दोस्ती की आड़ में ठगी: जालंधर के ज्वेलर से शादी के बहाने 16.61 लाख के गहने खरीदे, पेमेंट के बदले दिए चैक हुए बाउंस


  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Bought Jewelery Worth Rs. 16.61 Lakh From Jalandhar Jeweler On The Pretext Of Marriage, Check Bounced In Lieu Of Payment

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जालंधर11 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

आरोपियों ने पैसे नहीं दिए तो ज्वेलर ने इसकी शिकायत पुलिस को कर दी। – प्रतीकात्मक फोटो

  • पुलिस ने दंपती व उनके बेटे के खिलाफ दर्ज किया साजिश रचकर ठगी का केस

10 साल की जान-पहचान का फायदा उठा भाटिया मार्केट के प्रिंस ज्वेलर के मालिक के साथ दंपती व उनके बेटे ने मिलकर 16.61 लाख की ठगी कर ली। शादी के बहाने उन्होंने ज्वेलर से गहने खरीदे और पेमेंट के बदले 5 चैक दे दिए लेकिन वो चैक बाद में बाउंस हो गए। इसके बाद पेमेंट मांगी तो वो धमकाने लगे। पुलिस ने जांच के बाद तीनों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

अच्छी जान-पहचान थी, इसलिए चैक से पेमेंट ली

हरबंस नगर की भाटिया मार्केट में SBI के नजदीक प्रिंस ज्वेलर के मालिक संदीप सिंह ने बताया कि बस्ती मिट्‌ठू के रहने वाले गगनदीप सिंह व उसके पिता प्रदीप सिंह को वह पिछले 10 वर्षों से जानता था। उनके साथ अच्छी जान-पहचान थी। पिछले साल जनवरी महीने में बाप-बेटे उनके पास आए और कहा कि उन्हें शादी के लिए गहने खरीदने हैं। इसमें बाद उन्होंने 16.61 लाख के गहने खरीद लिए। जिसके बदले उन्होंने बिल पर साइन भी किए। इसके बिल के बदले उन्होंने 3.20 लाख के 3 और 3.50 लाख के 2 चैक दे दिए। उन्होंने भरोसे में आकर उन्हें गहने दे दिए और चैक रख लिए। पहला चैक अप्रैल महीने का था तो वो कोविड की वजह से बैंक में नहीं लगवा सके। फिर उन्होंने मई व जुलाई वाले दो चैक बैंक में लगाए तो वो बाउंस हो गए। इसके बाद वाले चैक भी खाते में रकम न होने की वजह से बाउंस हो गए।

नोटिस का नहीं दिया जवाब, जांच के बाद केस दर्ज

उन्होंने सीधे पेमेंट के लिए कहा तो बाप-बेटे मामले को लटकाते रहे। इसके बाद उन्होंने लीगल नोटिस भी भेजा लेकिन उन्होंने पैसे नहीं दिए। इसके बाद कुछ लोगों को साथ लेकर वह पेमेंट मांगने गए तो उन्हें धमकाया जाने लगा। पुलिस ने इस मामले की जांच की तो इसे साजिश करार देते हुए गगनदीप सिंह, उसके पिता प्रताप सिंह व मां चरणजीत कौर के खिलाफ केस दर्ज करने की सिफारिश कर दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *