कानपुर IIT के ऑक्सीजन कंसंट्रेटर पर अमेरिका को ज्यादा भरोसा: इसमें GPS लगे होंगे, लगातार 5 घंटे तक चल सकेंगे; अब तक चीन से खरीद रहा था अमेरिका


कानपुर7 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

आईआईटी कानपुर में बने ऑक्सीजन कंसंट्रेटर जल्द ही अमेरिकी बाजार में बिकने के लिए तैयार किए जा रहे है। दो अमेरिकी कंपनियों ने रिसर्च एंड डेवलपमेंट कंपनी इंडिमा फाइबर को कंसंट्रेटर के आर्डर दिए हैं। अब तक अमेरिका के बाज़ारों में चीन में बने कंसंट्रेटर ही बिक रहे थे। आईआईटी कानपुर की कंपनी ने कंसंट्रेटर में जीपीएस भी लगाया है। खास बात यह है कि इन कंसंट्रेटर को लगातार पांच घंटे तक चलाया जा सकता है और फिर 15 मिनट के ब्रेक के बाद दोबारा काम में लिया जा सकता है।

साल भर तक सप्लाई का करार
अमेरिकी कंपनियों से मिले ऑक्सीजन कंसंट्रेटर के ऑर्डर के बाद चीन कंपनियां सकते में आ गई है। चीन में बनने वाले कंसंट्रेटर के दामों में काफी फर्क है। डॉ सुनील ढोले ने बताया कि अमेरिकी कंपनियों से हमको ऑर्डर मिले हैं। उनसे हमारा एक साल का करार हुआ है, जिसके तहत हर महीने वह लोग हमसे यह कंसंट्रेटर खरीदेंगे। इस समय अमेरिका के बाजार में बिक रहे चीन निर्मित कंसंट्रेटर का दबदबा है।

कानपुर के कंसंट्रेटर में जीपीएस भी लगा होगा

चीन में बने कंसंट्रेटर की कीमत 50 हजार रुपये तक है। जिसकी ऑक्सीजन देने की क्षमता पांच लीटर प्रति मिनट ही है। कोरोना के मरीजों के लिए 10 लीटर प्रति मिनट वाला ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की जरुरत होती है। अमेरिका, जापान या जर्मनी में बने कंसंट्रेटर की औसतन कीमत एक लाख रुपये तक है। अमेरिकी कंपनियों को भेजे जाने वाले इंडिमा फाइबर के कंसंट्रेटर की कीमत 75 से 80 हजार रुपये के बीच में होती है। ये कंसंट्रेटर 10 लीटर प्रति मिनट ऑक्सीजन देते हैं। आने वाले समय में अगर देश में कच्चे माल की कीमत कम होगी तो अपने आप इन कंसंट्रेटर की कीमत भी घट जाएगी। हम लोगों ने कंसंट्रेटर को बनाते समय इस बात का खास ध्यान रखा कि कम लागत में इसे वर्ल्ड क्लास कंसंट्रेटर कैसे तैयार करेंगे।

डॉ सुनील ढोले और डॉ तुषार वाघ ने बताया कि बड़े पैमाने पर कंसंट्रेटर बनाने के लिए कंपनी ने पुणे में यूनिट बनाई है।

डॉ सुनील ढोले और डॉ तुषार वाघ ने बताया कि बड़े पैमाने पर कंसंट्रेटर बनाने के लिए कंपनी ने पुणे में यूनिट बनाई है।

यहाँ होता है कंसंट्रेटर का प्रोडक्शन
इन कंसंट्रेटर के पार्ट्स को महाराष्ट्र के अलग अलग जिलों में डेवलप करके पुणे में इसे असेम्बल किया जाता है। केमडिस्ट मेम्ब्रेन प्राइवेट लिमिटेड के फाउंडर डॉ तुषार वाघ ने बताया हमारी कंपनी ने कोरोना की दूसरी लहर में ऑक्सीजन की किल्लत को देखते हुए बड़े पैमाने पर इनकी मैन्युफैक्चरिंग शुरू कर दी थी। हम लोगों ने अप्रैल के महीने से ही हजारों की संख्या में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर तैयार कर देश के अलग अलग राज्यों के ऑर्डर को भी सप्लाई करना का काम शुरू कर दिया था। हमारे इस आधुनिक डिजाइन व लुक वाले ऑक्सीजन कंसंट्रेटर तैयार करने पर विदेशों से मांग आनी शुरू हो गई।

सीई सर्टिफिकेट का जल्द मिलेगा अप्रुवल

डॉ सुनील ढोले ने बताया, इंटरनेशनल मार्केट में बेचे गए उत्पादों के लिए स्वास्थ्य, सुरक्षा और पर्यावरण संरक्षण मानक होना बहुत ही जरूरी है। इसे सीई प्रमाणपत्र भी कहते हैं। इसके अंतर्गत संस्था हमारे प्रोडक्ट को टेस्ट करके परखा जाता है कि कहीं यह स्वास्थ्य, सुरक्षा और पर्यावरण के लिए हानिकारक तो नहीं। इसके लिए हमने आवेदन दे दिया है। जल्द ही अप्रूवल मिल जाएगा।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *