राजस्थान में कोरोना की रफ्तार ने बढ़ाई चिंता: सरकार पहले फेज में हेल्थ प्रोटोकॉल पर जोर देगी, लोग नहीं माने तो फिर सख्ती; फिलहाल लॉकडाउन पर विचार नहीं


  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • The Government Will First Emphasize The Health Protocol In The Phase, If People Do Not Agree Then Strictly, No Lockdown Is Considered At Present

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जयपुर16 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

प्रदेश में कोरोना के लगातार बढ़ रहे मामलों के बाद सरकार ने लोगों से हेल्थ प्रोटोकॉल की पालना करने को कहा है। (फाइल फोटो)

  • चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने कहा- लोग मास्क लगाएं, भीड़ नहीं बढ़ाएं, नहीं तो मजबूरन सख्ती करनी होगी

राजस्थान में भी कोरोना के बढ़ते मामलों ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है। कोरोना की दूसरी लहर से निपटने के लिए राज्य सरकार ने पूरे प्रदेश में धारा-144 की मियाद एक महीने के लिए बढ़ा दी है। फिलहाल, सरकार ने चरणबद्ध रणनीति बनाई है। पहले फेज में लोगों को मास्क लगाने, भीड़ इकट्ठी नहीं करने के लिए समझाया जाएगा। पुलिस को मास्क और हेल्थ प्रोटोकॉल फॉलो कराने की जिम्मेदारी दी गई है। इसके बाद भी मामले बढ़ते हैं और लोग नहीं माने तो सेकंड फेज में सख्ती शुरू होगी, जिसमें नाइट कर्फ्यू से लेकर दूसरी सख्त पाबंदियां शामिल हैं।

चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने भास्कर से बातचीत में कहा कि अभी हमारा फोकस हेल्थ प्रोटोकॉल का पालन करवाने पर है। लोग लापरवाही बरत रहे हैं। मुख्यमंत्री ने सभी दलों के नेताओं, सामाजिक संगठनों समेत धर्मगुरुओं से कोरोना के बढ़ते मामलों पर चर्चा की है। हम पूरी तरह स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं। लोग नहीं माने तो सरकार को सख्ती करनी होगी। फिलहाल, रघु शर्मा ने लॉकडाउन की संभावना से इनकार किया है।

हर हफ्ते 29% की स्पीड से बढ़ रहे कोरोना केस
राजस्थान में लोगों की लापरवाही के कारण मार्च में कोरोना का ग्राफ तेजी से बढ़ा है। हर हफ्ते 29% की ग्रोथ रेट से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। इसी रफ्तार से मामले बढ़े तो मार्च के आखिरी तक पिछले साल मई जैसे हालात हो जाएंगे। यानी रोजाना कोरोना मरीजों का आंकड़ा 500 तक पहुंच जाएगा। प्रदेश में शुक्रवार को ही 445 नए मरीज सामने आए थे।

पढ़िए पूरी खबर… राजस्थान में हर हफ्ते 29% बढ़ रहा संक्रमण, यही रफ्तार रही तो मार्च खत्म होते-होते पिछले साल मई जैसे हालात बन जाएंगे

डॉक्टरों ने कहा- कोरोना की नई लहर पहले से ज्यादा खतरनाक, लापरवाही में बेकाबू हो सकते हैं हालात
जयपुर के सवाईमान सिंह मेडिकल अस्पताल के पूर्व अधीक्षक डॉक्टर वीरेन्द्र सिंह ने कहा कि कोरोना की नई लहर पहले से ज्यादा खतरनाक है, क्योंकि यह तेजी से फैल रहा है। हमें आने वाले तीन से चार सप्ताह बेहद सतर्क रहना होगा। मास्क पहने बिना बाजार में नहीं निकलना होगा। अगर अभी सतर्कता बरती तो हम इस लहर को कंट्रोल करने में कामयाब रहेंगे, वरना ये आज जो 400 से ज्यादा केस आए हैं। इसे 4 हजार तक पहुंचने में ज्यादा समय नहीं लगेगा।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *