मां इसमें मेरा क्या कसूर है: MP के हरदा में जन्मी बच्ची के दोनों पैर घुटने से उल्टे; अस्पताल में उसे माता-पिता छोड़ कर चले गए


हरदा10 मिनट पहलेलेखक: पवन तिवारी

  • कॉपी लिंक

हरदा जिला अस्पताल में एक असामान्य बच्ची ने जन्म लिया है। बच्ची के दाेनाें पैर घुटने से उल्टे हैं। पीठ की ओर पंजे हैं। डाॅक्टर इसे दुर्लभ केस मान रहे हैं। उसका वजन सामान्य बच्चाें से कम 1 किलो 600 है। उसे एसएनसीयू में भर्ती कराया है। असामान्य बच्ची के जन्म के बाद दो दिन से माता-पिता लापता हैं।

खिरकिया ब्लाॅक के झांझरी निवासी विक्रम की पत्नी पप्पी की डिलीवरी साेमवार दाेपहर 12 बजे हुई। उसने बेटी काे जन्म दिया। डिलीवरी सामान्य थी। जन्म के समय से ही बच्ची के दाेनाें पैर उल्टे थे। यह देखकर डॉक्टर और नर्स हैरान रह गए।

शिशु राेग विशेषज्ञ डाॅ. सनी जुनेजा ने बताया 5 साल के कॅरियर में अब तक ऐसा केस नहीं आया। इंदाैर- भाेपाल के शिशु राेग विशेषज्ञाें और हड्डी राेग विशेषज्ञाें से भी चर्चा की। उनका कहना है कि यह मामला रेयर है। बच्ची के पैर घुटने से पूरी तरह मुड़े हैं। उसका वजन 1 किलाे 600 ग्राम है। सामान्य ताैर पर बच्चाें का वजन 2 किलाे 700 ग्राम से 3 किलाे 200 ग्राम तक हाेता है।

देखने नहीं आए माता-पिता

जन्म के बाद बच्ची के माता-पिता और परिजन गायब हाे गए। उसे एसएनसीयू में भर्ती कराया है। डाॅक्टराें की निगरानी में है। वह खतरे से बाहर है। बच्ची के माता-पिता अस्पताल में कहीं नहीं मिल रहे। मंगलवार काे भी अस्पताल परिसर में माता-पिता की खाेज की गई। माइक से अनाउसमेंट भी कराया, लेकिन पता नहीं चला। अब अस्पताल प्रबंधन पुलिस की मदद लेगा।

ऑपरेशन करके सीधा किया जा सकता है

यह बीमारी बच्चे में मां के गर्भ में कम जगह होने के कारण या अनुवांशिक हो सकती है। इस तरह के मामले लाखों में मुश्किल से होते हैं। ऑपरेशन के बाद घुटनों को सीधा किया जा सकता है। बच्ची को देखने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। अब तक इस तरह का मामला मैंने नहीं देखा है।
– डॉ. पुष्पवर्धन मंडलेचा, हड्‌डी रोग विशेषज्ञ, अरबिंदो हॉस्पिटल इंदौर

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *