मोदी के मन की बात पर राहुल का तंज: कांग्रेस नेता बोले- कोरोना से लड़ने के लिए सही नीति और नियत चाहिए, महीने में एक बार निरर्थक बात नहीं


  • Hindi News
  • National
  • Rahul Gandhi Targeted Prime Minister Modi, Said The Country Cannot Fight Corona With The Help Of Nonsense

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली5 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

राहुल ने प्रधानमंत्री की झूठी छवि बनाने के लिए सरकार के मंत्रियों के लेकर भी निशाना साधा था। -फाइल फोटो

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रेडियो प्रोग्राम मन की बात पर तंज कसा है। उन्होंने अपने सोशल मीडिया पोस्ट में लिखा ‘कोरोना से लड़ने के लिए चाहिए सही नीयत, नीति, निश्चय। महीने में एक बार निरर्थक बात नहीं।’ इससे पहले उन्होंने शनिवार को प्रधानमंत्री की झूठी छवि बनाने के लिए सरकार के मंत्रियों के लेकर पोस्ट किया था।

इधर, पाकिस्तान में मिले कोरोनावायरस के स्ट्रेन को इंडियन स्ट्रेन बताने पर सियासत गरमा गई है। कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता पवन खेड़ा ने भाजपा पर पलटवार किया। इसमें उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में दायर हलफनामे का जिक्र करते हुए दावा किया कि सरकार खुद इसे इंडियन डबल म्यूटेंट स्ट्रेन बता चुकी है। उन्होंने अपने पोस्ट में हलफनामे की एक कॉपी भी शेयर की। इसके अलावा भाजपा को नसीहत देते हुए लिखा- पाकिस्तान-पाकिस्तान खेलना बंद करो और बाज आओ अपनी हरकतों से।

पाक मीडिया की तरफ से इंडियन वैरिएंट बताने पर पात्रा ने कसा था तंज
इससे पहले पाकिस्तान की मीडिया ने दावा किया कि उनके देश में मिला वैरिएंट इंडियन वैरिएंट है। इसको लेकर संबित पात्रा ने राहुल गांधी पर हमला साधते हुए पोस्ट शेयर किया। इसमें उन्होंने लिखा था कि अंतत: कांग्रेस को खुश होने का मौका मिल गया है। भारत को बदनाम करने उसके टूलकिट को पाकिस्तान में सहयोगी मिल गए।

कांग्रेस नेता कर चुके हैं पात्रा के खिलाफ FIR की मांग
दरअसल, कुछ दिनों पहले भाजपा की तरफ से कांग्रेस पर आरोप लगाया गया था। इसमें कहा गया था कि कांग्रेस टूलकिट के जरिए भारत और मोदी सरकार को बदनाम कर रही है। इसी पर पलटवार करते हुए कांग्रेस ने संबित पात्रा समेत बीजेपी के अन्य नेताओं के खिलाफ FIR की मांग की थी।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *