हाथियों की दहशत: छत्तीसगढ़ के कांकेर में हाथी से बचने 300 ग्रामीण जेल में बंद; महिलाएं-बच्चे सोते हैं, तो पुरुष पहरा देते हैं


कांकेर/भानुप्रतापपुरएक मिनट पहलेलेखक: सुमंत सिन्हा

  • कॉपी लिंक

कांकेर के पिच्चकेट्‌टा गांव में हाथियों की दहशत के कारण 300 गांव वालों को नए बन रहे जेल में रात बितानी पड़ रही है। हाथियों का दल गांव के भालूपारा में जब पहुंचा, तो मकानों में तोड़फोड़ शुरू कर दी। दरअसल, गांव वाले महुआ बिनकर रखते हैं और हाथी इनकी लालच में गांव वालों के घरों में घुस रहे हैं।

दो दिन पहले तक तो ग्रामीण स्कूल में पनाह ले रहे थे, लेकिन खतरा यहां भी टला नहीं था। लिहाजा रानवाही की पहाड़ी में ठहरे हुए हाथियों के दल से बचने के लिए निर्माणाधीन जेल में सहारा लेना पड़ा। हाथियों का दो दल यहां ‌उत्पात मचा रहा है। इनमें 12 से 14 हाथी शामिल हैं। ग्रामीण अपना राशन, कपड़ा, बिछौना, ओढ़ने के लिए चद्दर इत्यादि लेकर अपने घर से दूर हैं।

खबरें और भी हैं…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *