ट्विटर पर ट्रोल हुए UP के सीएम: योगी ने लिखा था- प्रदेश के युवा किसी के बहकावे में न आएं, जिसको प्रॉपर्टी जब्त करवानी है वो गलत काम करे; यूजर्स बोले- महाराज बेरोजगार युवाओं को धमकी दे रहे


लखनऊ6 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

सीएम योगी के ट्विट पर उत्तर प्रदेश की सियासत गर्म हो गई है। (फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने एक ट्विट के लिए सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए हैं। योगी ने बुधवार को आबकारी विभाग के लिए चयनित उम्मीदवारों को नियुक्ति पत्र बांटने के बाद लगातार तीन ट्वीट किया। लिखा, ‘प्रदेश के युवाओं से मेरी अपील है कि वह किसी के बहकावे में न आएं। आज कोई गलत नहीं कर सकता है। जिसको अपनी प्रॉपर्टी जब्त करवानी हो, वह गलत कार्य करे।’ देखते ही देखते सीएम का ये ट्विट वायरल हो गया। योगी राजनीतिक पार्टियों से लेकर आम यूजर्स तक के निशाने पर आ गए। यूजर्स ने इसे युवाओं के लिए धमकी बताया। कहा कि प्रदेश में रोजगार मांग रहे युवाओं को महाराज धमकी दे रहे हैं।

सीएम योगी आदित्यनाथ का ट्वीट

सीएम योगी आदित्यनाथ का ट्वीट

सीएम की ये कैसी भाषा?
सीएम के इस ट्वीट पर ट्रोलर्स सीएम की भाषा को लेकर सवाल उठा रहें है। कहा जा रहा है कि सीएम की बेरोजगारों को धमकी दे रहें है। युवा कांग्रेस के नेता श्रीनिवासन लिखते हैं, “क्या बोल रहे है योगी जी..युवाओं की प्रॉपर्टी जब्त करेंगे और..? अपना टाइम भूल गए?”

दिलिप मंडल लिखते है कि “आरोप है कि ओबीसी और दलितों की 15000 नौकरियों की चोरी हुई है। मुझे भी लगता है कि आपकी “ईमानदार” सरकार में ये कैसे संभव है? आप हर कैंडिडेट की कटेगरी वाइज पूरी रैंकिंग वेबसाइट पर डाल दीजिए। विरोधियों का मुँह बंद कर दीजिए।”

अभ्यर्थियों के आंदोलन में शामिल हुए थे चंद्रेशेखर
बुधवार को लखनऊ के ईको गॉर्डन में बुधवार को 69000 शिक्षक भर्ती में ओबीसी और एसी कोटे में गड़बड़ी का आरोप लगाकर अभ्यर्थियों ने आंदोलन किया। इस दौरान उनका समर्थन करने भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर पहुंचे। उन्होंने अभ्यर्थियों से बातचीत भी की। इससे पहले मंगलवार को सीएम ऑफिस के बाहर प्रदर्शन करने पर अभ्यर्थियों पर लाठी भांजी गई थी। उसमें कई घायल हो गए थे। उसी के बाद चंद्रशेखर उनका हाल जानने के लिए पहुंचे थे। 69000 शिक्षक भर्ती में चंद्रशेखर के पहुंचने की खबर के बाद ही सीएम के ट्वीटर हैंडल से तीन ट्वीट हुए, जिसकों लेकर चंद्रशेखर ने भी ट्वीट किया।

भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर का ट्वीट

भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर का ट्वीट

चंद्रशेखर ने कहा- आवाज दबाने की कोशिश

दलितों- पिछड़ों- आदिवासियों को संविधान से मिले हक और अधिकार की रक्षा के लिए आंदोलन जारी रहेगा। इसके लिए अगर चन्द्र शेखर की संपत्ति ज़ब्त होती है तो कोई परवाह नहीं। बाबा साहब के लिखे संविधान की रक्षा के लिए ये भी सही। वैसे, आप तो फ़िलहाल आरक्षण लागू करें। आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने सीएम योगी के ट्वीट पर पलटवार किया। लिखा, यूपी के लोग आपकी धमकियों से डरने वाले नही है। तानाशाहों की गुलामी करना और उनकी गीदड़ धमकियों से डरना संघ और भाजपा के संस्कार होंगे आदित्यनाथ जी। ये चंद्रशेखर आज़ाद और मंगल पांडे जैसे वीर क्रांतिकारियों को जन्म देने वाली पावन और महान भूमि उत्तर प्रदेश है, यहां के लोग ऐसी धमकियों का जवाब देना बखूबी जानते है। इंतजार करिए।’

आम आदमी पार्टी सांसद संजय सिंह का ट्वीट

आम आदमी पार्टी सांसद संजय सिंह का ट्वीट

इसेक बाद पूर्व IAS एसपी सिंह ने भी ट्वीट कर सीएम पर निशाना साधा। उन्होंने लिखा, ‘छात्र आवाज उठाएंगे तो क्या उनकी भी सम्पत्ति ज़ब्त कर लोगे? उनकी शिक्षा, उनकी मेहनत और उनकी प्रतिभा ही उनकी कुल पूंजी है, क्या उसे भी ज़ब्त कर सकोगे? काश की अगर ‘काबिलियत’ भी ज़ब्त की जा सकती, तब शायद सरकार में कुछ सुधार आ सकता था।’

पूर्व नौकरशाह सूर्य प्रताप सिंह का ट्वीट

पूर्व नौकरशाह सूर्य प्रताप सिंह का ट्वीट

आबकारी निरीक्षकों को नियुक्ति पत्र दिया था

सीएम योगी ने बुधवार को ही लोकभवन में एक कार्यक्रम कै दौरान उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा आबकारी निरीक्षकों के पद पर चयनित होकर आए अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र दिया था। इस मौके पर सीएम ने कहा कि अबकारी विभाग की नियुक्ति पारदर्शी निष्पक्ष और शुचिता के साथ सम्पन्न हुई। आज भर्ती प्रक्रिया पर कोई उंगली नहीं उठा सकता। जहां शिकायतें मिली तत्काल सरकार ने कार्रवाई की। आज नौकरियों में वसूली के ठेके बन्द हो गए। अनैतिक कृत्य मे लिप्त लोगो की करीब 1500 करोड़ की संपत्ति हमने जब्त किया गया। 2017 तक जितनी भर्तियां नहीं हुई उससे कहीं ज्यादा साढ़े 4 साल में हमने करवाई है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *