हनीट्रैप में आर्मीमैन: पाकिस्तानी महिला एजेंट न्यूड होकर वीडियो कॉल पर बात करती थी, जवान उसे सेना की खुफिया जानकारी देता था


  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Sikar
  • Seeing The Youth Of Sikar, Giving Friendship To Pakistani Women On Social Media Was Deceiving The Country, Was Caught Sharing Secret Information Of The Indian Army.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सीकर3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

आकाश सितंबर 2018 को सेना में भर्ती हुआ था। उसने जनवरी 2019 में अपनी ट्रेनिंग पूरी कर ली थी। जुलाई में पाकिस्तानी महिला एजेंट्स की रिक्वेस्ट आने पर फेसबुक आईडी पर उससे जुड़ गया।

राजस्थान के सीकर का रहने वाला सेना का एक जवान आर्मी की खुफिया जानकारी पाकिस्तानी महिला एजेंट को देने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। महिला एजेंट ने उसे हनीट्रैप किया था। वह उससे वीडियो कॉल पर न्यूड होकर अश्लील बातें करती थी। छुट्टियों पर गांव आए जवान ने जब पाकिस्तानी एजेंट्स से बात की तो वह इंटेलिजेंस की रडार पर आ गया। उस पर नजर रखी जाने लगी। आखिरकार इंटेलिजेंस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

छुट्‌टी पर गांव आया था जवान
एसपी शांतनु सिंह ने बताया कि पकड़ा गया जवान सीकर के लक्ष्मणगढ़ स्थित यालसर गांव का रहने वाला है। उसका नाम आकाश महरिया (22) है। इंटेलिजेंस ने उसे फतेहपुर से पकड़ा है। वह 17 फरवरी को एक महीने की छुट्टी लेकर गांव आया था। वह फर्जी नाम से बनी एक फेसबुक आईडी से जुड़ा हुआ था जो असल में पाकिस्तानी महिला जासूस की थी।

फेसबुक पर दोस्ती हुई, फिर वॉट्सऐप बात होने लगी
आकाश की पाकिस्तानी एजेंट से फेसबुक पर दोस्ती हुई थी। फिर वह महिला एजेंट से वॉट्सऐप पर चैटिंग करने लगा। सूत्रों ने बताया कि महिला जवान से मुलाकात करने का झांसा देती थी। वह उसकी बटालियन और आर्मी की जानकारी जुटाती थी। इंटेलिजेंस पहले से ही ऐसे लोगों पर नजर रखे हुए था। जब सीकर जिले में किसी नंबर पर पाकिस्तान से कॉल आने का पता चला तो इस मामले का खुलासा हुआ।

जवान सितंबर 2018 को सेना में भर्ती हुआ था
एसपी ने बताया कि फतेहपुर में आकाश महरिया शिवरात्रि मेले में गया हुआ था। तभी पुलिस ने उसे हिरासत में लिया। मोबाइल की जांच की तो पाकिस्तानी एजेंट से चैटिंग देखकर खुफिया एजेंसी के अफसर हैरान रह गए। आकाश सितंबर 2018 को सेना में भर्ती हुआ था। उसने जनवरी 2019 में अपनी ट्रेनिंग पूरी कर ली थी। जुलाई में पाकिस्तानी महिला एजेंट्स की रिक्वेस्ट आने पर फेसबुक आईडी पर उससे जुड़ गया।

कोर्ट में पेश कर मांगा 5 दिन का रिमांड
पूछताछ में आकाश ने बताया कि वह सोशल मीडिया के जरिए कुछ महिलाओं से जुड़ा है, लेकिन उसे यह नहीं पता कि वह पाकिस्तानी एजेंट्स हैं। उसने यह भी कबूला कि बातचीत के दौरान सेना से संबंधित कुछ सूचनाएं दी हैं। इंटेलिजेंस ने उसका मोबाइल जब्त कर लिया है। वहीं उसे कोर्ट में पेश कर 5 दिन का रिमांड मांगा गया है।

बैंक अकाउंट की जानकारी जुटा रहे
आकाश के बैंक अकाउंट की जानकारी भी जुटाई जा रही है। माना जा रहा है कि सेना की सूचना देने के बदले उसे कुछ रुपए भी मिलते थे। क्या और कैसी जानकारी अब तक दे चुका है इस बारे में खुफिया एजेंसियां आकाश से पूछताछ कर रही हैं। फिलहाल, पुलिस ने यह नहीं बताया कि आकाश की तैनाती कहां थी।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *