भास्कर LIVE अपडेट्स: गुजरात के नए CM के नाम का ऐलान आज, मनसुख मांडविया का नाम सबसे आगे; नितिन पटेल और पुरुषोत्तम रुपाला भी रेस में


  • Hindi News
  • National
  • Breaking News LIVE Updates | Gujrat Political Updates | Rajasthan Delhi MP Uttar Pradesh Maharashtra Mumbai News | Coronavirus Vaccine Today Latest

2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने चुनाव से एक साल पहले अचानक पद से इस्तीफा दे दिया। शनिवार को उनके इस्तीफे के बाद नया नेता चुनने के लिए भाजपा ने आज विधायक दल की बैठक बुलाई है। गांधीनगर में होने वाली इस बैठक में गृह मंत्री अमित शाह मौजूद रहेंगे।

नए CM की रेस में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया, केंद्रीय मत्स्य एवं पशुपालन मंत्री पुरुषोत्तम रुपाला, गुजरात के उप-मुख्यमंत्री नितिन पटेल और गुजरात भाजपा के अध्यक्ष सीआर पाटिल के नाम शामिल हैं। इनमें मांडविया सबसे आगे बताए जा रहे हैं।

पाटीदार समुदाय में पैठ रखने वाले मनसुख मांडविया CM की रेस में सबसे आगे

गुजरात में भाजपा विधायक दल की बैठक में नए नेता के नाम का ऐलान किया जाएगा। भरोसेमंद सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया गुजरात के अगले मुख्यमंत्री बन सकते हैं। मांडविया के मुख्यमंत्री की दौड़ में आगे होने की एक बड़ी वजह यह भी है कि वे प्रधानमंत्री मोदी के अलावा अमित शाह की गुड बुक में हैं।

कोरोना महामारी के दौरान मांडविया ने गुजरात भाजपा सरकार की छवि सुधारने के लिए काफी काम किया था। वहीं, पाटीदार समाज के अलावा कडवा और लेउआ पटेल समुदाय में भी उनकी अच्छी पैठ है। मृदुभाषी होने के साथ-साथ मांडविया की छवि एक ईमानदार नेता की है। इनके अलावा गुजरात भाजपा में उनके लगभग सभी नेताओं से अच्छे संबंध हैं।

केरल के काझीकोड में पायलट की गलती से क्रैश हुआ था एअर इंडिया का प्लेन

केरल के काझीकोड एयरपोर्ट पर पिछले साल क्रैश हुए एअर इंडिया प्लेन के पायलट ने स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसिजर का पालन नहीं किया था। शनिवार को सरकार की तरफ से जारी एक रिपोर्ट में इसकी जानकारी दी गई। एयरक्राफ्ट एक्सीडेंट इन्वेस्टिगेशन ब्यूरो (AAIB) ने अपनी 257 पेज की रिपोर्ट में कहा कि पायलट की गलती के अलावा सिस्टमैटिक फेल्योर की संभावना से भी इनकार नहीं किया जा सकता।

AAIB की रिपोर्ट में कहा गया है कि प्लेन उड़ा रहे पायलट ने SOP को नजरअंदाज करते हुए अनस्टेबलाइज्ड एप्रोच (अस्थिरता के बावजूद कोशिश) जारी रखी और प्लेन को टचडाउन पॉइंट के बाद लैंड कराया। इस प्लेन के पायलट ने आधा रनवे पार करने के बाद लैंडिंग की। इस दौरान पायलट मॉनिटरिंग ने गो अराउंड कॉल दिया था, लेकिन वह फ्लाइट कंट्रोल को अपने हाथ में नहीं ले पाया, जिसकी वजह से हादसा हुआ।

एअर इंडिया एक्सप्रेस का बोइंग 737-800 पिछले साल 7 अगस्त को केरल के काझीकोड एयरपोर्ट पर लैंडिंग के दौरान क्रैश हो गया था। हादसे में विमान कई टुकड़ों में टूट गया था। विमान में 190 पैसेंजर सवार थे, जिनमें से 20 की जान चली गई थी, जबकि कई लोग घायल हुए थे।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *