मध्यप्रदेश का अनोखा मामला: मंडला में 5.1 किलो की बच्ची जन्मी, 1.77 फीट है लंबाई, हार्मोंस से संबंधी दिक्कत के कारण नवजात वजनी होते हैं


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मंडला3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

नवजात ने फीडिंग भी की।

मंडला जिले के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अंजनिया में शनिवार को एक महिला ने 5.1 किग्रा की बच्ची को जन्म दिया। सरकारी अस्पताल में नार्मल डिलेवरी से जन्मी बच्ची का महाकोशल का संभवत: यह पहला मामला है। आमतौर पर बच्चों को वजन 2.50 से 3.50 किलोग्राम रहता है। जानकारी के मुताबिक, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अंजनिया में शनिवार सुबह जन्मी बच्ची के वजन ने सबको चौंका दिया।

नवजात का वजन 5.1 किग्रा और लंबाई 54 सेंटीमीटर (1.77 फीट) है। रक्षा कुशवाहा पति किशन कुशवाहा निवासी खंडवा हाल मुकाम अंजनिया को सुबह 9.10 बजे दर्द के बाद प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। नवजात ने फीडिंग भी की। अंजनिया पीएचसी के डॉ. अजयतोष मरावी ने कहा, नार्मल डिलेवरी से 5.1 किग्रा बच्ची हुई है।

विरला मामला
डिलीवरी के बाद नवजात का वजन 2.50 से 3.75 किलोग्राम तक हो सकता है। यह अपने आप में विरला मामला है। नवजात स्वस्थ है तो अच्छी बात है, लेकिन नवजात की जांच आवश्यक है। हार्मोंस से संबंधी दिक्कत के कारण नवजात वजनी होते हैं।
– डॉ. कीर्ति सिंह, स्त्री रोग विशेषज्ञ, मंडला

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *