साप्ताहिक समीक्षा बैठक: सफाईकर्मी को वेतन नहीं मिलने पर कलेक्टर देवड़ा ने जताई नाराजगी


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

उदयपुर4 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

कलेक्टर चेतन देवड़ा ने समीक्षा बैठक में योजनाओं की प्रगति जानी।

  • दोषी वार्डन पर कार्यवाही के निर्देश

पिछले दिनों से शुरू हुई साप्ताहिक समीक्षा बैठकों के सिलसिले में सोमवार को कलेक्टर चेतन देवड़ा एक्शन मोड में दिखे। कलेक्टर ने जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग के छात्रावास में संविदा पर कार्यरत एक सफाई कर्मचारी को आठ माह से वेतन नहीं मिलने पर नाराजगी दिखाई और दोषी हॉस्टल वार्डन के खिलाफ सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए। उन्होंने टीएडी के अधिकारी से कारण पूछते हुए कहा कि यदि आपका दो माह का वेतन रोक दिया जाए, तो आप क्या करेंगे?

इस पर संबंधित अधिकारी ने एक सप्ताह के अंदर सफाई कर्मचारी का बकाया वेतन दिलवाने का भरोसा दिलाया। जनजाति क्षेत्र विकास के सलूम्बर उपखंड के आश्रम छात्रावास रठौड़ा में संविदा पर कार्यरत एक सफाई कर्मचारी ने राजस्थान संपर्क पोर्टल पर शिकायत दर्ज कराई थी कि उसे आठ माह से वेतन नहीं मिला है। राजस्थान पोर्टल पर शिकायत दर्ज होने के बाद भी सफाई कर्मचारी को वेतन नहीं मिला।

सोमवार को साप्ताहिक समीक्षा बैठक में कलेक्टर के समक्ष यह प्रकरण आया तो उन्होंने टीएडी के अधिकारी से इसका कारण पूछा और संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर हॉस्टल के वार्डन के खिलाफ उचित कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्हाेंने कहा कि सरकारी योजनाओं का धरातल पर क्रियान्वयन और आम जनता की समस्याओं का गुणवत्तापूर्वक समाधान करने से प्रशासन की संवेदनशीलता का परिचय मिलता है।

योजनाओं के क्रियान्वयन में कोरोना का बहाना अब नहीं चलेगा
देवड़ा ने कहा कि कोरोना की वजह से देश-दुनिया के सभी क्षेत्र प्रभावित हुए हैं, लेकिन जनता की सेवा और राज्य सरकार की लोक कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन में लेटलतीफी पर कोरोना का बहाना अब नहीं चलेगा। इसके साथ ही कलक्टर देवड़ा ने पुलिस, परिवहन, खान विभाग, रीको, उद्योग, प्रदूषण सहित विभिन्न विभागों की प्र्रगति रिपोर्ट की समीक्षा की और अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *