वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन ने छपवाया नया कुरान: वसीम रिजवी ने कुरान में दर्ज 26 आयतों को हटाया, इन आयतों को आतंकवाद को बढ़ावा देने वाला बताया था


लखनऊ17 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

वसीम रिजवी का कहना है कि इन कुरान की आयतों के कारण मुस्लिम समाज में आतंकी विचारधारा पैदा हो रही है। (फाइल फोटो)

  • नए कुरान की पहली कॉपी मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड को भेजेंगे

उत्तर प्रदेश शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी एक बार फिर चर्चा में आ गए हैं। वसीम ने अपना खुद का नया कुरान प्रकाशित करवाया है। इसमें कई बड़े बदलाव किए हैं। कुरान में दर्ज 26 आयातों को भी हटवा दिया है। इन आयातों को वसीम ने आतंकवाद को बढ़ावा देने वाला बताया था। वसीम रिजवी ने अपने नए कुरान की पहली कॉपी मुसलमानों कि सबसे बड़ी संस्था ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (AIMPLB) के अध्यक्ष मौलाना राबे हसनी नदवी को भेजने का फैसला लिया है।

PM मोदी को लिखी थी चिट्ठी
वसीम रिजवी ने पिछले ही दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखी थी। इसमें उन्होंने लिखा कि कुरान की 26 आयतों में अत्याचार, धार्मिक उन्माद फैलाने वाली बातों का जिक्र है। इसलिए उन्होंने नई कुरान लिखी है और प्रधानमंत्री को चिठ्ठी लिख मांग की है पुरानी को बैन करें। इसमें उन्होंने लिखा था कि मेरे द्वारा कुरान का अध्ययन किया गया। इसमें पाया गया कि कुरान-ए-मजीद में 26 आयत ऐसी हैं जो अल्लाह का कथन नहीं हो सकती। ये आयतें आतंकवाद, चरमपंथी और कट्टरपंथी मानसिकता को बढ़ावा देने वाली हैं। ये आपसी भाईचारा, इंसानों की भलाई के लिए खतरा है।

‘मुसलमानों में आतंकी विचारधारा बढ़ रही’
वसीम रिजवी का कहना है कि इन कुरान की आयतों के कारण मुस्लिम समाज में आतंकी विचारधारा पैदा हो रही है। पूरे विश्व में मुस्लिम आतंकवाद चरम सीमा पर है। गहन अध्ययन के बाद मेरे द्वारा पूर्व में लिखे गए व लिखवाए गए कुरान ए मजीद के सूरोह को सही क्रम में लगाया गया है और आतंकवाद को बढ़ावा देने वाली 26 आयतों को कुरान-ए-मजीद से हटा दिया गया है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *