राजस्थान की सियासी लड़ाई दिल्ली पहुंची: सचिन पायलट की प्रियंका गांधी से फोन पर बात हुई, आज दिल्ली जाएंगे; पिछली बार भी प्रियंका ने ही मनाया था


  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Pilot Did Not Show Power On Father’s Death Anniversary, Will Go To Delhi Today, Discussions Intensify In Political Circles, MLA Hemaram Chaudhary Met Pilot

जयपुर6 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

प्रियंका गांधी के साथ गहलोत और पायलट (फाइल फोटो)

राजस्थान में सचिन पायलट और उनके खेमे की नाराजगी को लेकर एक सियासी हलचल लगातार तेज हो रही है। पायलट पिछले साल उनसे किए गए वादे 10 महीने बाद भी पूरे नहीं होने पर नाराजगी जता चुके हैं। इस बीच पायलट कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के संपर्क में हैं। बताया जाता है कि कल देर रात उनकी फोन पर प्रियंका से बात हुई है। बातचीत का ब्योरा तो पता नहीं चला है, लेकिन माना जा रहा है कि पायलट ने अपनी प्रियंका से अपनी बात कह दी है।

पायलट आज दिल्ली भी जाने वाले हैं। दिल्ली में वे कांग्रेस के सीनियर लीडर्स से मिल सकते हैं। अब नजरें इस पर रहेंगी कि पायलट की प्रियंका से मुलाकात कब होती है। क्योंकि पिछली बार बगावत के बाद उन्हें मनाने में प्रियंका की ही अहम भूमिका रही थी। जाहिर है कि पायलट को लेकर अब कांग्रेस की चिंता इसलिए भी बढ़ गई होगी, क्योंकि दो दिन पहले ही राहुल गांधी के करीबी रहे जितिन प्रसाद बीजेपी में शामिल हो गए थे।

वहीं पायलट दिल्ली में कांग्रेस के राजस्थान प्रभारी अजय माकन और संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल से भी मुलाकात कर सकते हैं। ये दोनों ही नेता पायलट के मुद्दे को लेकर पिछले साल बनाई गई सुलह कमेटी में शामिल हैं। हालांकि इस कमेटी की रिपोर्ट 10 महीने बाद भी नहीं आई है और पायलट की नाराजगी की वजह भी यही है।

सचिन ने नाराजगी के बावजूद कांग्रेस में रहकर लड़ने के संकेत दिए
सचिन पायलट ने अशोक गहलोत सरकार से नाराजगी तो जाहिर की है, लेकिन यह संकेत भी दिए हैं कि ​वे कांग्रेस में रहकर ही संघर्ष करेंगे। राजनीतिक जानकारों का कहना है कि पायलट की मुख्य लड़ाई कांग्रेस से नहीं बल्कि अशोक गहलोत से है। इन दोनों के बीच सत्ता का संघर्ष आगे भी जारी रहेगा।

महंगाई के खिलाफ कांग्रेस के प्रदर्शन में पायलट शामिल
सचिन पायलट जयपुर में महंगाई के खिलाफ कांग्रेस के प्रदर्शन में हिस्सा ले रहे हैं। पायलट ने पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ लगातार अभियान चलाने की पैरवी की है। वे कांग्रेस के सभी कार्यक्रमों में लगातार हिस्सा ले रहे हैं। इसके पीछे लगातार सक्रिय रहने की रणनीति है।

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ सांगानेर के पेट्रोल पंप पर प्रदर्शन करते सचिन पायलट।

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ सांगानेर के पेट्रोल पंप पर प्रदर्शन करते सचिन पायलट।

विधायक हेमाराम चौधरी इस्तीफा देने के बाद पहली बार पायलट से मिले
अपने इलाके के विकास में भेदभाव समेत दूसरे मुद्दों पर नाराज होकर इस्तीफा देने वाले विधायक हेमाराम चौधरी गुरुवार रात जयपुर पहुंचे थे। शुक्रवार को उन्होंने सचिन पायलट से मुलाकात की है। हेमाराम चौधरी पायलट के समर्थक हैं और पिछले साल बाड़ेबंदी में उनके साथ ही थे। हेमाराम का कहना है, ‘मैं इस्तीफा दे चुका हूं। अध्यक्ष जब बुलाएंगे तब मैं उनके सामने पेश ​हो जाऊंगा। इस्तीफे पर फैसला अध्यक्ष को करना है।’

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *