डोमिनिका जेल में मेहुल चौकसी: वहां के एयरपोर्ट पर देखा गया भारत से पहुंचा प्राइवेट जेट; भारत ने डोमिनिका सरकार से चौकसी को सौंपने की मांग की है


  • Hindi News
  • National
  • Mehul Choksi Extradition Update | Mehul Choksi Extradition, Fugitive Businessman Mehul Choksi, PNB Scam, Mehul Choksi, Antigua Prime Minister Gaston Browne

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रोसियू/नई दिल्ली7 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

डोमिनिका के डगलस चार्ल्स एयरपोर्ट पर यह प्लेन देखा गया है।

पंजाब नेशनल बैंक (PNB) घोटाले के आरोपी मेहुल चौकसी के भारत प्रत्यर्पण की कोशिशें तेज हो गई हैं। इस बीच खबर है कि डोमिनिका के डगलस चार्ल्स एयरपोर्ट पर भारत से आया हुआ एक प्राइवेज जेट देखा गया है। एंटीगुआ मीडिया के मुताबिक, एंटीगुआ के प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउन ने यह जानकारी दी है। उधर, एक अन्य रिपोर्ट में कहा गया है कि बॉम्बार्डियर ग्लोबल 5000 विमान कतर के एक एक्जीक्यूटिव का है।

इससे पहले चौकसी की डोमिनिका के जेल से पहली तस्वीर सामने आई थी। सलाखों के पीछे कैद चौकसी स्काई कलर की टी-शर्ट में दिख रहा है। उसके चेहरे पर डर और भय साफ देखा जा सकता है। सबसे बड़ी बात ये है कि उसकी बाएं आंख में चोट के निशान दिख रहे हैं। उसकी आंख लाल है। साथ ही उसके हाथ में भी चोट के निशान देखे जा सकते हैं। उसके वकीलों ने दावा किया है कि चौकसी से मारपीट हुई है।

सलाखों में कैद मेहुल चौकसी की बाईं आंख काफी लाल दिखाई दे रही है। वह काफी डरा हुआ भी नजर आ रहा है।

सलाखों में कैद मेहुल चौकसी की बाईं आंख काफी लाल दिखाई दे रही है। वह काफी डरा हुआ भी नजर आ रहा है।

इंटरपोल ने जारी किया था यलो नोटिस
चौकसी कुछ दिन पहले एंटीगुआ और बारबुडा से लापता हो गया था। इसके बाद इंटरपोल ने उसके खिलाफ यलो नोटिस जारी किया था। बाद में इसी नोटिस को एंटीगुआ सरकार ने भी रिटेन किया। इसके बाद उसकी तलाश तेज कर दी गई थी।

क्यूबा भागने की फिराक में था चौकसी
चौकसी को मंगलवार यानी 25 मई को डोमिनिका में पकड़ा गया था। एंटीगुआ मीडिया ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया कि 62 साल का चौकसी डोमिनिका से क्यूबा भागने की फिराक में था, उसी दौरान उसे CID ने दबोच लिया। सूत्रों के मुताबिक वह एंटीगुआ और बारबुडा से बोट के जरिए डोमिनिका पहुंचा था।

मुंबई में चौकसी के घर की दीवारों पर नोटिस का अंबार
मुंबई के वालकेश्वर में गोकुल अपार्टमेंट की 9वीं और 10वीं मंजिल स्थित मेहुल चौकसी के घर पर ताला लटका हुआ है, लेकिन घर के दरवाजे और दीवारों पर सरकारी नोटिस का ढेर लगा हुआ है। इनमें से अधिकांश नोटिस CBI, ED, इनकम टैक्स और पंजाब नेशनल बैंक सहित कई अन्य बैंकों के हैं। फ्लैट के दरवाजे के पास फर्श पर भी कई सारे नोटिस बिखरे पड़े हैं। ये सारे नोटिस साल 2019 से लेकर 2021 तक के हैं।

2017 में एंटीगुआ-बारबुडा की नागरिकता ली थी
14,500 करोड़ रुपए के पीएनबी घोटाले का आरोपी चौकसी जनवरी 2018 में विदेश भाग गया था। बाद में पता चला कि वह 2017 में ही एंटीगुआ-बारबुडा की नागरिकता ले चुका था। पीएनबी घोटाले की जांच कर रही केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) और प्रवर्तन निदेशालय (ED) जैसी एजेंसिया चौकसी के प्रत्यर्पण की कोशिश में जुटी हैं। मेहुल चौकसी खराब सेहत का हवाला देकर भारत में पेशी पर आने से इनकार कर चुका है। कभी-कभी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ही उसकी पेशी होती है। भारत में उसकी कई संपत्तियां भी जब्त की जा चुकी हैं।

भांजे नीरव को भारत लाने की मिल चुकी है मंजूरी
इस घोटाले का मुख्य आरोपी चौकसी का भांजा नीरव मोदी लंदन की जेल में है। वहां की अदालत और सरकार ने उसके प्रत्यर्पण की मंजूरी भी दे दी है, लेकिन नीरव ने प्रत्यर्पण के फैसले को लंदन के हाईकोर्ट में चुनौती दी है। इस मामले में हाईकोर्ट का फैसला आने में 10 से 12 महीने का वक्त लग सकता है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *