पंजाब में भाजपा का विरोध: फिरोजपुर में प्रदेशाध्यक्ष अश्वनी शर्मा का घेराव; बैरिकेडिंग तोड़कर गाड़ी तक पहुंचे, पूर्व विधायक की पगड़ी उतारने की कोशिश


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

फिरोजपुर40 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

किसानों ने भाजपा के पूर्व विधायक सुखपाल सिंह नन्नू की पगड़ी उतारने की भी कोशिश की।

  • विरोध में भाजपा कार्यकर्ताओं ने DC दफ्तर के पास धरना देकर हाईवे जाम किया

देश में किसान आंदोलन के दौरान पंजाब में भारतीय जनता पार्टी के नेताओं का विरोध जारी है। मंगलवार सुबह फिरोजपुर में किसानों ने भाजपा के प्रदेश प्रधान अश्वनी शर्मा का घेराव किया। किसान बैरिकेडिंग तोड़कर उनकी गाड़ी तक पहुंच गए। इस दौरान किसानों ने अश्वनी के साथ मौजूद भाजपा के पूर्व विधायक सुखपाल सिंह नन्नू की पगड़ी उतारने की भी कोशिश की। हालांकि, हरनेक सिंह का कहना है कि किसानों ने हमला नहीं किया, यह शरारती तत्वों का काम है।

पंजाब भाजपा अध्यक्ष अश्वनी शर्मा फिरोजपुर स्थित एक पैलेस में मंगलवार को अपने वर्करों के साथ बैठक करने पहुंचे थे। शर्मा की पहुंचने की खबर मिलते ही किसान उनका घेराव करने पहुंच गए। पुलिस ने भी कहा कि शर्मा की गाड़ी पर कोई हमला नहीं हुआ। हंगामा ज्यादा बढ़ने पर पुलिस ने हल्का लाठीचार्ज करके प्रदर्शनकारियों को वहां से खदेड़ दिया। इसके विरोध में भाजपा कार्यकर्ताओं ने DC दफ्तर के पास धरना देकर हाईवे जाम किया।

गौरतलब है कि सोमवार को भी नवांशहर में पंडोरा मोहल्ला में भाजपा के कार्यक्रम में पंजाब प्रधान अश्वनी शर्मा के पहुंचने पर किसानों ने विरोध किया था। इसके चलते सुबह 12 बजे से लेकर शाम करीब 4 बजे तक स्थिति तनावपूर्ण रही। इस वजह से अश्वनी शर्मा यहां आयोजित कार्यक्रम में शामिल नहीं हो पाए। किसानों का विरोध कोई उग्र रूप न ले ले, इस आशंका से पुलिस ने भाजपा के जिला वर्करों व नेताओं को भी कुटिया कांप्लेक्स से 4 घंटे बाद ही शाम 4 बजे निकलने दिया।

हालात ये रहे कि अधिकारी किसानों को आयोजन स्थल से हटने के लिए मनाते रहे, लेकिन किसान अपनी बात पर अड़े रहे। 4 बजते-बजते जब किसानों को यह अच्छे से पता चल गया कि पंजाब भाजपा प्रधान शर्मा अब कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगे। तब किसानों ने धरना बंद किया। इसके बाद ही पुलिस ने आयोजन स्थल का गेट खोला और भाजपा नेता, वर्कर व आयोजन में आए लोग बाहर निकले।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *