टीके पर हाईकोर्ट की टिप्पणी: दिल्ली हाईकाेर्ट ने पूछा- वैक्सीन की दूसरी खुराक नहीं थी ताे टीकाकरण केंद्र की धूमधाम से शुरुआत क्याें की?


  • Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • Delhi High Court Asked – If There Was No Second Dose Of Vaccine, Why Did The Vaccination Center Start With Pomp?

नई दिल्ली3 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

आपने (दिल्ली सरकार) इसे (टीकाकरण) क्यों शुरू किया, अगर आपको यकीन नहीं था कि आप दूसरी खुराक भी दे सकते हैं? आपको रुक जाना चाहिए था। महाराष्ट्र ने तब रोक दिया, जब उसने पाया कि वह दूसरी खुराक नहीं दे सकता।’ -दिल्ली हाईकोर्ट

दिल्ली हाईकोर्ट ने टीके की कमी काे लेकर बुधवार काे दिल्ली की केजरीवाल सरकार पर सख्त टिप्पणी की। हाईकाेर्ट ने कहा कि अगर सरकार यह सुनिश्चित नहीं कर सकती कि लोगों को निर्धारित समय में कोवैक्सीन टीके की दोनों खुराक लगा दी जाएं, तो इतने धूमधाम से टीकाकरण की शुरुआत क्याें की?

जस्टिस रेखा पल्ली ने दिल्ली सरकार को नोटिस जारी किया। इसमें सरकार काे यह बताने के लिए कहा है कि क्या वह कोवैक्सीन की पहली खुराक ले चुके लोगों को दूसरी खुराक मुहैया करा सकती है।

बाॅम्बे हाईकाेर्ट : बुजुर्गाें के लिए घर में क्याें नहीं?

बाॅम्बे हाईकाेर्ट ने कहा है कि अगर काॅलाेनियाें में जाकर टीका लगाया जा रहा है, ताे बुजुर्गाें, दिव्यांगाें के लिए घर-घर जाकर टीका लगाने का कदम क्याें नहीं उठाया जा रहा है? चीफ जस्टिस दीपांकर दत्ता की बेंच जनहित याचिका पर बुधवार काे सुनवाई कर रही थी। याचिका में केंद्र और राज्य सरकार काे घर-घर टीकाकरण चलाने का निर्देश देने की मांग की गई है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *