टनकपुर में ट्रेन रिवर्स: 35 किलोमीटर तक उल्टी दिशा में दौड़ी ट्रेन, जानवरों को बचाने की कोशिश में तकनीकी खराबी आई, ड्राइवर-गार्ड निलंबित


  • Hindi News
  • National
  • Trains Ran In The Opposite Direction For 35 Kilometers, Technical Fault Occurred While Trying To Save Animals, Driver guard Suspended; Second Major Accident Postponed In 1 Week

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

देहरादून6 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

उत्तराखंड में एक बड़ा हादसा टल गया। दिल्ली से उत्तराखंड के टनकपुर के लिए रवाना हुई पूर्णागिरि जनशताब्दी एक्सप्रेस से यात्रा कर रहे लोग तब सकते में पड़ गए जब उनकी ट्रेन उल्टी दिशा यानी रिवर्स में दौड़ने लगी। रिवर्स में भी ट्रेन 1 या 2 किलोमीटर नहीं बल्कि 35 किलोमीटर तक चली। कई यात्रियों को तो इसका पता नहीं चला, लेकिन जिसने इसे देखा वो उलझन में पड़ गया। राहत की बात ये है कि इस हादसे में किसी को कोई नुकसान नहीं हुआ। खटीमा में ट्रेन के रुकने के बाद यात्रियों को बस की मदद से टनकपुर तक भेजा गया।

रिवर्स में कैसे चलने लगी ट्रेन?
खबरों के मुताबिक ड्राइवर ने ट्रैक पर मौजूद जानवरों को बचाने के लिए अचानक ब्रेक लगाए। इसके बाद पूर्णागिरि जनशताब्दी एक्सप्रेस में तकनीकी खराबी आ गई और ड्राइवर ने ट्रेन का कंट्रोल खो दिया। इसी दौरान ट्रेन उल्टी दिशा में दौड़ने लगी।

लोको पायलट और गार्ड निलंबित
इस घटना के बाद मामले की जांच की जा रही है। ऐसा क्यों हुआ इसका पता लगाने में टीम जुटी है। इसकी जानकारी मिलते ही लोको पायलट और गार्ड को निलंबित कर दिए गए। पूर्वोत्तर रेलवे की ओर से इसकी जानकारी दी गई।

पूर्वोत्तर रेलवे ने सोशल मीडिया पर घटना की जानकारी देते हुए लिखा, “17.03.2021 को खटीमा-टनकपुर सेक्शन के बीच मवेशी के कारण एक घटना घटी। ट्रेन खटीमा यार्ड से थोड़ी ही दूर सुरक्षित रूप से रुक गई। कोई भी पटरी से नहीं उतरी और सभी यात्रियों को सुरक्षित रूप से टनकपुर पहुंचाया गया। लोको पायलट और गार्ड को घटना में निलंबित कर दिया गया।

एक सप्ताह में दूसरा बड़ा हादसा टला
एक सप्ताह के भीतर उत्तराखंड में यह दूसरी घटना है जब बड़ा ट्रेन हादसा टला है। शनिवार को दिल्ली-देहरादून शताब्दी एक्सप्रेस के एक कोच में आग लग गई थी। उस घटना में भी कोई यात्री घायल नहीं हुआ था।

शनिवार को हुए हादसे के वक्त धधकता कोच ट्रेन से अलग कर दिया गया था। गनीमत ये रही थी कि बोगी पहले ही खाली हो चुकी थी।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *