मानसून ट्रैकर: 10 दिन बाद जयपुर पहुंचेगा मानसून, बिहार के 16 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट; UP और उत्तराखंड में बाढ़


  • Hindi News
  • National
  • Monsoon Tracker । Heavy Rain In Uttar Pradesh Bihar Uttarakhand । Indian Metrology Department IMD

नई दिल्ली18 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

उत्तराखंड के हरिद्वार में शनिवार को हुई बारिश के बाद गंगा नदी का जलस्तर बढ़ गया।

मानसून देश के करीब 80% हिस्से को कवर कर चुका है। हालांकि, राजस्थान सहित देश के कई राज्यों में मानसून पहुंचना बाकी है। मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक 10 दिन बाद मानसून राजस्थान की राजधानी जयपुर पहुंच सकता है। IMD ने बिहार के 16 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है।

नेपाल के 30 जिलों में बाढ़ के कारण उत्तर प्रदेश, बिहार और उत्तराखंड की कई नदियां उफान पर हैं। तीनों राज्यों में बाढ़ की स्थिति बन गई है। बारिश के कारण उत्तराखंड में अलखनंदा, मंदाकिनी और गंगा नदी का जलस्तर बढ़ रहा है।

हरिद्वार से शनिवार को 4 लाख क्यूसेक पानी गंगा में छोड़ा गया। इसके चलते UP के कई जिलों में बाढ़ का खतरा पैदा हो गया है। पूर्वांचल की 6 नदियां उफान पर आ गई हैं। बाढ़ का असर सबसे ज्यादा यूपी के महाराजगंज, कुशीनगर, गोरखपुर, बलरामपुर, श्रावस्ती और बहराइच में है। इन जिलों में हजारों एकड़ में लगाई गई फसल डूब गई है। वहीं, बिहार की गंडक, कोसी और घाघरा नदियां भी उफान पर हैं।

राजस्थान: जयपुर में 10 दिन बाद पहुंचेगा मानसून
राजस्थान के पूर्वी और पश्चिमी इलाकों के जिलों में प्री-मानसून की बारिश जारी है। जयपुर में शनिवार शाम 2.6 मिलीमीटर बारिश हुई। बारिश के बाद तापमान लुढ़ककर 36 डिग्री पर आ गया। मौसम विभाग के मुताबिक जयपुर को लोगों को मानसून का 10 दिन और इंतजार करना पड़ सकता है। यहां 1 जुलाई के आसपास मानसून पहुंचेगा।

शनिवार को राजस्थान में सबसे कम तापमान (28.4 डिग्री) भीलवाड़ा में दर्ज किया गया। इसके अलावा उदयपुर में 29 डिग्री, कोटा में 32.5 डिग्री तापमान रहा। प्रदेश के 4 शहरों में पारा 40 डिग्री से ऊपर रहा। श्रीगंगानगर का तापमान सबसे ज्यादा (41.3 डिग्री), बूंदी का 41 डिग्री, बीकानेर का 40.6 डिग्री और जैसलमेर का तापमान 40 डिग्री रहा।

मध्यप्रदेश: सीधी, सिवनी, जावरा, रीवा, जबलपुर और उज्जैन में बारिश
मध्यप्रदेश में भोपाल, इंदौर, रीवा, जबलपुर और उज्जैन सहित कई जिलों में बारिश जारी है। रतलाम में शनिवार को 2 इंच बारिश दर्ज की गई। यहां जावरा तहसील में एक घंटे में रिकॉर्ड 6.5 इंच बारिश हुई। तेज बारिश के कारण पानी घरों में भी घुस गया। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में प्रदेश के सभी संभागों में हल्की और मध्यम बारिश की संभावना जताई है। मध्यप्रदेश में मानसून ने 10 जून को ही दस्तक दे दी थी।

मध्य प्रदेश में मानसून की दस्तक से मौसम सुहाना हो गया है। पर्यटन स्थलों पर भीड़ लगनी शुरू हो गई है। फोटो जबलपुर के पास भेड़ाघाट जलप्रपात की है।

मध्य प्रदेश में मानसून की दस्तक से मौसम सुहाना हो गया है। पर्यटन स्थलों पर भीड़ लगनी शुरू हो गई है। फोटो जबलपुर के पास भेड़ाघाट जलप्रपात की है।

महाराष्ट्र: कोंकण में बारिश का अलर्ट
मौसम विभाग ने रविवार को महाराष्ट्र के कोंकण क्षेत्र में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। सुबह से ही इन इलाकों में बरसात भी हो रही है। इसके अलावा कोल्हापुर, पुणे में भी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। हालांकि, मुंबई में आज एक दो जगह को छोड़ दें तो स्थिति सामान्य बनी हुई है।

23 मार्च को महाराष्ट्र में मौसम शुष्क रहेगा। 24 मार्च से महाराष्ट्र के कई इलाकों में मौसम बदल सकता है, जिसके बाद बारिश होने की संभावना है। खासतौर पर विदर्भ, मराठवाड़ा और दक्षिणी मध्य महाराष्ट्र में बादलों की गर्जना और तेज़ हवाओं के साथ हल्की वर्षा हो सकती है।

छत्तीसगढ़: बिलासपुर-सरगुजा संभाग में भारी बारिश की चेतावनी
मौसम विभाग ने बिलासपुर और सरगुजा सिहत छत्तीसगढ़ के कई जिलों में भारी बरसात की आशंका जताई है। IMD के मुताबिक चक्रीय चक्रवाती घेरा गंगेटिक पश्चिम बंगाल और उसके आसपास में बना हुआ है। इसके प्रभाव से एक निम्न दाब का क्षेत्र दक्षिण-पश्चिम बिहार और उससे लगे दक्षिण-पूर्व उत्तर प्रदेश के ऊपर बना है।

बिहार: पटना सहित 16 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी
पटना से लेकर पश्चिमी चंपारण तक बारिश जारी है। मौसम विभाग ने पटना सहित 16 जिलों में अगले 2 दिनों तक बारिश का अलर्ट जारी किया है। राज्य में 12 से 19 जून के बीच 149% से ज्यादा बारिश हुई है। रविवार सुबह से ही पटना में बारिश जारी है। 100 से अधिक इलाकों में पानी जमा हो गया है।

बिहार की राजधानी पटना में शनिवार शाम को तेज बारिश हुई।

बिहार की राजधानी पटना में शनिवार शाम को तेज बारिश हुई।

गुजरात: 100 से ज्यादा तहसीलों में बारिश
गुजरात की 100 से ज्यादा तहसीलों में शुक्रवार रात 8 बजे तक भारी बारिश दर्ज की गई। 54 जिलों में 1 से लेकर 8 इंच तक बारिश हुई है। राज्य में सबसे ज्यादा 8 इंच बारिश आणंद जिले में हुई। इसके अलावा साबरकांठा के वडाली में 6 इंच, खंभालिया में 5 इंच, सूरत शहर और चौर्यासी में 5 इंच बारिश हुई है।

गुजरात के आणंद में बारिश के बाद सड़कों में पानी भर गया।

गुजरात के आणंद में बारिश के बाद सड़कों में पानी भर गया।

हरियाणा: 27 जून से बारिश में आएगी तेजी
हरियाणा में तय समय से पहले मानसून आने के बाद भी गर्मी का असर फिर दिखाई देने लगा है। शनिवार को हिसार में दिन का तापमान 38 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। वहीं, भिवानी में 37.7 और नारनौल में तापमान 36.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग के मुताबिक 20 और 21 जून को कुछ इलाकों में बूंदाबांदी या हल्की बारिश हो सकती है। राज्य में 27 जून से मानसून सक्रिय हो सकता है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *