रेप पीड़िता ने थाने में जन्मी बेटी: दुष्कर्म का केस दर्ज कराने आई युवती को लेबर पेन हुआ, नर्सिंग की ट्रेनिंग ले चुकी महिला कॉन्स्टेबल ने डिलीवरी कराई


  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • In Chhindwara, The Woman Constable Made Delivery, Seeing The Face Of Her Daughter, Said If I Marry, I Will Not Register A Case Of Rape

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

छिंदवाड़ा14 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

यह मामला मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा के लावाघोघरी थाने का है। मां और बेटी दोनों स्वस्थ हैं।

मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा में एक युवती अपने साथ हुए रेप का केस दर्ज कराने गुरुवार को थाने पहुंची। वह प्रेग्नेंट थी। अचानक उसे लेबर पेन शुरू हो गया। यह देख थाने में तैनात एक महिला कॉन्स्टेबल ने उसे संभाला और डिलीवरी कराई। युवती ने बेटी को जन्म दिया है। दोनों पूरी तरह स्वस्थ हैं। यह मामला लावाघोघरी थाने का है।

‘अगर वह शादी करेगा तो केस दर्ज नहीं कराऊंगी’
युवती और उसकी बेटी को जिला अस्पताल में एडमिट कराया गया है। उसकी डिलीवरी कराने वाली महिला कॉन्स्टेबल का नाम शीतल वाघमारे है। शीतल नर्सिंग का कोर्स करने के बाद पुलिस में भर्ती हो गई थीं। बेटी को जन्म देने के बाद युवती ने कहा कि अगर आरोपी उससे शादी कर ले तो उसके खिलाफ FIR दर्ज नहीं कराएगी। बताया जाता है कि आरोपी शादी करने के लिए तैयार है।

शादी का झांसा देकर किया था रेप
युवती ने बताया कि गांव का एक युवक शादी का झांसा देकर उसके साथ दुष्कर्म करता रहा। इस दौरान वह गर्भवती हो गई। युवती ने शादी की बात कही तो उसने इनकार कर दिया। इसके बाद पीड़िता मंगलवार को थाने में शिकायत करने पहुंची थी। युवती के साथ आए ग्रामीणों ने पुलिस पर FIR दर्ज न करने का आरोप लगाया। जनपद सदस्य धर्मराज कुमरे ने बताया कि वे लोग रेप की रिपोर्ट दर्ज कराने आए थे, लेकिन पुलिस ने रिपोर्ट नहीं लिखी।

वहीं, थाना प्रभारी राकेश भारती के मुताबिक, युवती शिकायत दर्ज कराने आई थी। इस पर आरोपी युवक से फोन पर बातचीत की गई। उसने दूसरे दिन आने की बात कही। इसके बाद वह एक केस के सिलसिले में बाहर चले गए। लौटकर आए तो युवती की डिलीवरी हो चुकी थी। थाने की कॉन्स्टेबल शीतल वाघमारे ने बताया कि उन्होंने पुलिस में आने से पहले नर्सिंग का कोर्स किया था। कोर्स के दौरान उन्होंने डिलीवरी कराने की ट्रेनिंग ली थी।

आरोपी के परिवार ने कहा- फैसला उसे लेना है
पीड़िता को देखने जिला अस्पताल आरोपी युवक के परिवार वाले भी पहुंचे। उन्होंने कहा कि शादी करना लड़के की मर्जी है। वह जैसा चाहे कर सकता है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *