार्यकर्ता


  • Hindi News
  • Local
  • Maharashtra
  • Uddhav Thackeray Convened Cabinet Meeting, Many BJP Leaders Including Fadnavis Will Meet Governor Koshyari Today

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबई12 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

राज्यपाल से मुलाकात में भाजपा ने परमबीर सिंह के आरोप, ट्रांसफर विवाद और सचिन वझे के मामले को लेकर चर्चा की।

एंटीलिया केस बाद हो रहे नए-नए खुलासों ने महाराष्ट्र सरकार की मुश्किलें बढ़ा दी हैं और भाजपा को हमलावर होने का मौका दे दिया है। इसी सिलसिले में नेता विपक्ष देवेंद्र फडणवीस की अगुवाई में भाजपा नेताओं ने बुधवार को महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की। इस दौरान पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह के आरोपों, ट्रांसफर विवाद और सचिन वझे समेत कई मामलों में भाजपा ने राज्यपाल के दखल की मांग की।

उधर, राज्यपाल से भाजपा नेताओं की मुलाकात पर संजय राउत का बयान आया है। उन्होंने कहा कि आज जो लोग मिलने गए, वे सब भाजपा के नेता हैं और भाजपा के कार्यकर्ता हैं। राज्यपाल भी भाजपा के कार्यकर्ता हैं। यह उनके घर की मुलाकात है। इस दौरान पत्रकारों ने जब संजय राउत से पूछा कि आप राज्यपाल को भाजपा का कार्यकर्ता कह रहे हैं, वे तो संवैधानिक पद पर हैं। इस पर राउत ने कहा कि वे पहले भाजपा के कार्यकर्ता थे, संघ के प्रचारक थे तो क्या उन्हें भाजपा का कार्यकर्ता नहीं कहा जाए?

संजय राउत के बयान पर फडणवीस
राउत के बयान पर फडणवीस ने पलटवार करते हुए कहा कि राउत के पास बहुत समय है और जब आपके पास खबर नहीं होती तो आप उनके पास पहुंच जाते हैं। वे कोई इतने बड़े नेता तो नहीं हैं कि उनके हर सवाल का मैं जवाब दूं। हम चले जाएं तो भाजपा के नेता और आप जब कमर से झुककर प्रणाम करते हैं तो किस के नेता?

फडणवीस का आरोप- राज्य में अस्थिरता का माहौल
राज्यपाल से मुलाकात के बाद फडणवीस ने कहा कि राज्य में इस समय अस्थिरता का माहौल है। हमने 100 से ज्यादा मुद्दों को लेकर राज्यपाल से बात की है। जिसमें सचिन वझे, ट्रांसफर-पोस्टिंग, कोरोना की मौजूदा स्थिति और राज्य सरकार की विफलता जैसे मुद्दे शामिल हैं। हम चाहते हैं कि राज्यपाल से हमने जो भी बातें कही हैं, उनका जवाब सरकार दे। पुलिस का इस्तेमाल पैसा वसूली के लिए किया जा रहा है। जिन अफसरों को ट्रांसफर के बहाने धमकाया जाता है उन्हें सुरक्षा मिलनी चाहिए।

फडणवीस बोले- CM मौन हैं, पवार मंत्रियों को बचा रहे
फडणवीस ने कहा कि जिस तरह की घटनाएं पिछले कई दिनों से सामने आ रही हैं वे चिंताजनक हैं। इन घटनाओं पर मुख्यमंत्री का मौन भी सवालों के घेरे में है। शरद पवार ने दो प्रेस कॉन्फ्रेंस की हैं, लेकिन दोनों ही प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने अपने मंत्री और लोगों को बचाने की कोशिश की।

ताजा विवाद में पहली बार कांग्रेस पर हमला
फडणवीस ने कहा कि महा विकास अघाडी सरकार अब महा वसूली आधारित सरकार बन चुकी है। अब जनता को न्याय दिलाना बेहद जरूरी है। कांग्रेस का कोई चेहरा बचा नहीं है, कोई नीति बची नहीं है जो भी मामले सामने आ रहे हैं वे साबित करते हैं कि यह सरकार सिर्फ सत्ता में बने रहने के लिए कुछ भी करने वाली है। मैं कांग्रेस से सवाल पूछता हूं कि उनको इस सब में कितना मिल रहा है? इन सभी मामलों पर हमने राज्यपाल से जांच करवाने के लिए कहा है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *