पुलिस की कार्रवाई: उत्तर प्रदेश से नाबालिगों को लाकर कराया जा रहा था बालश्रम, पांच बच्चे मुक्त, आरोपियों पर केस दर्ज


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

फरीदाबाद2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

पुलिस की कार्रवाई

ओल्ड फरीदाबाद क्षेत्र की विभिन्न दुकानों पर नाबालिग बच्चों से बालश्रम कराया जा रहा था। इसकी सूचना मिलने पर पुलिस पहुंच गई। उसने पांच बच्चों को मुक्त कराकर मालिकों पर केस दर्ज कर लिया। इनमें तीन बच्चे यूपी से लाए गए थे। 15-16 घंटे काम के बदले महज 6500 रुपए उन्हें दिया जा रहा था। उक्त बच्चों को चाइल्ड हेल्प लाइन के सहयोग से मुक्त कराकर बाल कल्याण गृह भेज दिया गया।

चाइल्ड हेल्पलाइन को सूचना मिली कि पल्ला क्षेत्र की कई दुकानों पर छोटे बच्चों से बालश्रम कराया जा रहा है। चाइल्ड हेल्पलाइन की टीम के सदस्य रविंद्र कुमार, एएसआई अमर सिंह और शीतल ने पुलिस टीम के साथ अग्रवाल स्वीट्स हाउस पहुंची। वहां यूपी के फिरोजाबाद जिला निवासी 15 साल का बच्चा काम करता पाया गया। उसे मालिक निखिल अग्रवाल ने 23 दिसंबर को काम पर रखा था। बच्चा 24 घंटे इसी दुकान पर रहता था। उसे 6500 रुपए सैलरी देने की बात कही थी। दूसरा बच्चा यूपी के हाथरस जिले का है। 14 साल का यह बच्चा आगरा स्वीट्स पर पर काम करता पाया गया।

उसे 29 नवंबर को काम पर रखा गया था। उसे भी 6500 रुपए सैलरी मिलती थी। जबकि तीसरा बच्चा सेहतपुर का रहने वाला मिला। इसकी उम्र करीब 13 साल थी। यह विकास आटो सेंटर पर कार्य करता था। वह लगभग 15 दिन से इस दुकान पर काम कर रहा था। उसे कोई पैसा नहीं मिलता था। चौथा बच्चा कश्यप बाइक जोन पर काम करते पाया गया। इसकी उम्र 13 साल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *