जांच: सोना लूट कांड में दाे बड़े मामलाें के दागियाें का कनेक्शन तलाश रही है पुलिस



Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भागलपुर6 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • फुटेज से बदमाश की पहचान नहीं होने के कारण तकनीकी जांच में लग सकता है समय
  • हिरासत में लिए गए अमरपुर के स्वर्ण व्यवसायी संतोष पोद्दार से पूछताछ जारी

90 लाख के सोना लूट में पुलिस शहर के 2 बड़े लूट और डकैती में शामिल रहे बदमाशों का कनेक्शन तलाश रही है। 19 सितंबर 2013 को कोतवाली इलाके के आनंद चिकित्सालय रोड में स्वर्णिका ज्वेलर्स का 46 लाख सोना लूट लिया गया था। इसमें मामले में 11 बदमाशों की संलिप्तता का खुलासा हुआ था।

घटना में अमरपुर कनेक्शन भी सामने आया था। इस बार 90 लाख के सोना लूट में पुलिस ने अमरपुर बाजार निवासी स्वर्ण व्यवसायी संतोष पोद्दार को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। परिजनों के मुताबिक, संतोष की वारदात में कोई भूमिका नहीं है। पुलिस सारे एंगल से पूछताछ कर चुकी है।

इसके बाद भी उसे थाने में रखा गया है। इसके अलावा तिलकामांझी इलाके के चर्चित डकैती में शामिल रहे बदमाशों की भी कुंडली पुलिस खंगाल रही है। नवगछिया के भी बदमाश पुलिस की राडार पर हैं। उधर, एसआईटी अब तक किसी ठोस नतीजे पर नहीं पहुंची है।

तिलकामांझी इलाके के एक डकैती केस में शामिल दागियों की भी तलाश
लूट में शामिल बदमाशों के साथ-साथ पुलिस लोकल लिंक की भी सरगर्मी से तलाश कर रही है। वारदात में शामिल अपराधी अगर बाहरी हैं तो उनका कोई लोकल लिंक अवश्य होगा। जिनके जरिए बदमाशों तक 90 लाख के सोने की जानकारी पहुंची। इसके अलावा रेकी में शामिल बदमाश को भी तलाशा जा रहा है। इसके लिए रेलवे स्टेशन, स्टेशन चौक समेत अन्य स्थानों के सीसीटीवी कैमरे खंगाले जा रहे हैं। तस्वीर स्पष्ट नहीं होने के कारण अनुसंधान में समय लग सकता है।

पॉजिटिव दिशा में बढ़ रही है टीम, बेहतर परिणाम की उम्मीद : एसएसपी
एसएसपी निताशा गुड़िया ने बताया कि एसआईटी पॉजिटिव दिशा में आगे बढ़ रही है। कुछ-कुछ सुराग मिले हैं। जल्द ही कुछ बेहतर परिणाम मिलने की उम्मीद है। एसआईटी हेड सिटी एएसपी के साथ मिलकर केस में अब तक हुए प्रगति की रिव्यू की गई है।

लूट के विराेध में बंद रहा साेनापट्टी, एसएसपी ऑफिस के बाहर प्रदर्शन
90 लाख के लूटे गए सोने की बरामदगी और व्यवसायियाें की सुरक्षा की मांग को लेकर सोमवार को भागलपुर जिला स्वर्णकार संघ के बैनर तले स्वर्ण व्यवसायियों ने एसएसपी ऑफिस के बाहर प्रदर्शन किया। संघ के अध्यक्ष शिव कुमार वर्मा के नेतृत्व में एक प्रतिधिमंडल एसएसपी निताशा गुड़िया से मिला और ज्ञापन सौंपा।

उन्हाेंने लूटे गए साेने की बरामदगी और लुटेराें काे पकड़ने की मांग की। अध्यक्ष ने कहा कि स्वर्ण व्यवसायी अपराधियों के सॉफ्ट टारगेट रहे हैं। प्रशासन जरूरतमंद स्वर्ण व्यवसायियों को हथियार का लाइसेंस दे। एसएसपी ने उन्हें भरोसा दिलाया कि पुलिस टीम इस मामले के खुलासे की दिशा में काम कर रही है। हथियार का लाइसेंस उनके स्तर से निर्गत नहीं होता है। अगर किसी व्यवसायी का हथियार का लाइसेंस थाना, डीएसपी या एसएसपी ऑफिस में लंबित है तो तुरंत बताए, उसका निबटारा होगा।

इससे पहले लूट के विराेध में साेमवार काे सोनापट्टी बाजार दोपहर 3 बजे तक बंद रहा। बाजार बंद कराने के पहुंचे जिला स्वर्णकार संघ के पदाधिकारियों का कुछ दुकानदारों ने विरोध कर दिया, लेकिन बाद में समझा पर दुकानाें के शटर गिराए। सोनापट्टी बंद रहने से लगभग एक करोड़ का कारोबार प्रभावित रहा।

चेंबर के अध्यक्ष व अन्य पदाधिकारी एसएसपी से मिले, 20 होगी बैठक
व्यवसायियों की सुरक्षा और शहर की प्रमुख समस्याओं के समाधान के लिए चेंबर के अध्यक्ष अशोक भिवानीवाला के नेतृत्व में भी एक प्रतिनिधिमंडल एसएसपी से मिला। चेंबर ने शहर में ट्रैफिक जाम, अतिक्रमण की ओर से एसएसपी का ध्यान दिलाया। एसएसपी ने कहा कि 20 फरवरी को व्यवसायियाें के साथ मीटिंग रखी गई है। इसमें लोगों से परिचय भी होगा और शहर की समस्या के समाधान की दिशा में पुलिस के स्तर के क्या पहल की जा सकती है, इस पर चर्चा होगी। एसएसपी से मिलने वालों में अध्यक्ष के अलावा श्रवण बाजोरिया, आशीष सर्राफ व अन्य लोग शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *