वैक्सीन पर दिल्ली सरकार फिक्रमंद: ​​​​​​​सिसोदिया बोले- भारत बायोटेक ने अतिरिक्त वैक्सीन देने से इनकार किया, 100 सेंटर बंद करने पड़े


  • Hindi News
  • National
  • Manish Sisodia: Delhi Coronavirus Latest Update | Deputy Chief Minister Manish Sisodia On Baharat Biotech Covaxin Doses

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली4 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

मनीष सिसोदिया ने कहा कि केंद्र को वैक्सीन का निर्यात बंद करना चाहिए। देश के दोनों वैक्सीन निर्माता का फॉर्मूला दूसरी कंपनियों के साथ शेयर किया जाना चाहिए ताकि बड़े पैमाने पर इसका प्रोडक्शन हो सके।

दिल्ली में ऑक्सीजन की समस्या सुलझती दिख रही है, पर अब वैक्सीन को लेकर यहां की सरकार लगातार फिक्रमंद दिख रही है। सीएम अरविंद केजरीवाल के बाद अब डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने वैक्सीन की कमी के चलते सेंटर्स बंद होने की बात कही है। सिसोदिया ने मंगलवार को कहा कि भारत बायोटेक ने दिल्ली के लिए अतिरिक्त वैक्सीन देने से इनकार कर दिया है। ऐसे में उन्होंने 100 वैक्सीनेशन सेंटर्स बंद करने को मजबूर होना पड़ रहा है।

सिसोदिया ने केंद्र पर आरोप लगाया, सलाह भी दी
सिसोदिया ने बताया कि भारत बायोटेक ने दिल्ली सरकार को एक चिट्ठी लिखी है। इसमें एक सरकारी अधिकारी की तरफ से जताई गई चिंता के बाद वैक्सीन उपलब्ध न होने की बात कही गई है। सिसोदिया ने कहा कि साफ है केंद्र सरकार वैक्सीन की सप्लाई पर नियंत्रण रख रही है।

उन्होंने कहा कि केंद्र को वैक्सीन का निर्यात बंद करना चाहिए। देश के दोनों वैक्सीन निर्माता का फॉर्मूला दूसरी कंपनियों के साथ शेयर किया जाना चाहिए ताकि बड़े पैमाने पर इसका प्रोडक्शन हो सके। उन्होंने केंद्र सरकार से अपील की कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में मौजूद को भारत में इस्तेमाल की मंजूरी दी जाए। सभी राज्यों को निर्देश दिया जाए कि हर एक को तीन महीने के भीतर वैक्सीन डोजेज दी जाएं।

केजरीवाल और स्वास्थ्यमंत्री भी उठा चुके वैक्सीन का मुद्दा

  • 10 मई को दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा था कि दिल्ली में कोवैक्सिन का केवल एक दिन का स्टॉक बचा है। कोवीशील्ड का स्टॉक केवल 3-4 दिन तक चलेगी। जैन ने केंद्र से जल्द से जल्द वैक्सीन उपलब्ध कराने की अपील की थी।
  • 4 मई को केजरीवाल ने कहा था कि दिल्ली में कुछ दिन की वैक्सीन ​बची है और ये समस्या देशव्यापी है। आज केवल दो कंपनियां वैक्सीन बना रही हैं और दोनों मिलकर महीने में केवल 6-7 करोड़ वैक्सीन बनाती हैं। इस तरह तो देश के हर व्यक्ति को वैक्सीन लगाने में हमें दो साल से ज्यादा लग जाएंगे। जब तक हर भारतीय को वैक्सीन नहीं लगती ये जंग नहीं जीती जा सकती। उन्होंने कहा था कि वैक्सीन बनाने का काम केवल दो कंपनियां ना करें, कई कंपनियों को वैक्सीन बनाने में लगाया जाए।

बीते दिन 12,481 लोग कोरोना पॉजिटिव आए
दिल्ली में मंगलवार को 12,481 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। 13,583 लोग ठीक हुए और 347 की मौत हो गई। अब तक 13.48 लाख लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 12.44 लाख लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 20,010 मरीजों की मौत हो चुकी है। यहां 83,809 का इलाज चल रहा है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *