योजना: आयुर्वेद इंस्टीट्यूट कौन बनाएगा, अगले हफ्ते होगा तय


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पंचकूला17 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

इस जगह पर बनाया जाना है आयुर्वेद इंस्टीट्यूट। फोटो: भास्कर

  • इंस्टीट्यूट का काम करने के लिए 14 कंपनियां आई, फाइनेंशियल बिड के बाद होगा योग्य कंपनी का चयन

एमडीसी माता मनसा देवी मंदिर परिसर में बनने वाले नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद की रविवार को टेक्निकल बिड खोली गई। इसमें देश के अलग-अलग राज्यों की 14 कंपनियों ने भाग लिया। टेक्निकल बिड के लिए फाइनल मीटिंग इसी हफ्ते है। मीटिंग में टेक्निकल ग्राउंड के आधार पर कंपनियों को चुना जाएगा।

चुनी कंपनियों की फाइनेंशियल बिड अगले हफ्ते खोली जाएगी और उसके बाद योग्य कंपनी को इंस्टीट्यूट का काम अलॉट किया जाएगा। जयपुर नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद के डायरेक्टर डॉ. संजीव शर्मा ने बताया कि फाइनेंशियल बिड की मीटिंग जल्द ही होगी। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद के लिए करीब 500 करोड़ खर्चे किए जाएंगे। केंद्रीय आयुष विभाग ने दिल्ली की वेबकॉस कंपनी को प्रोजेक्ट कंसल्टेंट के तौर पर रखा गया है। पहले फेज में 250 करोड़ का टेंडर हुआ है।

250 बेड का जनरल वार्ड बनेगा…

इंस्टीट्यूट की इमारत में 250 बेड का जनरल वार्ड, 25 कंसल्टेशन कमरे, पंचकर्मा थैरेपी हॉल, प्राइवेट पंचकर्मा थैरेपी रूम, इमरजेंसी , रेडियोलोजी, लैब, योगा हॉल, फिजियोथैरपी, एडमिनिस्ट्रेटिव ब्लॉक, एक मेजर ऑपरेशन थिएटर, एक ओटी, एक लेबर ओटी, 2 माइनर ओटी, प्री-ओपी वार्ड, पोस्ट ओपी वार्ड, डाइट सेंटर किचन के साथ लॉन्ड्री बनेगी।

2016 में हुई थी घोषणा…

24 अप्रैल 2016 सीएम ने पंचकूला में आयोजित विकास रैली में एमडीसी माता मनसा देवी परिसर में नेशनल इंस्टीट्यूट आयुर्वेदा, योगा एंड नेचुरोपैथी बनाए जाने की घोषणा की थी। 27 अप्रैल 2017 पंचकूला के प्रशासनिक अधिकारियों के मौजूदगी में श्राइन बोर्ड की ओर से आयुष विभाग को 20 एकड़ जमीन ट्रांसफर की गई।

जुलाई 2017 आयुष मंत्रालय ने 500 करोड़ दो फेज में खर्चने के लिए फंड की अप्रूवल दे दी थी। 12 फरवरी 2019 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुरुक्षेत्र से पंचकूला में बनने वाले इंस्टीट्यूट का शिलान्यास किया था।

ये बनेगा इंस्टीट्यूट में…

कॉलेज बिल्डिंग में 21 क्लासरूम, 1 सेमिनार हॉल, एडमिनिस्ट्रेशन डिपार्टमेंट, 1 लाइब्रेरी, कैंटीन, ऑफिस, वर्कस्टेशन, नॉन टीचिंग स्टाफ, 15 लेबोरेट्रीज, 7 म्यूजियम, 1 एक्जामिनेशन हॉल, 16 डिपार्टमेंट्स होंगे। ऑडिटोरियम बिल्डिंग, 80-80 लड़के- लड़कियों के लिए यूजी हॉस्टल, 34-34 लड़के व लड़कियों के लिए पीजी हॉस्टल, 27 इंटरनेशनल स्टूडेंट्स के लिए हॉस्टल, 6 गेस्ट रूम, डायरेक्टर बंग्लो, टाइप टू से टाइप 5 तक के 96 क्वार्टर, शॉपिंग सेंटर, बेसमेंट पार्किंग, मॉर्चरी, स्टाफ चेंजेज एरिया भी बनेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *