कोल्ड चेन सिस्टम फेल: जांजगीर-चांपा के चंद्रपुर में कोरोना वैक्सीन का वायल जम गया, 16 फेंकने पड़े


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रायपुर2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

फाइल फोटो।

जांजगीर चांपा जिले के चंद्रपुर में कोल्ड सिस्टम फेल हो गया। यहां कोल्ड चेन में 2 से 8 डिग्री के बीच का टेंपरेचर मेंटन नहीं रखने के कारण कोविशील्ड वैक्सीन की पूरी एक वायल जमकर खराब हो गई। इसके चलते उसके साथ रखे 16 वायल और फेंकने पड़ गए। हर दिन की रिपोर्ट में पहले वैक्सीन खराब होने की जानकारी जिले से नहीं भेजी गई, लेकिन बाद में जांच में वैक्सीन खराब होने का पता चला।

राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉ. अमरसिंह ठाकुर के मुताबिक जांजगीर चांपा के चंद्रपुर में एक वायल जम गया था, इसलिए वहां साथ रखे 16 वायल को नष्ट करना पड़ गया है। आगे इस तरह की चूक न हो इसके लिए सभी जिलो को कहा गया है। दरअसल, कोरोना वैक्सीनेशन के लिए हर जगह वैक्सीन को वैक्सीन कैरियर में भेजा जा रहा है, एक बक्से में उस दिन के हिसाब से तय किए वायल भेजे जा रहे हैं। हर एक वैक्सीन बूथ को उस दिन की निर्धारित की गई संख्या के अलावा एक वायल अतिरिक्त दिया जाता है, ताकि अगर कोई वायल टूट जाए तो अतिरिक्त वायल से टीकाकरण किया जा सके। एक वायल जम जाने के कारण एहतियात के तौर पर वैक्सीन कैरियर में(सामान्य तौर पर कोल्ड वैक्सीन बॉक्स)में रखे गए बाकी 16 वायल को भी फेंकना पड़ा।

आइसपैक में रखे फिर भी जमा वायल
एक बॉक्स में वैक्सीन के वायल पांच से छह आइसपैक के बीच में रखे जाते हैं। चंद्रपुर में भी आइसपैक के बीच में ही वैक्सीन रखी गई थी, लेकिन माना जा रहा है कि लापरवाही के कारण बॉक्स में इसे 2 से 8 डिग्री तापमान के बीच मेंटेन नहीं रखा जा सका। इस वजह से वायल पूरी तरह जमकर पाउडर बन गया।

कोरोना वैक्सीनेशन की गाइडलाइन के मुताबिक कोविशील्ड वैक्सीन को किसी भी जगह स्टोर किया जाए, वहां उसे हर वक्त 2 से 8 डिग्री के बीच रखना जरूरी है। प्रदेश में हर जिले और वैक्सीन को स्थानीय स्तर पर स्टोर करने के लिए 2 से 8 डिग्री तापमान को मेंटेन रखने वाले विशेष रेफ्रिजरेटर भी दिए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *