पेंशन और सब्सिडी दिलाने के नाम पर ठगी: चेन सिस्टम बनाकर कंपनी लोगों से जमा करा रही थी रुपए, नए ग्राहक जोड़ने पर 11 महीने तक पांच-पांच सौ रुपए मिलने का दिया था झांसा


  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • By Creating A Chain System, The Company Was Depositing Rupees From The People, On Adding New Customers, It Was Giving 11 Months To Get Five Hundred Rupees.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जबलपुर11 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

चिटफंड कंपनी चेन बनाकर लोगों से लूटती थी रकम।

  • लार्डगंज थाने में कंपनी के कर्मियों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज
  • कंपनी ने 6.10 लाख रुपए की ठगी की अब तक, पूर्व महिला कर्मी ने दर्ज कराई शिकायत

शहर में एक चिटफंड कंपनी की कारगुजारी सामने आई है। ये कंपनी चेन बनाकर लोगों को जोड़ती थी। सदस्यता के तौर पर सभी से 610 रुपए जमा कराए जाते थे। इसके बाद सभी को सदस्य बनाने का टार्गेट दिया जाता था। नए ग्राहक जोड़ने पर कंपनी हर महीने 500-500 रुपए 11 महीने तक देने का झांसा दे रही थी। कंपनी की पोल उसके ही यहां काम करने वाली एक पूर्व महिला कर्मी ने खोली। मामले में लार्डगंज पुलिस ने धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज का जांच में लिया है।
विभिन्न शासकीय योजनाओं का लाभ दिलाने का झांसा
जानकारी के अनुसार विजय नगर निवासी पारुल पाठक तिवारी ने लार्डगंज थाने में शिकायत दर्ज कराई है। पारुल के मुताबिक उसने दिसंबर 2020 में गढ़ा फाटक जगदीश मंदिर के पास संचालित लाइफ केयर सोसायटी ज्वाईन की थी। सोसायटी के संचालक मनीष कनौजिया हैं। उसने बताया था कि सोसायटी एक एनजीओ है। ये सोसायटी विधवा पेंशन, बेरोजगारी भत्ता, वृद्धावस्था पेंशन, विकलांग पेंशन, बिजली बिल स्कीम, रसोई गैस सब्सिडी के नाम पर 610 रुपए लोगों से जमा कराया जाता था।
6.10 लाख रुपए जमा करा चुकी है कंपनी
पारुल पाठक तिवारी के मुताबिक कंपनी अब तक 6 लाख 10 हजार 610 रुपए जमा करा चुकी है। इस कंपनी में चेन सिस्टम के अनुसार लोगों को जोड़ने का टार्गेट दिया जा रहा था। कंपनी में काम करने वाले कर्मियों को महीने में 150 लोगों को जोड़ने का लक्ष्य दिया गया था। एक ग्राहक के एवज में 11 महीने तक 500-500 रुपए देने का झांसा दिया गया था। कंपनी के संचालक ने 150 ग्राहक नहीं जोड़ पाने पर वेतन भुगतान से मना कर दिया। इसके बार पारुल ने लार्डगंज थाने में धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया।
एक फार्म भरवाने के एवज में लेता था 610 रुपए
टीआई लार्डगंज मधुर पटेरिया ने बताया कि आरोपी मनीष कनौजिया के यहां से बड़ी मात्रा में फार्म जब्त किए गए हैं। वह एक फार्म भरवाने के एवज में 610 रुपए लेता था। अपने नीचे चार ग्राहक जोड़ने पर 500 रुपए तीन महीने तक देने का झांसा देता था। इसी तरह चेन बनाने का वह टार्गेट देता था। अभी तक की जांच में 1000 के लगभग लोगों को सदस्य बनाए जाने संबंधी दस्तावेज मिले हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *