भास्कर इंटरव्यू: पीसी चाको ने किया G-23 का समर्थन, कहा- कांग्रेस में आंतरिक लोकतंत्र खत्म, केरल में करेंगे राहुल गांधी के खिलाफ प्रचार


  • Hindi News
  • National
  • Rahul Gandhi PC Chacko | PC Chacko Interview Update; Speaks On Rahul Gandhi Congress Politics And Kerala Election 2021

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली19 मिनट पहलेलेखक: रवि यादव

  • कॉपी लिंक

पूर्व कांग्रेस नेता पीसी चाको ने शरद पवार की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी का दामन थाम लिया है। NCP में आते ही केरल विधानसभा चुनाव में चाको की भूमिका अब बदल गई है। अब तक जिस पार्टी के टिकट तय करने में उनकी भूमिका थी अब वे उसी कांग्रेस पार्टी के खिलाफ प्रचार करेंगे। केरल में NCP सत्तारूढ़ लेफ्ट डेमोक्रैटिक फ्रंट (LDF) की सहयोगी है।

इस बारे में चाको ने दैनिक भास्कर से बातचीत की। चाको ने लोकतांत्रिक मूल्यों पर केंद्र की मोदी सरकार को कटघरे में खड़ा करने वाले राहुल गांधी की पार्टी में ही इंटरनल डेमोक्रेसी ना होने का आरोप मढ़ दिया। चाको ने कहा कि फिलहाल कांग्रेस में ठेकेदारी प्रथा का पालन किया जा रहा है। उन्होंने G-23 नेताओं का भी समर्थन किया।

दैनिक भास्कर के साथ बने पीसी चाको से बातचीत

कांग्रेस को अलविदा कहने की क्या वजह रही?
मेरा कांग्रेस से जुड़ाव पिछले 50 साल का है। मौजूदा समय में कांग्रेस विपक्ष की भूमिका नहीं निभा पा रही है। देश में मोदी सरकार के ख़िलाफ़ माहौल है, लेकिन कांग्रेस की इच्छा विपक्ष की भूमिका निभाने की नहीं है। कांग्रेस में नए अध्यक्ष के चुनाव के लिए 23 लोगों ने लिखित में प्रस्ताव दिया था। कांग्रेस में ठेकेदारी प्रथा चल रही है।

केरल चुनाव में टिकट देने का फ़ैसला दो गुट कर रहे हैं। सारा मामला पार्टी हाई कमान के संज्ञान में लाया गया लेकिन कोई ऐक्शन नहीं लिया गया। मौजूदा समय में कांग्रेस में इंटरनल डेमोक्रेसी नहीं है। कांग्रेस में काम करने में मन की संतुष्टि नहीं मिल रही थी। पाँच राज्यों में चुनाव आ रहे हैं लेकिन कांग्रेस इसे लेकर गंभीर नहीं है तो ऐसी पार्टी में मेरा रुकने का मन नहीं था।

NCP में जाने की क्या वजह रही, क्या भाजपा की ओर से भी निमंत्रण मिला था?
नहीं…नहीं, मैं भाजपा को पसंद नहीं करता। अब भाजपा के खिलाफ प्रचार करूंगा।

आपके NCP में जाने पर केरल के चुनाव के नतीजे क्या रहने वाले हैं?
हमारे राज्य में पहले से NCP लेफ्ट फ़्रंट का एक पार्टनर है। केरल में LDF के साथ NCP है, मैं उनके के लिए काम करूंगा। वैसे मेरे कांग्रेस में कई मित्र हैं, जिनसे मैं मिलता रहता हूं।

मौजूदा समय में कांग्रेस के क्या हालात लगते हैं और BJP ऊपर क्यों जा रही है?
सबसे पहले कांग्रेस को ये समझना है, कांग्रेस की जो कमियां रहीं, उन्हीं के कारण भाजपा का फायदा होता है। कांग्रेस में अभी तक जो कमी रही है, उन्हें दूर करने के प्रयास नहीं किए गए।

G-23 में कांग्रेसियों की ओर से नेतृत्व पर सवाल खड़े किए गए, क्या आप मानते हैं कांग्रेस में परिवारवाद खत्म होना चाहिए?
उन्होंने नेतृत्व के खिलाफ नहीं बोला। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की वर्किंग कमेटी और अध्यक्ष का चुनाव करवाया जाए।

पांच राज्यों के चुनाव नतीजों पर आपका क्या कहना है?
एक राज्य असम में भाजपा के चांस हैं, बाकी राज्यों में एंटी भाजपा ही जीतेंगे।

अब आप NCP के नेता बन गए हैं तो महाराष्ट्र के मामले पर क्या कहेंगे?
मुझे बाकी राज्यों की जानकारी नहीं है। मैंने केरल को लेकर फैसला लिया है, बाकी सब NCP निर्णय लेगी। पार्टी जो निर्णय लेगी मैं उसके साथ हूं।

आपकी केरल चुनाव में क्या भूमिका रहेगी, क्या आप खुद भी चुनाव लड़ेंगे?
नहीं, मैं चुनाव नहीं लडूंगा। मैं NCP के माध्यम से LDF के लिए चुनाव में काम करूंगा।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *