जतिंदर सैंटी हत्या मामला: महिला के मकान मालिक से थे अवैध संबंध, पति करता था शक, प्रेम में रोड़ा बना तो प्रेमी से मिलकर करा दिया कत्ल


  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • I Had An Illicit Relationship With The Landlord Of The Woman, Husband Used To Suspect Her, She Became A Snag In Love And Then Killed Her Lover

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पटियाला11 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

सीआईए पटियाला पुलिस की गिरफ्त में मृतक की पत्नी, प्रेमी और कत्ल में मदद करने वाला आरोपी।

  • 8 दिन पहले नहर से मिली थी लाश, पत्नी ने ही कराई थी हत्या

पुलिस ने नाभा में 8 दिन पहले हुए ड्राइवर जतिंदर कुमार उर्फ सैंटी निवासी दशमेश काॅलोनी, पटियाला गेट, नाभा के कत्ल के मामले को सुलझा लिया है। पुलिस के अनुसार कत्ल मृतक की पत्नी ने ही प्रेमी से मिलकर करवाया था। सीआईए पटियाला पुaलिस ने अाराेपी महिला समेत 3 लाेगाें काे गिरफ्तार कर लिया है। एसएसपी बिक्रमजीत दुग्गल ने बताया कि 30 जनवरी को रघवीर सिंह निवासी गिल स्ट्रीट मैहस गेट, नाभा ने थाना कोतवाली नाभा में सूचना दी थी कि उसका दामाद जतिंदर कुमार उर्फ सैंटी निवासी दशमेश काॅलोनी, पटियाला गेट नाभा में रहता था।

वह 4-5 महीने से बोलेरो गाड़ी किराये पर चलाता था। 28 जनवरी को जतिंदर गाड़ी लेकर मलेरकोटला गया। जहां से वह मानसा और लुधियाना गया था। 29 को मलेरकोटला से नाभा आ रहा था तो शाम करीब साढ़े 8 बजे अमरगढ़ के पास उसकी पत्नी सरबजीत कौर उर्फ महक का फोन से संपर्क टूट गया। 30 जनवरी काे थाना कोतवाली नाभा में केस दर्ज हुआ।

बोलेरो रोहटी पुल से जोड़े पुल वाली साइड रोड पर मिली थी। 2 फरवरी को जतिंदर की लाश रोहटी पुल नहर से बरामद हुई। किसी ने जतिंदर का रस्सी से गला घाेंट कत्ल कर लाश खुर्दबुर्द करने के लिए नहर में फेंक दिया था। गाड़ी नहर की पटड़ी पर खड़ी कर दी थी। इसके बाद पुलिस ने हत्या का केस दर्ज किया था। एसएसपी दुग्गल ने बताया कि कत्ल केस को ट्रेस करने के लिए एसपी हरमीत सिंह और डीएसपी कृष्ण कुमार पांथे के निर्देश पर इंस्पेक्टर राहुल कौंसिल इंचार्ज सीआईए स्टाफ पटियाला की टीमें ने अमरगढ़ से रोहटी पुल तक के सीसीटीवी रिकार्डिंग चेक की।

जांच में कत्ल में हरजीत सिंह पुत्र दविंदर सिंह और हरबलवीर सिंह पुत्र राजवीर सिंह वासियान गांव बुर्ज बघेल सिंह वाला थाना अमरगढ़, संगरूर और मृतक की पत्नी सरबजीत कौर उर्फ महक निवासी दसमेश काॅलोनी पटियाला गेट नाभा का नाम सामने आए थे। इसके बाद पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर लिया।

सैंटी ने अपनी पत्नी की प्रेमी हरजीत के साथ मोबाइल में देख ली थी सेल्फी – एसएसपी ने बताया कि साेमवार को एसअाई हरिंदर सिंह सीआईए स्टाफ समेत पुलिस ने टी-पाॅइंट मोहाली-अमरगढ़ रोड पर बाइक सवार हरजीत सिंह, हरबलवीर सिंह और सरबजीत कौर को पकड़ है। पूछताछ में पता चला कि 2013 में सरबजीत कौर की सैंटी से लव मैरिज हुई थी। उसके 7 साल की बेटी व डेढ़ साल का बेटा है। वह अमरगढ़ में किराये पर रहते हुए सिलाई करती थी। यहां पहचान हरजीत के परिवार से हो गई। सैंटी और उसकी पत्नी महक का हरजीत के घर आना जाना हो गया।

2 साल पहले सैंटी परिवार समेत बुर्ज बघेल सिंह वाला में हरजीत के घर में किराये पर रहने लगा था। जहां हरजीत व सरबजीत के अवैध संबंध बन गए। सैंटी ने अपनी पत्नी महक और हरजीत की सेल्फी फोटो अपनी पत्नी के फोन में देख ली थी। इस पर सैंटी को महक पर शक हो गया। कुछ महीने पहले सैंटी का हरजीत से फोन पर झगड़ा भी हुआ था।

इसी वजह से सैंटी ने महक को पीटा भी था। फिर सैंटी दशमेश काॅलोनी पटियाला गेट नाभा में रहने लगा था। पर महक व हरजीत ने सैंटी की गैरमौजूदगी में मिलना जारी रखा। महक ने सैंटी से चोरी हरजीत से बातचीत के लिए अलग मोबाइल फोन रखा था। हरजीत व महक सैंटी को प्रेम में रोड़ा समझते थे और कत्ल का प्लान बनाया था।

कबूलनामा-हरजीत ने दोस्त से मिल अमरगढ़ में गला घोंट किया था कत्ल- एसएसपी ने बताया कि पूछताछ में सामने आया कि हरजीत की अपने ही गांव के हरबलवीर सिंह उर्फ बौना से दोस्ती थी, जिसे सैंटी का कत्ल करने को तैयार कर लिया था। याेजना के तहत 28 जनवरी को सैंटी मलेरकोटला से बोलेरो में माल भर कर मानसा और लुधियाना गया था। 29 जनवरी को वह मलेरकोटला से नाभा आ रहा था तो उसने पत्नी महक को फोन पर वापस आने की सूचना दी। फिर सरबजीत ने हरजीत को इसकी सूचना दी।

इसके बाद हरजीत ने सैंटी के साथ फोन पर संपर्क कर अमरगढ़ में रोक लिया और दोस्त हरबलवीर को भी वहां बुला सैंटी का रस्सी से गला घोंट कत्ल कर दिया। कत्ल के बाद लाश बोलेरो में डाल रोहटी पुल के पास नहर में फेंक दिया। गाड़ी सुनसान पटड़ी पर जोड़े पुल वाली साइड खड़ा कर दी। एसएसपी ने बताया कि अाराेपी हरजीत सिंह, हरबलवीर सिंह और सरबजीत कौर उर्फ महक को अदालत में पेश कर रिमांड लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *