जुलाई से संसद की स्टैंडिंग कमेटियों की मीटिंग: कांग्रेस समेत अन्य पार्टियों ने वर्चुअल मीटिंग की मांग की थी; लीक होने के डर से दोनों सदनों ने मांग ठुकराई


  • Hindi News
  • National
  • Virtual Sessions Rejected Parliamentary Standing Committees Likely To Resume Meetings In July

नई दिल्ली14 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

संसद की विभिन्न स्टैंडिंग कमेटियों की बैठकें जुलाई से शुरू हो सकती हैं। कोरोना की दूसरी लहर की वजह से स्टैडिंग कमेटियों की बैठकें नहीं हो रही थीं। सूत्रों के मुताबिक, संसद के ज्यादातर सदस्य, वरिष्ठ अधिकारी और स्टाफ अब वैक्सीनेट हो चुके हैं और देश में कोरोना का कहर भी अब कमजोर पड़ रहा है। ऐसे में अब इन बैठकों का आयोजन अगले महीने से किया जा सकता है। दरअसल, कांग्रेस और कुछ अन्य पार्टियों के नेताओं ने वर्चुअल मीटिंग्स की इजाजत मांगी थी। हालांकि, मीटिंग्स लीक होने के डर से दोनों सदनों ने इस मांग को ठुकरा दिया।

समितियों की कार्यवाही गोपनीय होती है
सूत्रों के मुताबिक, इन समितियों की कार्यवाही गोपनीय होती है और उचित सहमति के बिना इसे पब्लिक डोमेन में शेयर नहीं किया जा सकता है। वर्चुअल संसदीय स्थाई समिति की बैठकों को लेकर फिलहाल कोई प्रावधान नहीं है। जब कुछ सदस्यों ने इन बैठकों को वर्चुअली बुलाने के लिए कहा, तो दोनों सदनों के सचिवालयों ने इसे खारिज कर दिया, क्योंकि ये बैठकें पूरी तरह से गोपनीय होती हैं और इन बैठकों का वीडियो लीक होने की संभावना वर्चुअल मीटिंग्स में ज्यादा होती है।

राष्ट्र की सुरक्षा से संबंधित हैं समितियां
एक वरिष्ठ मंत्री से जब वर्चुअल मीटिंग के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि कोई वर्चुअल मीटिंग नहीं होनी चाहिए। ये सबसे गोपनीय बैठकें हैं और राष्ट्र की सुरक्षा से संबंधित हैं। सूत्रों के मुताबिक, सदस्यों को पहले ही बता दिया गया है कि इन बैठकों की गोपनीयता और संवेदनशील प्रकृति के कारण वर्चुअल बैठकें संभव नहीं हैं।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *