चुनाव परिणाम के खिलाफ याचिका: ममता के बाद चुनाव हारने वाले 4 TMC नेताओं ने कलकत्ता हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया; चुनाव प्रक्रिया में धांधली का आरोप लगाया


  • Hindi News
  • National
  • Mamata Banerjee Vs Shubhendu Adhikari | Mamata Banerjee, Shubhendu Adhikari, Narendra Modi, Calcutta High Court, West Bengal Assembly Polls 2021

कोलकाता3 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बाद बंगाल विधानसभा चुनाव हारने वाले 4 और तृणमूल कांग्रेस नेताओं ने कलकत्ता हाईकोर्ट में याचिका लगाई है। याचिका में चुनाव प्रक्रिया में धांधली का आरोप लगाया गया है और परिणाम की समीक्षा की मांग की गई है।

याचिका दायर करने वाले नेताओं में अलोरानी सरकार, संग्राम कुमार दोलाई, मानस मजूमदार और शांतिराम महतो शामिल हैं। इन सभी को विधानसभा चुनाव में भाजपा नेताओं के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। याचिका हाईकोर्ट की अलग-अलग बेंच ने शुक्रवार को सुना और अगली सुनवाई जून-जुलाई तक टाल दी।

4 नेताओं की सुनवाई में क्या हुआ

  • अलोरानी सरकार: सरकार ने बोनगांव विधानसभा सीट से चुनाव लड़ा था। इन्हें भाजपा के स्वपन मजूमदार ने 2008 वोट से हराया था। सराकर ने मजूमदार पर शैक्षणिक योग्यता का फर्जी प्रमाण-पत्र लगाने का आरोप लगाया है। जस्टिस बिबेक चौधरी की बेंच ने मजूमदार को 2 हफ्ते में एफिडेविट पेश करने को कहा है। अगली सुनवाई 16 जून को होगी।
  • संग्राम कुमार दोलाई: दोलाई को मोयना विधानसभा सीट पर भाजपा के अशोक डिंडा के हाथों 1260 वोट से हार झेलनी पड़ी थी। दोलाई ने मतगणना में धांधली का आरोप लगाते हुए रिजल्ट को फिर से रिव्यू करने की मांग की है। जस्टिस तीर्थांकर घोष ने मामले की अगली सुनवाई 25 जून को तय की है।
  • मानस मजूमदार: मजूमदार ने गोघाट विधानसभा सीट पर TMC के टिकट पर चुनाव लड़ा था। उन्हें भाजपा के बिश्वनाथ करक के हाथों पर हार का सामना करना पड़ा था। मजूमदार के आरोप लगाया है कि करक ने नामांकन के दौरान पेश किए गए एफिडेविट में अपराधिक प्रकरण छिपाए। जस्टिस सवर घोष ने मामले की अगली सुनवाई 9 जुलाई तय की है।
  • शांतिराम महतो: शांतिराम को बलरामपुर विधानसभा सीट से भाजपा के बनेश्वर महतो ने हराया था। उनकी हार का अतंर 423 वोटों का था। जस्टिस शुभाशीष दासगुप्ता ने मामले की सुनवाई की और अगली तारीख 15 जुलाई तय की।

ममता ने 17 जून को लगाई थी याचिका
इससे पहले नंदीग्राम सीट से चुनाव हारीं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भाजपा प्रत्याशी और विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी की जीत के खिलाफ कलकत्ता हाईकोर्ट पहुंच गई थीं। ममता ने नंदीग्राम में पूरी चुनाव प्रक्रिया को चुनौती देते हुए हाईकोर्ट में याचिका दायर की है। इस पर 17 जून को कोर्ट ने अगली सुनवाई 24 जून तक के लिए टाल दी थी।

बंगाल में 8 चरणों में हुए चुनाव के बाद 2 मई को रिजल्ट आए थे। इसमें सबकी निगाहें राज्य की हॉट सीट नंदीग्राम पर थी। यहां भाजपा प्रत्याशी और कभी ममता के खास रहे शुभेंदु अधिकारी ने रोमांचक मुकाबले में उन्हें 1956 वोटों से हरा दिया था। यह इस बार के चुनाव का सबसे बड़ा उलटफेर है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *