भरतपुर में डॉक्टर दंपती की हत्या: दो युवकों ने दिनदहाड़े पति-पत्नी पर बरसाईं गोलियां, 2 साल पहले पत्नी और मां ने डॉक्टर की प्रेमिका और उसके बच्चे को जिंदा जलाया था


  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • In The Broad Day, The Couple Was Shot Dead In A Brutal Murder, The Attacker Escaped After The Incident, The Wife Burnt The Doctor’s Girlfriend And Killed Him Two Years Ago.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भरतपुर18 मिनट पहले

भरतपुर में गाड़ी में पडे़ डॉ. सुदीप गुप्ता और पत्नी डॉ. सीमा गुप्ता के शव।

राजस्थान के भरतपुर में शुक्रवार को नीम दा गेट इलाके में दिनदहाड़े डॉक्टर दंपती की हत्या कर दी गई। वारदात के वक्त डॉ. सुदीप गुप्ता और उसकी पत्नी डॉ. सीमा गुप्ता कार से कहीं जा रहे थे। इस दौरान बाइक से आए 2 युवकों ने गोलियां चलानी शुरू कर दीं। इससे दोनों की मौके पर ही मौत हो गई।

डॉ. सीमा गुप्ता पर आरोप था कि उन्होंने 2 साल पहले पति सुदीप गुप्ता की प्रेमिका और उसके बेटे की जलाकर हत्या कर दी थी। फिलहाल दोनों का शव RBM अस्पताल में रखा गया है। हमलावरों का कुछ पता नहीं लग सका है।

वारदात के बाद लोगों की जमा भीड़।

जानकारी के मुताबिक, वारदात के वक्त डॉ सुदीप पत्नी सीमा के साथ श्री राधा चौराहे की ओर जा रहे थे। इस दौरान नीम दा गेट के पास दो बदमाशों ने उनकी गाड़ी को घेर लिया। दोनों पति-पत्नी को गोली मार दी। फायरिंग की आवाज सुनकर पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। स्थानीय लोगों की सूचना के बाद मौके पर पुलिस पहुंची। फिलहाल पुलिस ने हत्या के कारणों को लेकर कुछ भी स्पष्ट नहीं किया है।

डाॅ. सुदीप गुप्ता व पत्नी सीमा गुप्ता (फाइल फोटो)

डाॅ. सुदीप गुप्ता व पत्नी सीमा गुप्ता (फाइल फोटो)

दो साल पहले डॉक्टर की पत्नी व मां ने प्रेमिका को जलाया था
डॉ. सुदीप गुप्ता और उनकी पत्नी सीमा भरतपुर शहर में रहते थे। डॉक्टर दंपती ने भरतपुर की सूर्या सिटी जैसी पॉश कॉलोनी में एक विला खरीदा था। इस विला में डॉक्टर सुदीप अपनी कथित प्रेमिका दीपा गुर्जर को रखने लगा। बताया जा रहा है कि दीपा डॉ. सुदीप की क्लिनिक में रिसेप्शनिस्ट थी।

डॉ. सुदीप ने पत्नी डॉ. सीमा को बताया कि उन्होंने एक महिला बैंक मैनेजर को विला किराए पर दे दिया है। मृतका दीपा इस विला में 1 नंवबर 2019 को पार्लर खोलने वाली थी। तब निमंत्रण कार्ड में डॉ. सुदीप का नाम छपा देखकर उनकी पत्नी डॉ. सीमा को अवैध संबंधों का पता चल गया।

डॉक्टर सुदीप गुप्ता की प्रेमिका दीपा और उसका बेटा शौर्य, जिन्हें जिंदा जलाया था (फाइल फोटाे)

डॉक्टर सुदीप गुप्ता की प्रेमिका दीपा और उसका बेटा शौर्य, जिन्हें जिंदा जलाया था (फाइल फोटाे)

इसके बाद सुदीप की पत्नी सीमा ने दीपा को सबक सिखाने की ठान ली। वह अपनी सास के साथ विला पहुंची। वहां डॉक्टर सीमा और दीपा के बीच हाथापाई हुई। सीमा ने दीपा और उसके बेटे शौर्य को कमरे में बंद कर दिया। इसके बाद स्प्रिट छिड़ककर आग लगा दी। इससे दीपा और उसके बेटे की मौत हो गई। तब कोतवाली थाना पुलिस ने डॉ. सुदीप और डॉ. सीमा को हत्या के मुकदमे में गिरफ्तार किया था।

हत्या का सीसीटीवी फुटेज हुआ वायरल
डॉक्टर दंपती की हत्या का सीसीटीवी वीडियो भी सामने आया है। वीडियों में साफ देखा जा सकता है कि दो युवक डॉक्टर दंपती की गाड़ी के आगे बाइक लगा देते है। दोनों बाइक से उतरकर गाड़ी के पास जाकर पिस्तौल निकाल लेते हैं। इस दौरान वे डॉक्टर को कुछ बोलते हुए दिखाई दे रहे है। इसके बाद डॉक्टर और उसकी पत्नी को गोली मार देते है। इसके बाद बाइक पर बैठकर दोनों अपराधी पिस्तौल को लहराते हुए फरार हो जाते हैं। फिलहाल पुलिस फुटेज के आधार पर दोनों बदमाशों की पहचान में जुट गई हैं।

अस्पताल नाम करने की मिल रही थी धमकी
जांच में सामने आया हैं कि डॉक्टर सुदीप गुप्ता को कुछ दिनों पहले से अस्पताल नाम करने की धमकी दी जा रही थी। प्रेमिका की हत्या में डॉक्टर की अहम भूमिका नहीं थी। डॉक्टर की पत्नी और मां ने ही मिलकर विला को आग लगा दी थी। इसके बाद दीपा और उसके बेटे शौर्य की जल कर मौत हो गई थी। पुलिस ने डॉक्टर दंपती को गिरफ्तार भी कर लिया था।

जमानत से बाहर आने के बाद से ही डॉक्टर को धमकी मिल रही थी। बताया जा रहा है कि डॉक्टर को कुछ दिनों से अस्पताल नाम करने की धमकी मिल रही थी। उसका भरतपुर में ही श्रीराम अस्पताल है। इसके बाद डॉक्टर ने उन्हें कुछ रुपए भी दिए थे।

बड़ा सवाल : लॉकडाउन में घटना से राज्य की कानून व्यवस्था पर उठे सवाल
कोरोना महामारी के दौरान चलते राज्य में 8 जून तक सख्त लॉकडाउन है। ऐसे में बदमाशों के हथियार लेकर खुलेआम घूमना बड़े सवाल उठा रहा है। जब हर चौराहा पर पुलिस है, ऐसे में अपराधी खुले आम कैसे घूम रहे थे? एक दिन पहले ही यहां पर सांसद पर हमला हुआ था। आज डॉक्टर दंपती की हत्या ने राज्य की कानून व्यवस्था को सवालों को घेरे में खड़ा कर दिया है। हैरानी वाली बात यह भी है कि दोनों बदमाश हत्या के बाद भी आराम से फरार हो गए।

इधर, भाजपा सांसद रंजीता कोली पर देर रात हुआ था हमला
भाजपा सांसद रंजीता कोली पर गुरुवार देर रात को ही कुछ बदमाशों ने हमला कर दिया था। वे वैर में सीएसची का निरीक्षण करने के लिए जा रही थी। तभी रास्ते में ही उनकी गाड़ी पर कुछ बदमाशों ने पीछे से पथराव कर दिया। वे काफी देर से सांसद की गाड़ी का पीछा कर रहे थे। वे भाई, सिक्योरिटी गार्ड, चालक के साथ जा रही थी। उनकी गाड़ी का पीछे का शीशा टूट गया।

सिक्योरिटी गार्ड और चालक की सूझबूझ से वे बच गई। चालक की ओर से हलैना थाने में हमले की रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। फिलहाल हमलावरों का कुछ पता नहीं लग सका है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *