केरल की सबसे हॉट सीट ‘नेमोम’ से रिपोर्ट: भाजपा को पहली सीट दिलाने वाले राजगोपाल अब नहीं लड़ेंगे, पूर्व राज्यपाल कुमनम राजशेखरन बने प्रत्याशी


  • Hindi News
  • National
  • Rajagopal, Who Got BJP’s First Seat, Will No Longer Fight, Former Governor Kummanam Rajasekharan Becomes Candidate

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

तिरुअनंतपुरम6 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

भाजपा को पहली सीट दिलाने वाले राजगोपाल।

तिरुअनंतपुरम की नेमोम सीट राज्य की सबसे चर्चित सीट बन गई है। एक हफ्ते से चर्चा थी कि राज्य के दो बार के मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ओमान चांडी इस बार इस सीट से चुनाव लड़ने वाले हैं। हालांकि लंबी जद्दोजहद के बाद कांग्रेस की लिस्ट आ गई है। कांग्रेस ने भाजपा को उसकी पहली जीती सीट पर हराने के लिए पूर्व सीएम के करुणाकरण के बेटे और 4 बार के सांसद के मुरलीधरन को उतारा है। नेमोम से करुणाकरण भी लड़ते थे।

नेमोम वही सीट है, जहां पहली बार 2016 में भाजपा जीती थी और ओलनचेरी राजगोपाल विधायक बने थे। राजगोपाल 5 दशक से भी ज्यादा समय से भाजपा में हैं। अटल सरकार में वह केंद्रीय मंत्री भी रह चुके हैं। राजगोपाल ने दैनिक भास्कर को बताया, ‘मैं इस बार नेमोम से नहीं लड़ूंगा, क्योंकि मैं 93 साल का हो चुका हूं। अब युवा को मौका मिलना चाहिए। इस सीट से मेरी जगह मिजोरम के पूर्व राज्यपाल और प्रदेश के पूर्व अध्यक्ष कुमनम राजशेखरन लड़ेंगे।’ भाजपा की रविवार को जारी लिस्ट में यहां से कुमनम का नाम हैं।

नेमोम का नाम लेते ही राजगोपाल मुस्कुरा देते हैं। वे कहते हैं, ‘इस सीट से पूर्व सीएम करुणाकरण भी लड़ते थे। कांग्रेस यहां से ओमान चांडी को उतारने की कोशिश में थी। ऐसा इसलिए क्योंकि पिछली बार मेरी वजह से कांग्रेस तीसरे नंबर पर थी।’ राजगोपाल पहली बार केरल में जन संघ के टिकट पर 1970 में चुनाव लड़े थे। 5 दशक की राजनीतिक पारी के बारे में उन्होंने कहा कि मैं नेमोम में पिछली बार जीतने से पहले 13-14 चुनाव यहां हार चुका था।

अटल और नरेंद्र मोदी में क्या अंतर है? इस पर राजगोपाल कहते हैं कि अटल जी डिप्लोमेटिक थे, तब स्थिर सरकार नहीं थी। मोदी जी डायरेक्ट डीलिंग करते हैं, उनसे कई गुना आगे हैं। क्या भाजपा की एक से ज्यादा सीट आएगी? इस पर राजगोपाल ने कहा- निश्चित तौर पर भाजपा दहाई तक पहुंचेगी।

भाजपा 2019 के चुनाव में नेमोम में आगे थी
तिरुअनंतपुरम में 2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के शशि थरूर 1 लाख वोटों से जीते थे। इसके बावजूद नेमोन विधानसभा सीट पर भाजपा के राजशेखरन उनसे 12 हजार वोट से आगे थे। दिसंबर 2020 के निकाय चुनाव में भाजपा ने नेमोम इलाके के 22 में से 14 वॉर्ड में जीत दर्ज की है। इस सीट पर 65% हिंदू वोटर हैं।

भाजपा में बड़े चेहरों को टिकट, कांग्रेस में बगावत
केरल में कांग्रेस व भाजपा की लिस्ट आ गई है। यूडीएफ के नेतृत्व वाली कांग्रेस 92 सीटों पर लड़ रही है। इसमें 86 सीटों के लिए उम्मीदवार घोषित कर दिए हैं। लिस्ट आते ही टिकट नहीं मिलने से राज्य महिला मोर्चा की अध्यक्ष ने इस्तीफा दे दिया है। वहीं, भाजपा ने 115 सीटों पर प्रत्याशी घोषित कर दिए हैं। गृहमंत्री अमित शाह के निर्देश के बाद उसने राज्य के अपने सभी बड़े नेताओं को मैदान में उतार दिया है। लिस्ट में दो मुस्लिम और 8 ईसाई चेहरे भी हैं।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *