मीडिया रिपोर्ट्स में दावा: मेहुल चौकसी के भाई चेतन ने डोमिनिका के विपक्षी पार्टी के नेता को 1.5 करोड़ रुपए घूस दी, मामला दबाने पर चुनाव में मदद का वादा किया


  • Hindi News
  • National
  • Mehul Choksi’s Brother Chetan Gave A Bribe Of Rs 1.5 Crore To The Leader Of The Opposition Party Of Dominica, Promised Help If The Matter Was Raised In Parliament

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रोसीयू5 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

मेहुल चौकसी की डोमिनिका के जेल

करोड़ों रुपए के पंजाब नेशनल बैंक (PNB) घोटाले का आरोपी और भगोड़ा हीरा कारोबारी मेहुल चौकसी भारत आने से बचने के लिए हर हथकंडे अपना रहा है। वह अपने भाई के जरिए खुद को बचाने के लिए डोमिनिका की राजनीतिक हस्तियों को साधने में लगा हुआ है।

कैरेबियन मीडिया आउटलेट एसोसिएट टाइम्स के मुताबिक, मेहुल के बड़े भाई चेतन चीनूभाई चौकसी ने उसे बचाने के लिए डोमिनिका के विपक्षी सांसदों को घूस दी है। उसने मेहुल को भारत से बचाने के लिए विपक्षी सांसदों को चुनाव में आर्थिक मदद पहुंचाने का भी वादा किया है।

विपक्षी पार्टी के नेता लेनक्स लिंटन से करीब 2 घंटे की मीटिंग
रिपोर्ट्स के मुताबिक, चेतन ने डोमिनिका के विपक्षी पार्टी के नेता लेनक्स लिंटन से बंद कमरे में करीब 2 घंटे मीटिंग की है। मीटिंग में उसने लिंटन को ऑफर दिया कि अगर विपक्ष संसद में इस मामले को दबाने में मदद करेगा तो चुनाव में उन्हें मदद पहुंचाई जाएगी। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि चेतन ने लिंटन को 2 लाख डॉलर यानी 1.5 करोड़ रुपए बतौर टोकन मनी भी दिया है। उसने आगे और ज्यादा पैसे देने का वादा किया है।

डोमिनिका के विपक्षी पार्टी के नेता लेनक्स लिंटन।

डोमिनिका के विपक्षी पार्टी के नेता लेनक्स लिंटन।

कौन है चेतन चीनूभाई चौकसी?
बताया जा रहा है कि चेतन चीनूभाई चौकसी भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चौकसी का बड़ा भाई है। वह डिमिन्को एनवी (Diminco NV) नामक एक कंपनी चलाता है, जो हॉन्गकॉन्ग स्थित डिजिको होल्डिंग्स लिमिटेड की सहायक कंपनी है। यह कंपनी इंटीग्रेटेड डायमंड और ज्वेलरी के सबसे बड़े रिटेल कारोबार का दावा करती है। चेतन को 2019 में मेहुल के भांजे नीरव मोदी की एक अदालती सुनवाई के दौरान लंदन में कोर्ट के बाहर भी देखा गया था।

लिंटन ने अपने पीएम और एंटीगा सरकार पर साधा निशाना
हिन्दुस्तान टाइम्स से बातचीत में डोमिनिका में विपक्षी पार्टी के नेता लेनक्स लिंटन ने मेहुल चौकसी की गिरफ्तारी को लेकर प्रधानमंत्री रूजवेल्ट स्केरिट पर निशाना भी साधा है। लिंटन ने बातचीत में सवाल किया कि आखिर डोमिनिका सरकार इस केस में क्यों शामिल है। लिंटन ने एंटीगुआ-बारबुडा के प्रधानमंत्री गेस्टन ब्राउन पर भी निशाना साधा है। उन्होंने ब्राउन के बयान के विपरीत कहा कि डोमिनिका सरकार को मेहुल चौकसी को भारत के हवाले नहीं करना चाहिए।

मेहुल चौकसी को भारत वापस लाने के लिए बैकिंग फ्रॉड मामलों में CBI चीफ शारदा राउत के नेतृत्व में 8 सदस्यीय टीम डोमिनिका पहुंच चुकी है।

मेहुल चौकसी को भारत वापस लाने के लिए बैकिंग फ्रॉड मामलों में CBI चीफ शारदा राउत के नेतृत्व में 8 सदस्यीय टीम डोमिनिका पहुंच चुकी है।

डोमिनिका पहुंचे CBI और ED के अफसर
मेहुल चौकसी को भारत वापस लाने के लिए बैकिंग फ्रॉड मामलों में CBI चीफ शारदा राउत के नेतृत्व में 8 सदस्यीय टीम डोमिनिका पहुंच चुकी है। इन्होंने ही पीएनबी धोखाधड़ी मामले की जांच की अगुआई की थी। टीम में CBI, प्रवर्तन निदेशालय (ED) और सीआरपीएफ के दो-दो सदस्य शामिल हैं। एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक यह टीम 28 मई को ही वहां पहुंच गई है और हाईकोर्ट में 2 जून को होने वाली सुनवाई के दौरान सरकारी वकील की मदद भी करेगी।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *