केंद्रीय मंत्री की ऐतिहासिक उपलब्धि: टेरिटोरियल आर्मी में कैप्टन बने अनुराग ठाकुर; सोशल मीडिया के जरिए दी जानकारी, 124 सिख बटालियन का हिस्सा बनेंगे


  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Anurag Thakur Promoted As Captain In The Territorial Army; Information Provided Through Social Media, Will Be Part Of 124 Sikh Battalion

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शिमला3 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

अनुराग ठाकुर को तगमे लगाकर सम्मानित करतीं उनकी पत्नी व सेना के अधिकारी।

  • हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री प्रेम कुमार धूमल के पुत्र और हमीरपुर के वर्तमान सांसद हैं
  • जुलाई 2016 में मैं टेरिटोरियल आर्मी से रेग्युलर ऑफिसर की तरह बतौर लेफ्टिनेंट जुड़े थे

केंद्रीय वित्त और कॉर्पोरेट मामलों के राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर को टेरिटोरियल आर्मी यानी प्रादेशिक सेना में कैप्टन बनाया गया है। बुधवार को उनका प्रोमोशन करते हुए उन्हें यह मानद उपाधि दी गई। वर्ष 2016 में उन्हें टेरिटोरियल आ​र्मी में लेफ्टिनेंट बनाया गया था और अब प्रोमोशन पाकर वह पहले ऐसे सेवारत सांसद और मंत्री बन गए हैं, जिन्होंने प्रादेशिक सेना में कैप्टन की उपाधि हासिल की है। अनुराग ठाकुर ने खुद सोशल मीडिया पर एक वीडियो और पोस्ट करके जानकारी दी और खुशी जताई।

अनुराग ठाकुर ने पोस्ट में लिखा कि जुलाई 2016 में मैं टेरिटोरियल आर्मी में रेग्युलर ऑफिसर की तरह लेफ्टिनेंट के पद पर कमीशन हुआ था। आज मुझे बताते हुए गर्व हो रहा है कि मैं प्रोमोट होकर कैप्टन बन गया हूं। भारत माता और तिरंगे के लिए मैं हर फर्ज निभाने को हमेशा तैयार हूं। जय हिंद’।अपनी इस उपलब्धि को उन्होंने भारतीय सेना व सवा सौ करोड़ देशवासियों को समर्पित किया है। अनुराग ठाकुर वर्तमान में 124 सिख बटालियन के लेफ्टिनेंट के बाद अब कैप्टन के रूप में अपनी सेवाएं देंगे।

सेना में कैप्टन पद पर पदोन्नत होने के बाद अनुराग ठाकुर ने संसद भवन जाकर स्पीकर ओम बिड़ला से मुलाकात की। उन्‍होंने कहा कि यह मेरे परिवार की तीसरी पीढ़ी है, जो सशस्त्र बलों में सेवारत है। यह सेना और संसद दोनों का हिस्सा होने का सम्मान है। मैं एक निर्वाचन क्षेत्र और राज्य से आता हूं, जहां हर तीसरे घर के लोग सेना में सेवा करते हैं। परमवीर चक्र से सम्मानित होने वाले पहले सैन्य अधिकारी केवल हिमाचल प्रदेश के थे। मैं भारत माता और देशवासियों के प्रति कर्तव्य के आह्वान के लिए अपनी प्रतिबद्धता की पुष्टि करता हूं।

हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री प्रेम कुमार धूमल के पुत्र अनुराग ठाकुर हमीरपुर के वर्तमान सांसद हैं। अनुराग का जन्‍म 24 अक्‍टूबर 1974 को हमीरपुर में हुआ था। अनुराग ने जालंधर के दोआबा कॉलेज से स्‍नातक की डिग्री हासिल की है। मई 2008 के लोकसभा चुनाव में वे पहली बार लोकसभा सदस्‍य निर्वाचित हुए। इसके बाद 2009 में दूसरी बार उन्‍हें लोकसभा सदस्‍य के रूप में चुना गया। वे 31 अगस्‍त 2009 के बाद से परिवहन, पर्यटन और संस्‍कृति समिति तथा ऊर्जा मंत्रालय की परामर्श समिति के सदस्‍य हैं।

राजनीति के अलावा अनुराग खेलों से भी जुड़े हुए हैं। 2001 में वे भारतीय जूनियर क्रिकेट टीम के चयनकर्ता बने थे। इसके बाद अनुराग हिमाचल प्रदेश क्रिकेट एसोशिएशन के अध्‍यक्ष रह चुके हैं और वर्तमान में BCCI के सह-सचिव हैं। 25 साल की उम्र में अनुराग हिमाचल प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के सबसे कम उम्र के अध्यक्ष बने। वह भाजपा अध्यक्ष नितिन गडकरी द्वारा अखिल भारतीय जनता युवा मोर्चा के अध्यक्ष नियुक्त किए गए हैं। अनुराग 34वें और दूसरे कम उम्र के अध्यक्ष हैं।

20 जनवरी 2019 को अनुराग ठाकुर को संसद रत्न सम्मान से सम्मानित किया गया था। वह भारतीय जूनियर क्रिकेट टीमों का चयन करने के लिए वर्ष 2001 में 26 साल की उम्र में सबसे युवा राष्ट्रीय चयनकर्ता बने। हिमाचल प्रदेश राइफल एसोसिएशन के अध्यक्ष बने। हिमाचल प्रदेश ओलंपिक संघ के महासचिव बने। हॉकी हिमाचल प्रदेश के महासचिव बने। भारतीय ओलंपिक संघ के कार्यकारी सदस्य भी बने। BCCI के संयुक्त सचिव भी रहे।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *