हादसों को न्योता: अंडरग्राउंड केबल बिछाने के लिए पक्की सड़क खोदकर भर रहे मिट्‌टी, यह गड्‌ढे खुलेआम हादसों को न्योता दे रहे


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रांची4 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • झेल रही जनता… संकरी हुईं सड़कें, बारिश हाेते ही गड्‌ढों में फंस रहे वाहन, पैदल यात्री भी परेशान
  • नियम… एक बार में एक ही सड़क पर करना है काम, गड्‌ढे भरने के बाद खोद सकेंगे दूसरी सड़क खोदें

राजधानी के कई इलाकों में बिजली के हाई वोल्टेज तारों को अंडरग्राउंड (यूजी) करने का काम चल रहा है। निर्बाध बिजली आपूर्ति के लिए यह जरूरी है। पर अंडरग्राउंड केबलिंग करने वाली एजेंसी मेसर्स केइआई गड्‌ढों को भरकर पक्की सड़क बनाने की बजाय मिट्‌टी भर कर छोड़ रही है। यह गड्‌ढे खुलेआम हादसों को न्योता दे रहे हैं। सोमवार को शहर के विभिन्न इलाकों में चल रहे यूजी केबल काम का दैनिक भास्कर की टीम ने पड़ताल की। मालूम हुआ कि कहीं एक सप्ताह, तो कहीं एक माह पहले किए गए गड्‌ढे को मिट्‌टी भर कर छोड़ दिया गया है।

जबकि, पथ निर्माण विभाग की एनओसी में स्पष्ट है कि सड़क जैसी थी, काम खत्म करने के बाद वैसी ही बनानी है। झारखंड शहरी संपूर्ण विद्युत अच्छादन योजना के तहत मेसर्स केइआई 364.28 करोड़ रुपए में 350 किमी तार अंडरग्राउंड करने का काम कर रही है। विभाग के अनुसार करीब 80 प्रतिशत काम हो चुका है। फिलहाल हरमू, सहजानंद चौक, अपर बाजार, बहु बाजार, चुटिया, मिशन चौक व पुरुलिया रोड में यूजी केबलिंग का काम हो रहा है।

कंपनी की दलील

गड्‌ढों को मिट्टी से भरकर इसलिए छाेड़ते हैं, ताकि टेस्टिंग में गड़बड़ी मिलने पर मिट्टी हटाकर आसानी से ठीक कर सकें

बहू बाजार...सिर्फ मिट्‌टी से ढंका गड्‌ढा

बहू बाजार…सिर्फ मिट्‌टी से ढंका गड्‌ढा

विभाग ने कहा

गड्‌ढों काे भरने की जिम्मेवारी एजेंसी की है, अगर मुख्य सड़क पर तीन दिन से अधिक गड्‌ढा रहा ताे करेंगे कार्रवाई

हरमू रोड...गड्‌ढे के ऊपर सीमेंट लगाता मजदूर

हरमू रोड…गड्‌ढे के ऊपर सीमेंट लगाता मजदूर

बालू या पत्थर से सोलिंग करने के बाद बनानी है सड़क

यूजी केबलिंग के दौरान सुरक्षा नियमों की अनदेखी की जा रही है। पथ निर्माण विभाग के अनुसार सड़क के गड्‌ढे भरने के लिए स्टोन डस्ट, बालू या पत्थर से सोलिंग करने के बाद ही रीस्टोरेशन करना है। मगर एजेंसी सीधा मिट्टी डालकर ही गड्ढे भर रही है।

बिजली विभाग- 7 दिन में ठीक नहीं किया तो रुकेगा भुगतान

एजेंसी को एक साथ कई सड़क पर गड्ढा खोदने नहीं कहा गया है। काम के बाद गड्ढे को सात दिनों में नहीं बनाया, तो एजेंसी पर कार्रवाई होगी। जो भी गड्‌ढे किए जाएंगे, उसे एजेंसी को ही भरना है। सड़क का पक्कीकरण करना है। ऐसा नहीं करने पर भुगतान नहीं होगा। अगर किसी सड़क पर गड्‌ढा है जानकारी दें।
-पीके श्रीवास्तव, जीएम रांची

रोड डिवीजन- प्रमुख सड़क पर गड्‌ढे हैं तो फौरन सूचना दें

अंडरग्राउंड बिजली केबल बिछाने के लिए एनओसी दी गई है। इस शर्त के साथ कि काम होने के बाद वैसे ही सड़क बनानी है। मगर कंपनी जैसे-तैसे गड्‌ढा भरकर छोड़ रही है। इसको लेकर विभाग को पत्र भी लिखा गया है। अगर किसी भी प्रमुख सड़क पर गड्‌ढा है तो इसकी सूचना दें। फौरन मरम्मत कराई जाएगी।
-रामबदन सिंह, ईई ,पथ प्रमंडल, रांची

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *