कम टेस्टिंग इसलिए कम आंकड़े: 7 मई तक 47 हजार टेस्टिंग हुई थी, जून के 7 दिन में 68% घटकर 15 हजार ही रह गई, लोग सैंपल देने आगे नहीं आ रहे


  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • Till May 7, 47 Thousand Tests Were Done, In 7 Days Of June, 68% Came Down To 15 Thousand, People Are Not Coming Forward To Give Samples.

जोधपुर22 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

घटते संक्रमितों और मौतों के बीच सैंपलिंग भी घट रही, लेकिन यह आगे के लिए आगाह कर रही।

शहर में संक्रमितों की संख्या लगातार कम हो रही है, मौतों के आंकड़े में भी कमी आई है, लेकिन इन सबके बीच तेजी से घटती टेस्टिंग चेता रही है। दरअसल जून के 7 दिन से मई के 7 दिन की तुलना करें तो 68 प्रतिशत सैंपलिंग घट गई है। संक्रमण दर करीब 3 प्रतिशत है। 7 मई तक 47,347 संदिग्धों की जांच में 15031 मरीज मिले थे।

जबकि जून 7 तक टेस्टिंग घटकर केवल 15,082 रह गई। इसमें करीब 3 प्रतिशत, यानी महज 453 संक्रमित मिले हैं। जबकि विभाग का कहना है कि विभाग की ओर से कहीं भी टेस्टिंग बंद नहीं की गई है, और ना ही किसी को मना किया जा रहा है। यानी घटते कोरोना संक्रमण के बीच नागरिकों ने टेस्टिंग करवाना कम कर दिया है। जबकि कोरोना को काबू पाने के तरीकों में गाइडलाइन पालना के साथ ही टेस्टिंग और टीका सबसे महत्वपूर्ण हैं।

अप्रैल में 3500 और मई में 7800 तक पहुंची थी टेस्टिंग, जून में सिर्फ 1200 रह गई
जून में टेस्टिंग ना केवल मई माह से कम है, बल्कि अप्रैल के पहले 7 दिन में हुए टेस्ट से भी कम है। अप्रैल के 7 दिन में करीब 18,970 संदिग्धों की जांच की गई थी। इनमें करीब 1525 नए संक्रमित मिले थे। यह जून में हुई संदिग्धों की जांच से 20 प्रतिशत ज्यादा है। अप्रैल के सात दिनों में जून के मुकाबले 1072 संक्रमित ज्यादा मिले हैं।

  • अभी केवल आईएलआई लक्षण वाले मरीज ही टेस्टिंग के लिए आ रहे हैं। पॉजिटिव नंबर भी कम हैं। विभाग की ओर से कहीं भी ना तो टेस्टिंग बंद की गई है और ना ही किसी को मना किया जा रहा है। हमारी ओर से मोबाइल वैन चलाई जा रही है, जो दुकान वालों और ठेले वाले के रैंडम सैंपल लेती है। अभी पूरे प्रदेश में ही यही ट्रेंड है कि लोग सैंपलिंग के लिए नहीं आ रहे हैं। – डॉ. बलवंत मंडा, सीएमएचओ

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *