एंटीलिया केस: सचिन वझे से होटल में मिलने आई महिला की NIA को तलाश, विस्फोटक रखने की साजिश में राजदार होने का शक


  • Hindi News
  • Local
  • Maharashtra
  • Antilia Bomb Scare: NIA Hunted For Mystery Women Close To Sachin Vaze , Suspected Of Involvement In Conspiracy To Keep Explosives

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबई42 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

सूत्रों के मुताबिक वझे ने महिला के बारे में NIA को जानकारी दे दी है, लेकिन पुलिस अभी उस महिला तक पहुंच नहीं पाई है। आशंका है कि वह महिला वझे की राजदार हो सकती है।- फाइल फोटो।

एंटीलिया जांच में NIA को लगातार नए सबूत मिल रहे हैं। दो दिन पहले एक फाइव स्टार होटल में की गई छापेमारी के दौरान CCTV की जांच में पता चला है कि सस्पेंड API सचिन वझे जिस दौरान होटल में ठहरे थे, उस बीच एक महिला उनसे मिलने आई थी। उस महिला के पास नोट गिनने वाली मशीन थी।

NIA को शक है यह महिला वझे की राजदार है, इसलिए इस महिला की तलाश तेज कर दी गई है। NIA को इस बात का भी शक है यह महिला पूरी साजिश में शामिल हो सकती है।

सचिन वझे 16 फरवरी से 20 फरवरी तक नकली नाम, फर्जी आधार कार्ड और फोटो दिखाकर मुंबई के होटल ट्राइडेंट में ठहरे थे। सोमवार को NIA वझे को लेकर यहां आई थी और करीब तीन घंटे तक सीन का रीक्रिएशन करवाया। इस दौरान CCTV फुटेज की जांच हुई और स्टाफ के लोगों के बयान दर्ज किए गए। वझे को मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के बाहर से बरामद जिलेटिन से भरी स्कॉर्पियो के मामले में गिरफ्तार किया गया है।

वझे के पास 5 बैग थे, एक में जिलेटिन होने का शक
CCTV फुटेज की जांच में सामने आया है कि वझे जब होटल में आए थे तब उनके पास पांच बैग थे, जिनमें से एक बैग में जिलेटिन होने का भी शक है। साथ ही आशंका है कि उनसे मिलने आई महिला को विस्फोटक रखने की पूरी साजिश की जानकारी थी। सूत्रों के मुताबिक वझे ने महिला के बारे में NIA को जानकारी दे दी है।

यही वह फर्जी आधार कार्ड है जिसे दिखाकर वझे होटल ट्राइडेंट में रुके थे।

यही वह फर्जी आधार कार्ड है जिसे दिखाकर वझे होटल ट्राइडेंट में रुके थे।

NIA को वझे का फर्जी आधार कार्ड मिला
NIA की जांच में सामने आया है कि वझे ने अपना फर्जी आधार कार्ड बनवाया था। इस आधार कार्ड में तस्वीर वझे की ही है, लेकिन उनके नाम की जगह सुशांत सदाशिव खामकर लिखा है। आशंका है कि इस आधार कार्ड के सहारे वझे ने कई जगह होटल बुक करवाए थे। वझे के फेक आधार पर 7825-2857-5822 नंबर दर्ज है। इसका इस्तेमाल करते हुए वह 16-20 फरवरी के बीच नरीमन पॉइंट के होटल ट्राइडेंट में रुके थे।

स्कॉर्पियो में वझे ने ही रखा था धमकी भरा पत्र
NIA जांच में यह भी सामने आया है कि सचिन वझे ने ही स्कॉर्पियो में धमकी भरा पत्र रखा था। इस पत्र को मनसुख हिरेन की हत्या के मामले में गिरफ्तार विनायक शिंदे के घर में लिखा गया था। शिंदे के घर से वह प्रिंटर भी बरामद हुआ है, जिससे इसे प्रिंट किया गया। सूत्रों ने दावा किया है कि वझे स्कॉर्पियो खड़ी करने से पहले इनोवा में घटनास्थल पर रेकी के लिए गए थे।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *