संसद का बजट सत्र: राज्यसभा में स्वपन दासगुप्ता की सदस्यता रद्द करने का प्रस्ताव लाएगी TMC; भाजपा ने बंगाल चुनाव के लिए बनाया है उम्मीदवार


  • Hindi News
  • National
  • Mahua Moitra Swapan Dashgupta; Parliament Budget Session LIVE Updates; Kisan Andolan | Rajya Sabha Lok Sabha Latest News | Mahua Moitra Swapan Dashgupta West Bengal Assembly Election Kisan Andolan Petrol Diesel Price Hike

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा ने बंगाल की राजनीति के बड़े चेहरे स्वपन दासगुप्ता को हुगली की तारकेश्वर विधानसभा सीट से टिकट दिया है, जिसका TMC विरोध कर रही है।

पश्चिम बंगाल का सियासी घमासान अब संसद पहुंच गया है। तृणमूल कांग्रेस मंगलवार को राज्यसभा में सांसद स्वपन दासगुप्ता की सदस्यता रद्द करने का प्रस्ताव ला सकती है। तृणमूल कांग्रेस का कहना है कि दासगुप्ता मनोनीत सांसद हैं। ऐसे में उनका भाजपा की ओर से चुनाव लड़ना संविधान के खिलाफ है। दरअसल, बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा ने बंगाल की राजनीति के बड़े चेहरे दासगुप्ता को हुगली की तारकेश्वर विधानसभा सीट से टिकट दिया है, जिसका TMC विरोध कर रही है।

महुआ मोइत्रा ने उठाया मुद्दा
भारत के संविधान की 10वीं अनुसूची के प्रावधानों का हवाला देते हुए TMC सांसद महुआ मोइत्रा ने बंगाल चुनाव में उनकी उम्मीदवारी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए कहा कि दासगुप्ता पश्चिम बंगाल चुनावों के लिए भाजपा के उम्मीदवार हैं, जबकि संविधान की 10वीं अनुसूची कहती है कि यदि कोई राज्यसभा का मनोनीत सांसद शपथ लेने और उसके 6 महीने की अवधि खत्म होने के बाद अगर किसी भी राजनीतिक पार्टी में शामिल होता है, तो उसे राज्यसभा की सदस्यता के लिए अयोग्य घोषित कर दिया जाएगा। उन्हें अप्रैल 2016 में शपथ दिलाई गई थी। अब उन्हें भाजपा में शामिल होने के लिए अयोग्य घोषित किया जाना चाहिए।

सोमवार को विदेश मंत्री ने दिया जवाब
इससे पहले राज्यसभा में सोमवार को विदेश मंत्री एस जयशंकर ने ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में नस्लवाद के मुद्दे पर जवाब दिया था। उन्होंने कहा था कि हम इन घटनाओं पर बारीकी से नजर रख रहे हैं। महात्मा गांधी की धरती से होने के कारण हम नस्लवाद से आंखें नहीं फेर सकते हैं। खासतौर पर उस देश में जहां, भारतीय प्रवासी बड़ी तादाद में रहते हैं। UK के साथ हमारे रिश्ते मजबूत हैं, लेकिन जरूरत पड़ी तो हम ऐसे मामलों को उनके सामने उठाएंगे।

भारतीय मूल की लड़की को नस्लवादी बताया था
दरअसल, ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी स्टूडेंट यूनियन की पहली भारतीय मूल की अध्यक्ष रश्मि सामंत को पद से इस्तीफा देना पड़ा था। रश्मि के अध्यक्ष बनने के बाद उनकी एक पुरानी सोशल मीडिया पोस्ट वायरल हो गई थी। उस पोस्ट को आधार बनाकर रश्मी को नस्लवादी और असंवेदनशील बताया गया था और दबाव बढ़ने के बाद उन्होंने पद छोड़ दिया था।

8 अप्रैल तक चलेगा सेशन
यह सेशन 8 अप्रैल तक चलेगा। दोनों सदनों की कार्यवाही सुबह 11 से शाम 6 बजे तक चल रही है। इस दौरान राज्यसभा के सदस्य राज्यसभा और गैलेरी में ही बैठेंगे। इसके अलावा लोकसभा की कार्यवाही भी पहले की तरह ही चलेगी। कोरोना की वजह से दोनों सदनों को दो शिफ्ट में चलाया जा रहा था।

पहले चरण में 99.5% काम हुआ था
बजट सत्र के पहले चरण के दौरान लोकसभा में 99.5% काम हुआ था। इस दौरान, लोकसभा कार्यवाही 50 घंटे की जगह 49.17 मिनट चली। राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा 16.39 घंटे तक चली। बजट पर चर्चा के लिए 10 घंटे तय थे, लेकिन सदन में बहस 14 घंटे तक हुई।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *