एंटीलिया केस में नया खुलासा: सचिन वझे के पास थीं कई लग्जरी कारें, स्कॉर्पियो चोरी वाले दिन मनसुख और वझे के बीच 10 मिनट तक मुलाकात हुई थी


  • Hindi News
  • Local
  • Maharashtra
  • Sachin Waze Vaze: Mukesh Ambani Antilia House Case Update | National Investigation Agency (NIA), Mumbai Police Officer Latest News

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबई12 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

CIU के पूर्व अधिकारी सचिन वझे की निशानदेही पर NIA ने अब तक ये तीन कारें बरामद की हैं। इनमें एक मर्सिडीज और एक प्राडो शामिल है।

एंटीलिया के बाहर से बरामद जिलेटिन से भरी स्कॉर्पियो मामले में गिरफ्तार असिस्टेंट पुलिस इंस्पेक्टर (API) सचिन वझे को लेकर हर दिन नए खुलासे हो रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक, NIA की जांच में सामने आया है कि वझे के पास कई लग्जरी कारें थीं। इनमें से तीन केंद्रीय जांच एजेंसी ने जब्त कर ली हैं। गुरुवार शाम को बरामद मर्सिडीज और प्राडो एक पार्किंग में छिपा कर रखी गई थीं। प्राडो, रत्नागिरी के एक शिवसेना नेता के नाम पर रजिस्टर्ड है।

दिल्ली से फॉरेंसिक एक्सपर्ट की एक टीम गुरुवार को NIA ऑफिस पहुंची थी। आज यह टीम वझे की मर्सिडीज कार की जांच करेगी। वझे की पहली कार 16 मार्च को जेजे स्कूल ऑफ आर्ट के पास BMC की पार्किंग में खड़ी हुई मिली थी। पता चला कि वझे ने इसे 13 से 14 मार्च के बीच यहां पार्क किया था। वहां के गार्ड ने NIA को बताया है कि यह कार कई बार यहां रखी गई थी।

स्कॉर्पियो चोरी वाले दिन मनसुख से मिले थे वझे
इस मामले को लेकर NIA के हाथ एक नया CCTV फुटेज लगा है। सूत्रों के मुताबिक, फुटेज की जांच में सामने आया है कि स्कॉर्पियों के मालिक मनसुख हिरेन और वझे के बीच CSMT के पास 17 फरवरी को 10 मिनट की मुलाकात हुई थी। इसी दिन मनसुख ने स्कॉर्पियो चोरी की FIR दर्ज करवाई थी। मनसुख ओला कैब में वझे से मिलने आया था। माना जा रहा है कि यह फुटेज तब कि है जब मनसुख को अपनी कार चोरी होनी की जानकारी मिली थी। एक रिपोर्ट में यह भी दावा किया जा रहा है कि NIA ने अंबानी के घर के बाहर से बरामद स्कॉर्पियो की चाबी बरामद कर ली है।

ग्रीन सिग्नल के बावजूद आगे नहीं बढ़ी कार
NIA सूत्रों के मुताबिक, CCTV फुटेज में वझे जिस मर्सिडीज से पुलिस मुख्यालय से निकलते नजर आ रहे हैं उसी मर्सिडीज में वे मनसुख से भी मुलाकात करते हैं। बाद में CSMT के मुख्य चौराहे पर भी उनकी कार नजर आती है। जहां ग्रीन लाइट होने के बावजूद वझे की कार वहां से आगे नहीं बढ़ती है। कुछ देर बाद मनसुख वहां आता है और कार के अंदर चला जाता है। इसके बाद कार जनरल पोस्ट ऑफिस के पास नजर आती है। वहां तकरीबन 10 मिनट तक रुकने के बाद मनसुख वहां से चला जाता है। इसके बाद मर्सिडीज पुलिस हेडक्वार्टर में प्रवेश करती नजर आती है।

ओला कैब के ड्राइवर ने NIA को यह बताया
मनसुख को CSMT तक लाने वाले ओला कार के ड्राइवर ने पूछताछ में बताया है कि CSMT पहुंचने के दौरान मनसुख के फोन पर पांच कॉल आई थीं। कॉल करने वाले ने मनसुख को पहले पुलिस मुख्यालय के सामने स्थित रूपम शोरूम के बाहर बुलाया और आखिरी फोन कॉल में उसे CSMT के सिग्नल पर आने को कहा गया। जांच एजेंसियों ने इन CCTV फुटेज को प्रिजर्व करने के लिए L&T से संपर्क किया है। मुंबई में ट्रैफिक चौराहों पर लगे CCTV कैमरों के संचालन का काम L&T ही करती है।

क्राइम इन्वेस्टिगेशन यूनिट के पूर्व अधिकारी सचिन वझे के पास से अब तक तीन कारें बरामद हुई हैं।

क्राइम इन्वेस्टिगेशन यूनिट के पूर्व अधिकारी सचिन वझे के पास से अब तक तीन कारें बरामद हुई हैं।

सचिन वझे की जमानत याचिका पर आज सुनवाई
आज ही एंटीलिया मामले में गिरफ्तार और NIA की कस्टडी में चल रहे सचिन वझे की जमानत अर्जी पर ठाणे सेशन कोर्ट में सुनवाई होनी है। NIA ने वझे के साथ काम कर चुके CIU के 3 अधिकारियों के बयान दर्ज किए हैं। ये तीनों वझे के बेहद करीब बताए जाते हैं। इससे पहले NIA की टीम क्राइम ब्रांच से जुड़े 9 कर्मचारियों के बयान दर्ज कर चुकी है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *