लोक अदालत में हुआ अपने प्यार का अहसास: जोड़े ने 2 साल पहले लगाई तलाक की अर्जी, शनिवार को सुनवाई के दौरान पति-पत्नी की नजरें मिलीं तो फिर हुआ प्यार का अहसास, कोर्ट से एक साथ लौटे


  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Amritsar
  • Had Filed For Divorce Two Years Ago, Felt Love Again On The Dates, The Husband And Wife Who Came Separately In The Lok Adalat Returned Together

अमृतसर34 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

लोक अदालत में पति-पत्नी के साथ सेशन जज हरप्रीत कौर रंधावा, जज परमजीत कौर, पीएलवी डीवी गुप्ता और एडवोकेट मोनिका सोनी।

पंजाब के अमृतसर में तलाक लेने कोर्ट पहुंचे पति पत्नी लोक अदालत में दोबारा एक दूसरे के हमसफर बन गए। यह दोनों शनिवार को अदालत में तलाक का फरमान सुनने पहुंचे थे। लेकिन दोनों ने कोर्ट में ही एक दूसरे के साथ दोबारा रहने का मन बना लिया। दोनों ही जज परमजीत कौर की अदालत में पहुंचे थे। इस दौरान सेशन जज हरप्रीत कौर रंधावा ने भी जोड़े को भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी।

लोक अदालत में पहुंचे पुतलीघर निवासी अमनदीप सिंह और संदीप कौर को जब आवाज पड़ी, तो दोनों ही अलग-अलग कमरे में दाखिल हुए। सेशन जज व डिस्ट्रिक लीगल सर्विस अथॉरिटी की चेयरमैन हरप्रीत कौर रंधावा के अलावा जज परमजीत कौर, पीएलवी डीवी गुप्ता और एडवोकेट मोनिका सोनी भी मौजूद थीं। दोनों के साथ उनके एक बेटा व बेटी भी थे। जैसे ही दोनों को अपने विचार बताने के लिए कहा गया, तो दोनों ही एक दूसरे की तरफ देखना शुरू हो गए। दोनों ने उसी समय तलाक ना लेने और एक दूसरे के साथ दोबारा रहने का फैसला किया।

छोटी-छोटी बातों ने खराब किया था रिश्ता
अमनदीप और संदीप कौर ने बताया कि दोनों की शादी नवंबर 2010 में हुई थी। लेकिन छोटी-छोटी बातों पर विवाद इतना अधिक बढ़ गया कि दोनों ने 2 साल पहले एक दूसरे से अलग रहने का फैसला कर लिया। कोर्ट में भी तलाक की अर्जी दायर कर दी। दोनों को कोर्ट से तारीखें मिलने लगी। इस बीच दोनों के बच्चे, जो संदीप कौर के साथ रहते थे, भी कोर्ट आते थे। कोर्ट ने भी दोनों को समझाना शुरू किया। इन्हीं तारीखों के बीच दोनों को एक दूसरे से दोबारा प्यार हो गया। दोनों मिलने लगे और कोर्ट की तारीखें भी पड़ती गई। अंत में मामला लोक अदालत में पहुंच गया। दोनों शनिवार कोर्ट में पहुंचे। बेंच ने दोनों से उनकी राय पूछी तो दोनों ने ही एक दूसरे के साथ रहने की बात कह दी।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *