किसान नेता राकेश टिकैत पर बड़ा आरोप: मुजफ्फरनगर में गन्ना किसान के 3 बीघे फसल पर चलवा दिया बुल्डोजर; महिला किसान ने हाथ जोड़कर CM योगी से लगाई न्याय की गुहार


  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Meerut
  • Big Allegation On Farmer Leader Rakesh Tikait: In Muzaffarnagar, A Bulldozer Was Made To Run On 3 Bighas Of Sugarcane Farmer; Woman Farmer Pleads For Justice With Folded Hands To CM Yogi

मुजफ्फरनगर12 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

मुजफ्फरनगर के एक किसान परिवार ने राकेश टिकैत पर खेत पर कब्जा करने और 3 बीघे गन्ने की फसल पर बुलडोजर चलवाने का आरोप लगाया है।

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता और किसान नेता राकेश टिकैत फिर से विवादों में घिरते नजर आ रहे हैं। मुजफ्फरनगर के एक किसान परिवार ने उनपर खेत पर कब्जा करने और 3 बीघे गन्ने की फसल पर बुलडोजर चलवाने का आरोप लगाया है। मामले में महिला किसान ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से हाथ जोड़कर न्याय दिलाने की मांग की है।

टिकैत और बेटे पर कब्जा करने का आरोप
मामला मुजफ्फरनगर के शाहपुर थाना क्षेत्र के किनौनी गांव का है। यहां गन्ने की खेती करने वाली सुशीला देवी और उनके बेटे विनीत बालियान ने भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता चौधरी राकेश टिकैत और उनके बेटे चौधरी चरण सिंह टिकैत पर अवैध रूप से खेत पर कब्जा करवाने और 3 बीघे गन्ने की फसल पर जबरन बुलडोजर चलवाने का आरोप लगाया है। बुलडोजर चलने से पूरी फसल बर्बाद हो गई है। सुशीला देवी का कहना है कि कुछ दिन पहले रेलवे ने उनके 3 बीघे खेत के अधिग्रहण की बात कही थी, लेकिन इसके पहले ही राकेश टिकैत और उनके बेटे ने मिलकर खेत पर बुलडोजर चलवाकर अवैध कब्जा कर लिया।

अपने खेत का हाल दिखाते हुए महिला किसान सुशीला।

अपने खेत का हाल दिखाते हुए महिला किसान सुशीला।

किसान ने कहा, भू-माफिया हैं टिकैत
सुशीला का कहना है कि राकेश टिकैत भू-माफिया हैं। इसके पहले भी वह कई बार खेत कब्जा करने की कोशिश कर चुके हैं। पुलिस और प्रशासन दोनों से ही इसकी शिकायत की गई, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। सुशीला का आरोप है कि टिकैत क्षेत्र में किसानों की जमीनें कब्जा करके सरकार को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं।

टिकैत ने फोन काट दिया, PRO ने आरोप बेबुनियाद बताया
खेत कब्जा के आरोपों को लेकर भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत से संपर्क करने की कोशिश की तो उन्होंने अपने आप को पंजाब में किसी कार्यक्रम होने की बात कह कर फोन काट दिया। इसके बाद चौधरी राकेश टिकैत के PRO धर्मेंद्र मलिक से फोन पर बातकर उनका पक्ष लिया। धर्मेंद्र मलिक का कहना है कि सुशीला नाम की महिला कुछ दिन पहले जमीन के मामले को लेकर भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत के घर पहुंची थी। सुशीला और उनके जेठ के बीच जमीन को लेकर विवाद चल रहा है। इसमें राकेश टिकैत और नरेश टिकैत की कोई भूमिका नहीं है। उनपर लगे आरोप बेबुनियाद हैं।

SDM ने कहा- जांच कराएंगे
SDM सदर दीपक कुमार का कहना है कि महिला किसान सुशीला का खेत रेलवे ने अधिग्रहण किया है। मुआवजे के लिए रेलवे विभाग को पत्र भेजा गया है। सुशीला और उसके परिवार में जमीन बंटवारे को लेकर विवाद चल रहा है। राकेश टिकैत और उनके बेटे पर कब्जा करने की शिकायत मेरे पास नहीं है। अगर कोई शिकायत मिलती है तो उसकी जांच कराएंगे।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *