हरियाणा में ऑनर किलिंग: डेढ़ महीने पहले की कोर्ट मैरिज, रसूख के दम पर सब इंस्पेक्टर बेटी को लाया घर; हत्या कर जलाया शव


  • Hindi News
  • Local
  • Delhi ncr
  • Faridabad
  • Court Marriage Of One And A Half Months, Brought Home To Sub Inspector Daughter On The Basis Of Rasukh, Murdered And Burnt The Dead Body; Arrest

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

फरीदाबाद42 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

19 फरवरी को लड़की के पिता ने रिंग सेरेमनी कर 15 मार्च को शादी करने का वादा किया था। लेकिन वह इस शादी से खुश नहीं थे।

  • जीआरपी में तैनात सब इंस्पेक्टर को बेटी का प्यार लगा नागवार
  • बेटी की शादी अरेंज मैरिज से कराने का झांसा देकर अपने घर ले आया था

फरीदाबाद में दिल दलहा देने वाली घटना सामने आई है। यहां जीआरपी में तैनात एक सब इंस्पेक्टर को अपनी बेटी का प्यार इतना नागवार गुजरा कि उसने अपने भाई के साथ मिलकर बेटी को मौत के घाट उतार दिया और उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया। करीब डेढ़ महीने पहले ही बेटी ने कोर्ट मैरिज की थी। बेटी को अरेंज मैरिज कराने का झांसा देकर अपने घर ले आया था।

पति की शिकायत पर सिटी थाना पुलिस ने जीआरपी सब इंस्पेक्टर और उसके पुलिस कर्मी भाई के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर देर शाम दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी जीआरपी बल्लभगढ़ में चौकी इंचार्ज के पद पर कार्यरत है। जबकि उसका भाई शिवकुमार ओल्ड थाने में तैनात है। एसीपी जयवीर राठी का कहना है कि पुलिस ने पति की शिकायत पर हत्या का केस दर्ज किया है। पूरी घटना की जांच की जा रही है। जो साक्ष्य सामने आएंगे उसी अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

सागर के पिता उमेद ने बताया कि 19 फरवरी को हुई रिंग सेरेमनी

सागर के पिता उमेद सिंह ने बताया कि 19 फरवरी को लड़की के पिता सोहनपाल ने रिंग सेरेमनी कर 15 मार्च को शादी करने का वादा किया था। लेकिन वह इस शादी से खुश नहीं थे। वह बेटी की शादी कहीं और करना चाहते थे। इसके लिए कोमल पर लगातार दबाव बनाया जा रहा था। 15 मार्च के पहले उमेद सिंह ने जब शादी करने के बारे में पूछा तो सोहनपाल ने अपनी किसी रिश्तेदार की मौत होने का बहाना बनाकर समय मांग लिया। 16 मार्च को कोमल ने अपने पति सागर को मैसेज कर बताया कि उसके पापा सोहनपाल और चाचा शिवकुमार कमरे की लाइट बंद कर कुछ बात कर रहे हैं। मुझे डर लग रहा है। घटना के वक्त लड़की की मां और भाई नहीं थे। दो दिन बाद 17 मार्च को सागर के पास कोमल के मरने की खबर आई।

यह है पूरा मामला?

बल्लभगढ़ की मुकेश कॉलोनी निवासी सागर यादव एक निजी कंपनी में नौकरी करते हैं। वह अपने साथ पढ़ने वाली सेक्टर-दो निवासी कोमल पुत्री सोहनपाल से प्यार करते थे। कोमल भी सागर से प्यार करती थी। लड़की के पिता सोहनपाल जीआरपी में सब इंस्पेक्टर हैं। वर्तमान में वह बल्लभगढ़ जीआरपी चौकी इंचार्ज हैं। कोमल वाईएमसीए में एमटेक फाइनल ईयर में पढ़ रही थी।

सागर के मुताबिक कोमल के घर वाले शादी के लिए तैयार नहीं थे। ऐसे में सागर और कोमल ने आठ फरवरी 2021 को कोर्ट मैरिज कर प्रोटेक्शन की मांग की। कोर्ट ने तीन दिन का प्रोटेक्शन दे दिया। 11 फरवरी को फिर दोनों कोर्ट में पेश हुए। उस दौरान कोमल के पिता सोहनपाल ने दोनों की अरेंज मैरिज का वादा कर बेटी को घर ले गए।

आरोपी जीआरपी सब इंस्पेक्टर सोहनपाल

आरोपी जीआरपी सब इंस्पेक्टर सोहनपाल

पुलिस को सूचना दिए बगैर जला दिया शव

सूत्रों का कहना है कि सब इंस्पेक्टर ने बेटी द्वारा आत्महत्या करने की बात कहकर बगैर पुलिस को सूचना दिए और पोस्टमार्टम कराए शव को अपने गांव पृथला के सहराना में ले जाकर अंतिम संस्कार कर दिया। सूत्रों ने बताया कि आरोपी सोहनपाल ने अपने जीआरपी थाने में बेटी के आत्महत्या करने की बात बताई थी। सूचना मिलने पर जब सागर के पिता और मां सेक्टर दो कोमल के घर पहुंचे तो वहां ताला लगा मिला।

5 साल पहले दोनों की हुई थी मुलाकात

सागर के पिता ने बताया कि उनके बेटे सागर और सोहनपाल की बेटी कोमल पांच साल पहले एक निजी इंस्टीट्यूट में पढ़ते थे। दोनों ने एक साथ बीटेक की पढ़ाई की। बाद में सागर नौकरी करने लगा और कोमल वाईएमसीए से एमटेक कर रही थी। कोमल के पति सागर का कहना है कि दोनों ने आर्य समाज मंदिर में धार्मिक रीति रिवाज के साथ शादी की थी।

उनका आरोप है कि जीआरपी सब इंस्पेक्टर सोहनपाल और कोमल के चाचा शिवकुमार ने उनकी पत्नी की हत्या की है। कोमल आत्महत्या नहीं कर सकती थी। सागर की शिकायत पर सिटी थाना पुलिस ने सोहनपाल और शिवकुमार के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर लिया है। थाना प्रभारी सुदीप सिंह ने बताया कि आरोपी सोहनपाल और शिवकुमार को गिरफ्तार कर लिया गया है। दोनों को शनिवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *