वायुसेना की ताकत बढ़ेगी: अगले महीने तक 10 और राफेल फाइटर जेट भारत पहुंचेंगे; बॉर्डर पर निगरानी और काउंटर अटैक में मदद मिलेगी


  • Hindi News
  • National
  • Indian Air Force Latest News Update | Indian Air Force (IAF), 10 Rafales To Join Indian Air Force, 10 Rafales To Join IAF, IAF, Line Of Actual Control (LAC), Line Of Control (LoC), Pakistan Border, China Border, Border Tension

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली11 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

भारत ने फ्रांस के साथ 2016 में 58 हजार करोड़ रुपए में 36 राफेल जेट की डील की थी। इनमें 30 फाइटर जेट और 6 ट्रेनिंग एयरक्राफ्ट होंगे।

भारतीय वायुसेना (IAF) की ताकत और बढ़ने वाली है। अगले महीने के अंदर 10 और राफेल भारत पहुंचेंगे। इसी के वायुसेना के पास राफेल की संख्या बढ़कर 21 हो जाएगी। फिलहाल भारत के पास 11 राफेल लड़ाकू विमान हैं, जिसे अंबाला-बेस्ड 17 स्क्वॉड्रन उड़ा रहा है।

सरकार के सूत्रों के हवाले से न्यूज एजेंसी ने बताया कि भारत को अगले दो-तीन में 3 राफेल विमान मिल सकते हैं, जबकि अप्रैल के दूसरे हाफ में सात से आठ फाइटर जेट भारतीय वायुसेना की ताकत बढ़ा सकते हैं। इसके अलावा राफेल का ट्रेनर वर्जन भी भारत आएगा।

यह सभी फ्रांस से सीधे भारत आएंगे, जिन्हें बीच में मित्र देशों की मदद से एयर-टू-एयर रीफ्यूलिंग के जरिए यहां पहुंचाया जाएगा। इससे चीन और पाकिस्तान सीमा पर सेना की निगरानी मजबूत होगी और किसी भी तरह की साजिश के खिलाफ काउंटर अटैक भी आसान होगा।

राफेल की डील और भारत में डिलीवरी
भारत ने फ्रांस के साथ 2016 में 58 हजार करोड़ रुपए में 36 राफेल जेट की डील की थी। इनमें 30 फाइटर जेट और 6 ट्रेनिंग एयरक्राफ्ट होंगे। ट्रेनर जेट्स टू सीटर होंगे और इनमें भी फाइटर जेट जैसे सभी फीचर होंगे। भारत को जुलाई के आखिर में 5 राफेल फाइटर जेट्स का पहला बैच मिला। 27 जुलाई को 7 भारतीय पायलट्स ने राफेल लेकर फ्रांस से उड़ान भरी और 7,000 किमी का सफर तय कर 29 जुलाई को भारत पहुंचे थे।

नवंबर में दूसरा बैच आया था
इसके बाद 3 राफेल लड़ाकू विमानों का दूसरा बैच 4 नवंबर 2020 को आया था। इसके बाद तीसरे बैच के तहत 27 जनवरी को 3 राफेल लड़ाकू विमान भारत पहुंचे थे। इन जेट विमानों के साथ अब तक 11 राफेल विमानों को वायुसेना के बेड़े में शामिल कर लिया गया है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *