सेना के युद्धाभ्यास के दौरान बड़ा हादसा: रात 3 बजे सेना की जिप्सी में लगी आग, 3 जवानों की जिंदा जलकर मौत, 5 गंभीर; ग्रामीणों ने पानी डालकर आग बुझाई


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

श्रीगंगानगर/बीकानेर33 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

हादसे में सेना के तीन जवानों की जिंदा जलकर मौत हो गई।

भारत-पाक सीमा से सटे सीमांत क्षेत्र में बुधवार-गुरुवार की दरमियानी रात युद्धाभ्यास के दौरान बड़ा हादसा हो गया। इसमें सेना के तीन जवानों की जिंदा जलकर मौत हो गई। वहीं, 5 जवान गंभीर तौर पर घायल हुए हैं। मृतकों में एक सूबेदार और दो जवान शामिल हैं। हादसा श्रीगंगानगर जिले के छत्तरगढ़ के पास हुआ है।

हालांकि, हादसा कैसे हुआ यह अभी तक सेना ने नहीं बताया है। शुरुआती खबर आई थी कि जिप्सी के नहर में पलटने से आग लग गई। अगर ऐसा होता तो पानी से आग बुझ जाती। माना जा रहा है कि जिप्सी में युद्धाभ्यास के लिए बारूद या कुछ अन्य ज्वलनशील पदार्थ साथ में थे, जिससे आग लगी है। इसी कारण जवानों को संभलने का मौका नहीं मिला है।

इस तरह जल गई सेना की जिप्सी, जिसमें 8 जवान सवार होकर युद्धाभ्यास कर रहे थे।

इस तरह जल गई सेना की जिप्सी, जिसमें 8 जवान सवार होकर युद्धाभ्यास कर रहे थे।

सेना ने अब तक मृतक जवानों के नाम भी सार्वजनिक नहीं किए हैं। हादसे के बाद सेना के आला अधिकारी हरकत में आए। घायल जवानों को सूरतगढ़ के आर्मी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जिन तीन जवानों की मौत हुई है। उनके परिजनों को सूचना दी गई है।

सेना के प्रवक्ता अमिताभ शर्मा ने दैनिक भास्कर को बताया कि हादसा रात करीब दो से तीन बजे के बीच हुआ है। युद्धाभ्यास के तहत जवानों का एक वाहन सूरतगढ़-छत्तरगढ़ रोड पर इंदिरा गांधी नहर की आरडी 330 के पास था। तभी ये हादसा हुआ। इसमें तीन जवानों की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि पांच अन्य घायल हो गए। उन्होंने बताया कि यह रुटीन युद्धाभ्यास था, जिसके तहत जवानों को अलग-अलग टास्क दिए जाते हैं। इसी टास्क को पूरा करते समय यह हादसा हुआ है। सेना के ये जवान बठिंडा की 47-AD यूनिट के बताए जा रहे हैं। ये सभी जवान युद्धाभ्यास के लिए सूरतगढ़ आए हुए थे।

ग्रामीणों ने आग बुझाई
हादसे का पता चलते ही आसपास के ग्रामीण सबसे पहले घटनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने ही सबसे पहले आग पर पानी डालकर बुझाया। लेकिन तब तक 3 जवान जिंदा जल चुके थे। ग्रामीणों की सूचना पर राजियासर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और 5 गंभीर घायल जवानों को अस्पताल ले जाया गया। वहीं, तीन मृत जवानों के पार्थिव शवों को सूरतगढ़ अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया है।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *